spot_img

jamshedpur-Sakchi-Gurdwara- साकची गुरुद्वारा चुनाव की सरगर्मी बढ़ी, मंटू ने खरीदा नामांकन फार्म, बुधवार को ही दोनों उम्मीदवारों ने नामांकन करने की घोषणा की, जीतने व हारने वाले दोनों प्रत्याशियों का नामांकन शुल्क 31 हजार नहीं होगा रिटर्न, गुरुद्वारा फंड में होगा जमा

राशिफल


जमशेदपुर: साकची गुरुद्वारा के प्रधान पद के लिए करीब 8 साल बाद होने वाले चुनाव की सरगर्मी बढ़ गई है. क्षेत्र के साथ-साथ विभिन्न गुरुद्वारा कमेटियों के प्रतिनिधि इस पर दिलचस्पी ले रहे हैं. निष्पक्ष चुनाव कराने के लिए चुनाव कन्वेनर गुरदीप सिंह पप्पू और को-कॉन्वेनर सुखविंदर सिंह राजू पूरी प्रक्रिया पर नजर रखे हुए हैं. मंगलवार 17 तारीख से नामांकन पत्र बिकने शुरु हुए. पहले दिन एक फार्म बिका. पक्ष के उम्मीदवार व पूर्व प्रधान हरविंदर सिंह मंटू ने 31 हजार रुपए में नामांकन फार्म खरीदा. उनके साथ-साथ विपक्ष के उम्मीदवार ठेकेदार निशान सिंह ने भी 18 मई बुधवार को नामांकन करने का ऐलान किया है, हालाकि उन्होंने मंगलवार को फार्म नहीं लिया है. 20 मई तक नामांकन फार्म बेचे जाएंगे. 21 को नाम वापसी व 22 मई को नामांकन फार्म की स्क्रूटनी की जाएगी. उसके बाद चुनाव पदाधिकारी एसडीओ से समय लेकर चुनाव की तारीख की घोषणा करेंगे.(नीचे भी पढ़े)

प्रधान पद के लिए कुल 1668 मतदाना बैलेट पेपर से अपना नया प्रधान चुनेंगे. चुनाव के बाद हार जीत किसी की भी हो. चुनाव कमेटी के नोटिफिकेशन के मुताबिक दोनों ही उम्मीदवारों का नामांकन शुल्क गुरुद्वारा की फंड में गुरु घर की सेवा के लिए जमा कर लिया जाएगा. नामांकन शुल्क ज्यादा होने पर अंदर ही अंदर विपक्ष विरोध प्रकट कर रहा है, लेकिन खुलकर सामने नहीं आ रहा है. विपक्ष एक ही ऐम पर लगा हुआ है कि गुरुद्वारा कमेटी का लंबित चुनाव किसी तरह पार लग जाए, इसमें रोक लगाने का कोई मौका न बने. चुनाव कमेटी के दोनों सदस्यों ने वैसे नामांकन शुल्क बढ़ाने को लेकर कहा कि महंगाई को लेकर शुल्क बढ़ाया गया है. नौ साल पहले नामांकन शुल्क 51 सौ रुपये था. वैसे भी यह शुल्क गुरु घर के विकास में ही लगाया जाएगा.(नीचे भी पढ़े)
स्व. कुलबीर सिंह के निधन बाद मंटू को मिला था मौका
2014 में अंतिम बार साकची में प्रधान पद का चुनाव हुआ था. तब कुलबीर सिंह ने चुनाव कमेटी के को-कन्वेनर सुखविंदर सिंह राजू को मात दी थी. कार्यकाल के बीच में ही कुलबीर सिंह का निधन हो गया था. उसके बाद कार्यकारी अध्यक्ष की भूमिका में गुरदेव सिंह राजा रहे. फिर सर्वसम्मति कर हरविंदर सिंह मंटू को प्रधान चुन लिया गया था. स्व. कुलबीर सिंह का कार्यकाल पूरा करने के बाद 2017 में मंटू दोबारा सर्वसम्मति से प्रधान बनाए गए. 2020 में उनका कार्यकाल समाप्त होना था, लेकिन वैश्विक महामारी कोरोना के कारण लॉकडाउन को लेकर चुनाव लंबित हो गया और मंटू ही गुरु घर की सेवा संभालते रहे.
गुरुद्वारा बस्ती में हरविंदर मंटू का तूफानी दौरा


