spot_img
शनिवार, अप्रैल 17, 2021
More
    spot_imgspot_img
    spot_img

    jamshedpur-rural- 5 मार्च को बहरागोड़ा के सामूहिक विवाह समारोह में गुरुबारी हांसदा की शादी संथाली रीति-रिवाज से होगी

    Advertisement
    Advertisement

    बहरागोड़ा : बहरागोड़ा प्रखंड के सांड्रा पंचायत स्थित स्वर्गछिड़ा गांव निवासी चन्द्रमोहन हांसदा की सुपुत्री गुरुबारी हांसदा की शादी संथाली रीति रिवाज से 5 मार्च को बहरागोड़ा में आयोजित होने वाले सामूहिक विवाह समारोह में होगी. यह उक्त बातें भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष डॉ दिनेशानंद गोस्वामी ने कही है. उन्होंने कहा कि चन्द्रमोहन हांसदा छोटा किसान है,उनके पास डेढ़ बीघा जमीन है. धान की खेती करते हैं और लोगों के खेतों में मजदूरी करते हैं. चन्द्रमोहन हांसदा की 4 बेटियों में गुरुबारी सबसे छोटी है .

    Advertisement
    Advertisement

    उसकी शादी बहरागोड़ा के ही चिंगड़ा पंचायत के आछढ़ाबाईद गांव के पिथ किस्कू के पुत्र भीम किस्कू से निर्धारित हुआ है. दोनों परिवारों की आर्थिक स्थिति अत्यंत कमजोर है. दोनों परिवारों ने बहरागोड़ा के सामूहिक विवाह समारोह में विवाह कराने के लिए डॉ गोस्वामी से आग्रह किया है.
    ग्रामवासियों के अनुरोध पर भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष डॉ दिनेशानंद गोस्वामी आज स्वर्गछिड़ा गांव पहुंचे, वहां ग्राम प्रधान कुमार चांद मांडी की अध्यक्षता में ग्रामीणों की एक बैठक सम्पन्न हुई. ग्रामीणों ने गांव की बेटी गुरुबारी हांसदा की शादी बहरागोड़ा के सामूहिक विवाह समारोह में कराने के लिए डॉ गोस्वामी से आग्रह किया.

    Advertisement

    विगत 5 वर्षों से डॉ गोस्वामी के प्रयास से बहरागोड़ा में अत्यंत गरीब माता पिता की बेटियों की शादी बहरागोड़ा में आयोजित विवाह समारोह में होती है. अब तो बहरागोड़ा का सामूहिक विवाह समारोह सामाजिक उत्सव बन चुका है. बहरागोड़ा के ग्रामीण क्षेत्र के लोग विशेषकर गरीब लोग बेसब्री से सामूहिक विवाह समारोह का इंतजार करते हैं. सामूहिक विवाह समारोह में बेटियों को उपयोग में लाई जाने वाली वस्तुएं बर्तन, बिछावन सामग्री, 4 सेट कपड़े, स्टील आलमीरा,सोने का गहना, मिठाईयां समेत अन्य सामान उपहार में दिये जाते हैं.

    Advertisement

    डॉ गोस्वामी ने ग्रामीणों को संबोधित करते हुए कहा कि गरीबों की सेवा करना हमारा सामाजिक दायित्व है. बेटियां अभिशाप नही वरदान है. गरीब बेटियों के सामूहिक विवाह में सम्पूर्ण समाज खड़ा रहता है. हम अपने सामाजिक उत्तरदायित्व का निर्वाह कर रहे हैं. कहा कि विवाह समारोह में गुरूबारी हांसदा की शादी पूर्ण आदिवासी रीति-रिवाज के साथ विवाह कराया जाएगा . इस अवसर पर बड़सोल मंडल महामंत्री कमलकांत सिंह, मंडल मंत्री हाबल गिरि, गौर दे, यादव पात्र , लम्बोदर हांसदा,पीतांबर हांसदा समेत अन्य उपस्थित थे.

    Advertisement

    Advertisement
    Advertisement

    Leave a Reply

    This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

    spot_imgspot_img

    Must Read

    Related Articles

    Don`t copy text!