jamshedpur-manpreet-murder-case- मनप्रीत पाल को गोलियों के साथ साथ हमलावरों ने पेट में आठ बार चाकू गोदा, मां के बाल भी खींचे, सिटी एसपी के सामने पुलिस प्रशासन मुर्दाबाद के नारे लगाए, घटना से आक्रोशित सिख समाज बोला मुख्यमंत्री जब तक नहीं आएंगे तब तक शव नहीं उठाएंगे, देखें Video

राशिफल


जमशेदपुर:सिदगोड़ा थाना इलाके के शिव सिंह बगान के पास गुरुवार की शाम बेखौफ हमलावरों ने पुरानी रंजिश को लेकर मनप्रीत पाल सिंह (22) की हत्या किए जाने के बाद सिख समाज के लोग सड़क पर उतर गए हैं.टीएमएच में मृतक का शव रखे जाने के बाद सिख समाज के लोग मृतक के शिव सिंह बगान स्थित आवास में जुटने शुरु हो गये. यहां पूर्व से ही सिटी एसपी के विजय शंकर पुलिस टीम के साथ आसपास के सीसीटीवी को देखते हुए उसे कलेक्ट कर रहे थे. तभी घटना से आक्रोशित परिजनों व सिख समाज के लोगों ने उनकी मौजूदगी में पुलिस प्रशासन मुर्दाबाद के नारे लगाने शुरु कर दिए. सिटी एसपी की गाड़ी को भी घेर लिया.(नीचे भी पढ़े)

यहां मुख्य रुप से प्रदेश गुरुद्वारा कमेटी के प्रधान सरदार शैलेंद्र सिंह, सेंट्रल गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के प्रधान गुरमुख सिंह मुखे,झारखंड सिख प्रतिनिध बोर्ड के प्रमुख गुरमुख सिंह बिल्ला,झारखंड सिख विकास मंच के गुरदीप सिंह पप्पू,सीजीपीसी के वरीय उपाध्यक्ष महेंद्र सिंह बोझा,अमरजीत सिंह बोझा,सुरजीत सिंह खुशीपुर,भाजपा नेता सतबीर सिंह सोमू, इंदरजीत सिंह इंदर,दमनप्रीत सिंह समेत अन्य ने एक स्वर में यह आह्वान किया है कि जब तक मुख्यमंत्री यहां नहीं आते और अपराधियों को गिरफ्तार नहीं किया जाता तब तक मनप्रीत सिंह का शव नहीं उठाया जाएगा. (नीचे भी पढ़े)

सिख नेताओं ने कहा कि आदित्यपुर में लगातार फायरिंग हो रही है.शहर में भी अपराधी बेलगाम है.पुलिस प्रशासन अपराधियों के आगे बौनी साबित हो रही है.मनप्रीत की मां नीना कौर भी रोते बिलखते प्रशासन को कोसा और राहुल पर आरोप लगाया कि इनके द्वारा क्वार्टरों में अड्‌डाबाजी कराई जाती है.बहरहाल,समाचार लिखे जाने तक समाज के लोगों का जुटान मनप्रीतपाल के घर के बाहर बढ़ता जा रहा है.आगे की रणनीति बनाने में सभी एकजुट हो रहे हैं.(नीचे भी पढ़े)

मनप्रीत को गोलियों के साथ चाकू से भी पेट में गोदा गया, मां के बाल भी खींचे
मनप्रीतपाल को टारगेट कर सोची समझी साजिश के तहत उसके घर में घुसकर ताबड़ तोड़ गोलियों से भून कर हत्या कर दी गई.बताया जाता है कि हमलावरों ने उसकी पेट में सात से आठ बार चाकू के भी वार किए.इस बीच उसकी मां नीना कौर बीच बचाव करने आई तो उसके बाल पकड़कर भी खींचे गए. धक्का मुक्की की गई.(नीचे भी पढ़े)

दो गेट को तोड़कर घर में किया प्रवेश


मनप्रीत पाल की हत्या में शामिल रिटायर्ड पुलिस के जवान कालिका सिंह के बेटे राहुल सिंह, नवीन, अक्षय सिन्हा, गौरव गुप्ता का नाम सामने आया है. प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि हमलावर मनप्रीत के घर में लगे लोहे के गेट और उसके बाद लकड़ी के दरवाजे को तोड़कर अंदर घुसे और ताबड़तोड़ फायरिंग शुरु कर दी.मनप्रीत के पिता हरविंदर सिंह टाटा मोटर्स में ठेकाकर्मी है. मनप्रीत की बुधवार की रात टाटा अमृतसर जलियांवाला बाग ट्रेन में पंजाब जाने के लिए टिकट आरक्षित थी,लेकिन उसके पहले ही वह मौत के काल में समां गया.भालूबासा में गत वर्ष गैस एजेंसी राहुल सिंह के घर पर फायरिंग में मनप्रीत का नाम आया था.पुलिस ने उसे जेल भेजा था.जनवरी में जेल से छूटने के बाद उसे पैतृक गांव पंजाब स्थित गुरु नानक यूनिवर्सिटी में बीकॉम की पढ़ाई के लिए भेज दिया गया था.सोमवार को वह शहर आया था.गुप्ता गैस एजेंसी के मालिक राहुल पर फायरिंग के मामले में मनप्रीत पाल की बुधवार को कोर्ट में पहली तारीख थी.

Must Read

Related Articles