साकची गुरुद्वारा कमेटी प्रधान पद के दावेदार सरदार हरविंदर सिंह मंटू ने मंगलवार को गुरुद्वारा बस्ती का तूफानी दौरा किया. गुरुद्वारा में अरदास के उपरांत मुंशा सिंह बागान और सी ब्लॉक के घर घर में गए और लोगों से आशीर्वाद मांगा. इसके साथ ही अपने कार्यकाल में गुरु घर तथा गुरु नानक स्कूल एवं मॉडल स्कूल में किए गए सौंदर्यीकरण एवं बहाली के संबंध में जानकारी दी तथा भविष्य में किए जाने वाले काम को भी संगत के सामने रखा.बस्ती में लोगों का भरपूर उत्साह नजर आया तथा उन्होंने चुनाव में आशीर्वाद देने का भरोसा भी दिया.इस जनसंपर्क अभियान में दलबीर सिंह, अजीत सिंह गंभीर, उधम सिंह, त्रिलोचन सिंह, पप्पी बाबा, जुगनू सिंह, रॉकी सिंह, टॉबी सिंह, पोली सिंह, अमरीक सिंह, एचपी काले, हरजीत सिंह, रविंद्र सिंह रिंकू आदि शामिल थे.
प्रचार के दौरान फूल मालाओं के साथ हुआ निशान सिंह का स्वागत


इधर, मंगलवार को विपक्ष के उम्मीदवार निशान सिंह ने साकची गुरुद्वारा बस्ती में चुनाव प्रचार कर संगत से अपने पक्ष में वोट मांगे और अपने नामांकन तिथि घोषणा की. वे शाम को साढ़े पांच और छः बजे के बीच अपना नामांकन गुरुद्वारा कार्यालय में करेंगे. जनसंपर्क अभियान में मंगलवार को निशान सिंह ने साकची गुरुद्वारा बस्ती के तीनों जोन ए, बी और सी का दौरा कर संगत से स्नेह सहित उनका साथ और वोट मांगा. संगत ने भी खुले हाथों से निशान सिंह का स्वागत किया और कुछ-कुछ स्थानों पर फूल मालाओं के साथ उनका सम्मान और अभिवादन किया.गुरुद्वारा बस्ती सी जोन के अमरपाल सिंह और बलबीर सिंह ने बताया की वे सब बहुत सालों से बाट जोह रही है कि कोई योग्य व्यक्ति गुरुद्वारा का प्रधान बने और निशान सिंह सबके विशेष आग्रह पर उम्मीदवार बने और उनको प्रत्याशी के रूप में पाकर एक उम्मीद जगी है कि लम्बे अंतराल के बाद इस बार कोई प्रधान योग्य बन पायेगा. इस दौरान शमशेर सिंह सोनी, मनमोहन सिंह, परमजीत सिंह काले, सुखविंदर सिंह निक्कू, बलबीर सिंह, सुरजीत सिंह छिते, जोगिंदर सिंह जोगी, जसबीर सिंह गांधी, रणधीर सिंह सिद्धू , महेंद्र सिंह, करतार सिंह, अमरपाल सिंह, सुखदेव सिंह, राजू मारवाह, सतबीर सिंह गोल्डू, जगतार सिंह, हरदयाल सिंह मौजूद थे.

WhatsApp Image 2022-04-29 at 12.21.12 PM
WhatsApp-Image-2022-03-29-at-6.49.43-PM-1
Shiv Yog Physiotherapy And Yoga Classes
spot_img

Must Read

Related Articles

Don`t copy text!