खबरJamshedpur rural - गालूडीह नवकुंज मंदिर में धूमधाम से मनाया गया राधा...
spot_img

Jamshedpur rural – गालूडीह नवकुंज मंदिर में धूमधाम से मनाया गया राधा अष्टमी

राशिफल

गालूडीह : गालूडीह दारिसाई गांव स्थित नवकुंज मंदिर परिसर में शनिवार को राधा रानी जी का जन्मोत्सव बाबा विनय दास की देखरेख में हर्षोल्लास से मनाया गया. जिसमें आसपास क्षेत्र के सैकड़ों श्रद्धालुओं ने पूजा अर्चना की. मंदिर के पुजारी सुखदेव दास ने बताया कि प्रतिवर्ष नवकुंज मंदिर परिसर में कृष्ण जन्माष्टमी के 15 दिनों बाद राधाष्टमी मनाई जाती है. इस साल राधा मंदिर में इसे लेकर खास तैयारी की गई है. मंदिर में विशेष पूजा अर्चना की जा रही है. (नीचे भी पढ़ें)

उन्होंने बताया कि लोक मान्यता है कि राधा का जन्म वृषभानु और उनकी पत्नी कीर्ति (कमलवती) से हुआ था, जो गोकुल के पास रावल गांव में रहते थे. देवी राधा का जन्म माता के गर्भ में नहीं हुआ था, जबकि कीर्ति द्वारा देवी योगमाया की पूजा करने के बाद कन्या प्राप्ति हुई थी. राधा अष्टमी व्रत करने से साधक की सभी मनोकामनाएं पूरी होती है और दांपत्य जीवन में प्रेम बना रहता है. पति पत्नी में प्रेम बना रहने से परिवार में भी शांति बनी रहती है.

Must Read

Related Articles

Floating Button Get News On WhatsApp
Don`t copy text!