Jamshedpur : जमशेदपुर उपायुक्त समेत अन्य अधिकारी पोटका में सबर जनजाति के लोगों के बीच, खुशियां बांटी, साथ भोजन किया, सामाजिक संस्था ह्यूमन वेलफेयर ट्रस्ट के सहयोग से गर्म कपड़े और बच्चों के बीच पाठ्य सामग्री का वितरण

राशिफल

जमशेदपुर : जमशेदपुर की सामाजिक संस्था ह्यूमन वेलफेयर ट्रस्ट की ओर से रविवार को पोटका प्रखंड के एक गांव में सबर जनजाति के लोगों के बीच खुशियां बांटी गयी। इस दौरान उनके बीच कंबल, गर्म कपड़े आदि का वितरण किया गया। इस दौरान मुख्य अतिथि के रूप में जिले की उपायुक्त विजया जाधव, एडीएम लॉ एंड आर्डर नंद किशोर लाल, डीडीसी सौरव कुमार, एसडीएम पीयूष सिन्हा एवं ह्यूमन वेलफेयर ट्रस्ट के सदस्य उपस्थित थे। (नीचे भी पढ़ें)

पोटका के इस छोटे से गांव में सबर जनजाति के लोग रहते हैं, कुल आबादी मात्र 98 है। इसमें आधी जनसंख्या महिला और आधी पुरुषों की है। गांव में कुल 18 बच्चे हैं जिनकी उम्र शून्य से 7 वर्ष के बीच और 17 युवतियां हैं। यहां के लोग बड़े सीधे-साधे हैं। इनका रहन-सहन भी बड़ा सरल है। इनके बीच जीवन के अनमोल क्षणों को साझा करते हुए ह्यूमन वेलफेयर ट्रस्ट के सदस्यों ने वृद्धों को कंबल, महिलाओं को शॉल, बच्चों को खिलौना, स्वेटर और कॉपी-किताब बांटा। साथ ही इनके बीच दोपहर का भोजन भी वितरित किया। कार्यक्रम को सफल बनाने में ट्रस्ट के सरपरस्त सैयद आसिफ अख्तर, शाहिद परवेज, करीम सिटी कॉलेज मास कम्युनिकेशन के साजिद, अफताब आलम, मोहम्मद एजाज़ अंसारी की सराहनीय भूमिका रही। (नीचे भी पढ़ें)

आज के दिन को खास बनाने के लिए संस्था के सदस्यों ने इन लोगों के साथ दोपहर का भोजन भी किया। संस्था के अध्यक्ष मतिनुल हक अंसारी ने बताया कि आज के दिन को उनलोगों ने खूब सेलिब्रेट किया है। साथ ही शहर की चकाचौंध से दूर शांत और साधारण जीवन शैली का भरपूर आनन्द लिया है। सचिव मुख्तार आलम खान ने कहा कि वर्ष की बेहतरीन पिकनिक भी मनायी है। वास्तविक रूप से जीवन-यापन करने का अपना अलग ही मजा है। दोपहर का भोजन इनको खिलाना और इन लोगों के साथ में खुशियों को बांटकर हमने जीवन की सच्ची खुशी प्राप्त की है। (नीचे भी पढ़ें)

बता दें कि एडीएम लॉ एंड ऑर्डर जमशेदपुर नंद लाल किशोर जी के निगरानी और सहयोग से आज का कार्यक्रम सम्पन्न किया गया है। इस सम्बंध में संस्था के अध्यक्ष ने बताया कि संस्था ने एडीएम लॉ एंड ऑर्डर जमशेदपुर नंद लाल किशोर जी के साथ पहले भी बहुत सारे सामाजिक कार्य किए जा चुके हैं। उनका सहयोग हमसभी को एक नई ऊर्जा प्रदान करता है। चाहे बहरागोड़ा में जवान को श्रद्धांजलि देना हो या कोरोना काल में कोरोना वरियर के रूप में। कार्यक्रम में मुख्य रूप से मो. इजाज, मो. शमीम, अफताब आलम, अनिल मंडल,अयूब अली, मासूम खान, हाजी सिद्दीक अली एवं हाजी अयूब अली उपस्थित थे।

Must Read

Related Articles