Jamshedpur-RJD : कृषि बिल के विरोध में राजद का डीसी ऑफिस के समक्ष प्रदर्शन, कहा-किसानों को पूंजीपतियों का गुलाम बनाने वाला है यह विधेयक

Advertisement
Advertisement

Jamshedpur : संसद में जोरदार हंगामे के बीच कृषि से संबंधित दो बिलों को मंजूरी दे दी गई. उसके बाद राष्ट्रीय जनता दल विरोध में सड़क पर उतर आया है. महानगर अध्यक्ष रजिउल्लाह खान की अगुवाई में राजद ने डीसी ऑफिस पहुंच कर नारेबाज़ी करते हुए प्रदर्शन किया. रजीउल्लाह खान ने कहा कि इस विधेयक के बाद किसान कॉरपोरेट घरानों के आगे मजबूर हो जाएंगे. अगर यह बिल किसान हित में है तो संसद से सड़क तक इतना विरोध क्यों हो रहा है? उन्होंने कहा कि एनडीए की सहयोगी दल और भाजपा के मातृ संघ आरएसएस से जुड़े किसान संगठन भारतीय किसान संघ ने भी केंद्र सरकार की इस नीति का विरोध किया है. सरकार के केंद्रीय मंत्री ने बिल के विरोध में इस्तीफा दे दिया है. केंद्र सरकार कॉरपोरेट जगत को छोड़ किसान हित में सोचे और बिल वापस ले.

Advertisement
Advertisement
Advertisement

किसानों की 2 हजार करोड़ की कर्ज माफी का ऐलान प्रशंसनीय, हेमंत सरकार से सीखे केंद्र

Advertisement

महानगर अध्यक्ष ने केंद्र सरकार पर तीखा हमला किया है. उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार को हेमंत सरकार से सीख लेने की जरूरत है. झारखण्ड सरकार द्वारा छोटे किसानों का 2 हजार करोड़ रुपये का कर्ज माफी का ऐलान प्रशंसनीय और साहसिक है. वह भी तब जब राज्य का खजाना खाली हो. ये दर्शाता है कि हेमंत सरकार जनता की सरकार है, किसी एक घराने की नहीं. विरोध-प्रदर्शन में कमलेश यादव, राजा, रविन्द्र लाल महाली, आदित्य सिंह, महेश शर्मा, राजू मांझी, तनवीर अहमद, सलीम जावेद, प्रकाश शर्मा, दानिश इकबाल, भोला प्रसाद समेत अन्य कार्यकर्ता शामिल थे.

Advertisement

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply