spot_img

jamshedpur samadhan-17 नवंबर को समाधान के मंडप में पंद्रह बेटियों का होगा सामूहिक विवाह, 16 नवंबर को बेटियों के लिए हल्दी, मेहंदी और संगीत संध्या का आयोजन

राशिफल

जमशेदपुर : दहेज़ प्रथा के विरुद्ध सशक्त अभियान चला रही बेटी बचाओ अभियान को लेकर काम करने वाली संस्था समाधान इस साल भी पंद्रह बेटियों का सामूहिक शुभ विवाह संपन्न कराएगी. इसको लेकर पिछले चार महीनों से भी अधिक समय से संस्था तैयारियों में जुटी थी. वैवाहिक आयोजन के लिए एक माह पूर्व ही वैवाहिक जोड़ों का चयन संपन्न कर लिया गया था. वहीं वैवाहिक कार्यक्रम के आयोजन की तैयारियां अंतिम चरण में है. सिदगोड़ा के टाऊन हॉल ग्राउंड में 17 नवंबर को होने वाले अभिवंचित और आर्थिक रूप से कमज़ोर वर्गों की पंद्रह बेटियों के भव्य सामूहिक शादी का साक्षी एक बार फ़िर जमशेदपुर होगा. सम्बंधित जानकारी समाधान संस्था की ओर से आयोजित पत्रकार सम्मेलन में संस्था के मुख्य संरक्षक दिनेश कुमार ने दिया. उन्होंने कहा कि समाधान संस्था की ओर से होने वाले समारोह में 15 मंडप और 15 पंडितों की व्यवस्था की गई है. शाम छह बजे वरमाला होगी और शाम सात बजे बतौर मुख्य अतिथि शहर के कई गणमान्य अपना आशीर्वाद देंगे. संस्था की ओर से लगातार पांचवें वर्ष आयोजित समारोह में वैदिक रीति से होने वाले विवाह के लिए अलग बेदी भी तैयार कराई जाएगी. विवाह स्थल पर पहुंचने वाले लोगों के लिए भोजन के प्रबंध होंगे. शनिवार की शाम पांच बजे रीति रिवाज के साथ गणेश पूजा, हल्दी व मेहंदी की रस्म अदा की जाएगी. इस दौरान दुल्हन को हल्दी व मेहंदी लगाई जाएगी. वहीं, शाम सात बजे से संगीत-संध्या और विवाह संस्कार गीतों का आयोजन किया जाएगा. इसमें महिलाएं विवाह के गीत गाएंगी. वहीं, रविवार की शाम पांच बजे से पाणिग्रहण संस्कार होगा. रात 11.30 बजे आशीर्वाद समारोह के बाद विदाई होगी. विवाह के लिए सिदगोड़ा टाऊन हॉल ग्राउंड में बाराती व घराती के लिए पंडाल का निर्माण कराई जाएगी. शादी रचाने वाली पंद्रह बेटियों के सामूहिक विवाह आयोजन में समाधान किसी तरह की कोई कमी की कसर छोड़ती नहीं दिख रही. बकायदे वैवाहिक आयोजन के लिए विशेष निमंत्रण कार्ड भी तैयार कराए गए हैं. वहीं बीते एक सप्ताह से संस्था द्वारा शहर के प्रबुद्धजनों एवं विशिष्ट अतिथियों के मध्य निमंत्रण पत्र सौंपकर आयोजन के साक्षी बनने हेतु आग्रह की गयी है. बुधवार की दोपहर साकची स्थित एक होटल में पत्रकार वार्ता के दौरान समाधान संस्था के मुख्य संरक्षक दिनेश कुमार ने पत्रकार वार्ता को संबोधित करने के क्रम में सामूहिक विवाह आयोजन सम्बंधित जानकारियां दी. इस दौरान विशेष रूप से संस्था की कार्यकारी अध्यक्ष बीना अरुण ख़िरवाल, महासचिव हरजीत भाटिया, अंकित आनंद, कोषाध्यक्ष कुलजीत सदाना, ट्रस्टी पूनम साहू समेत गीता वगाडिया, अमिता महेंद्रू, सुनीता सचदेव, आशीष गुलाटी, गीतांजलि बोस, अनिता विभार, कमलेश विभार, सरबजीत भाटिया समेत अन्य मौजूद थे.
उल्लेखनीय उपलब्धियों के लिए पंद्रह महिला विभूतियों का होगा सम्मान

16 नवंबर की शाम सात बजे से महिला सशक्तिकरण को प्रोत्साहन देने के क्रम में सम्मान समारोह भी आयोजित करेगी. इसके तहत अपने-अपने कार्यक्षेत्रों में दक्षता सहित उल्लेखनीय कार्य करने वाली महिलाएं सम्मानित होंगी. इस वर्ष सम्मानित होने वालों में कई वरिष्ठ साहित्यकार, शिक्षाविद, सामाजिक कार्यकर्ता, चिकित्सक, कला-संस्कृति से जुड़ी कई महिलाएं शामिल हैं.
इ-रिक्शा पर निकलेगी बारात

सामूहिक विवाह में दूल्हों की बाराती भी बेहद ख़ास होगी. 17 नवंबर रविवार की शाम सिदगोड़ा के सूर्य मंदिर में पूजन के उपरांत बारात निकलेगी. यहां से दूल्हे कार की जगह सुसज्जित इ-रिक्शा में सवार होकर विवाह मंडप की ओर प्रस्थान करेंगे. इ-रिक्शा के पीछे पर्यावरण की चिंता को दर्शाते हुए समाधान ने ज्यादा से ज्यादा पब्लिक ट्रांसपोर्ट का प्रयोग एवं बैटरी चलित वाहनों के उपयोग पर बल देने का प्रयास किया है जिससे पर्यावरण में दिनों दिन बढ़ रहे प्रदूषण पर चिंता जताते हुए बचाव हेतु उपयोगी कदम उठाने की अपील है.
दुल्हन लाल रंग का लहंगा-चुन्नी और दूल्हे पहनेंगे कुर्ता-पायजामा

शादी वाले दिन (17 नवंबर) सभी वैवाहिक कन्याएं लाल रंग के लहंगा-चुन्नी में सजेंगी व दूल्हों के लिए आकर्षक कुर्ता-पायजामा तैयार कराया जा रहा है. वहीं बेटियों की साज़-सज्जा का भी समाधान ने विशेष ख़्याल किया है. सभी पंद्रह वैवाहिक कन्याओं को दूल्हन कि तरह सजाने के लिए अलग-अलग ब्यूटीशियन का प्रबंध समाधान ने किया है जो मेकअप से लेकर मेहँदी रचाने तक में निपुण होंगे.
विवाह के कार्यक्रम एक नजर में :

16 नवंबर, शनिवार को हल्दी-मेहंदी और संगीत कार्यक्रम : हल्दी शाम साढ़े चार बजे से, मेहंदी साढ़े पाँच बजे से और तत्पश्चात संगीत संध्या एवं महिला विभूतियों का सम्मान समारोह.
17 नवंबर, रविवार को सामूहिक शुभ विवाह का आयोजन : बारात निकलेगी शाम साढ़े पाँच बजे सिदगोड़ा स्थित टाउन हॉल मैदान से। वरमाला – शाम 6.30 बजे, सात फेरे : शाम 7.30 बजे, स्नेह भोज : रात 8.00 बजे से. बारात के दौरान 15 ई-रिक्शा पर सवार होकर दूल्हे बाराती के साथ विवाह मंडप तक आएंगे जहाँ समाधान परिवार बेटी पक्ष के साथ दूल्हों का द्वार पूजन और स्वागत करेगी.
ये जोड़ें होंगे एक दूजे के :-
सामूहिक विवाह के निमित्त प्राप्त आवेदनों में से भौतिक सत्यापन के पश्चात समाधान संस्था ने पंद्रह सुयोग्य जोड़ों का चयन पूर्ण किया है. उक्त चयन के पीछे वित्तीय रूप से पिछड़ेपन को आधार माना गया। सत्यापन के दौरान जोड़ों के आस पड़ोस, स्थानीय पंचायत अथवा थाना स्तर से निर्णगत प्रमाण पत्रों के आधार पर दस्तावेजों और आवेदनों को स्वीकृति दी गयी. इसमें कुल पंद्रह जोड़ों का चयन हुआ है. इस साल समाधान की ओर से आयोजित होने वाले भव्य सामूहिक शुभ विवाह समारोह का पांचवां आयोजन वर्ष है. विवाह के निमित्त इंदुमती गुंटारा संग प्रसाद लोहार, बबिता पात्रो संग शैलेश चंद्र पात्रो, संजना रजक संग पार्थ सिंह, लक्ष्मी कुमारी संग प्रह्लाद दास, मधुवती दास संग गोपाल दास, खुशबू पात्रो संग रतन केशरी, हीरा दास संग बोरमा भूमिज, सुनीता कुंटिया संग लक्ष्मण कुंटिया, संगीता कुंटिया संग आंनद बिरुली, मुनमुन कुमारी संग सूरज लोहार, अनिता गागराई संग राकेश सरदार, संगीता पात्रो संग रोहित पात्रो, रौशनी गोप संग मुकेश दीप, द्रौपदी पात्रो संग राजेश मोदक, पूनम पात्रो संग आकाश, समाधान के मंडप में वैवाहिक बँधन में बंधेंगे.
वर-वधु को आशीर्वाद स्वरूप दिए जाएंगे उपहार

समाधान की ओर से बताया गया कि दांपत्य जीवन बसाने के लिए सभी पंद्रह जोड़ों को पलंग, आलमारी, टेबल पंखा, अटैची, पांच जोड़ी साया-साड़ी व ब्लाउज, दूल्हे के लिए कुर्ता पैजामा, शर्ट-पैंट के कपड़े, गद्दा, तकिया, कंबल, दो सेट चादर, श्रृंगार बाक्स, 111 पीस बर्तन सेट, मोल्डेड कुर्सी, ब्राइडल सेट और हाथों का चूड़ा, मांगटीका, पायल, बिछिया, मंगलसूत्र, नथिया, चप्पल, जूता, पगड़ी, स्वेटर, शॉल, प्रत्येक जोड़े के लिए 1000 रुपये का संयुक्त खाता, मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के तहत आर्थिक मदद, प्रधानमंत्री सुरक्षा योजना के तहत 01 लाख रुपये का बीमा, हर जोड़े के बीमा की राशि का भुगतान समाधान संस्था द्वारा किया जाएगा. इसके अलावे व्याहित बेटियों को स्वालंबी बनाने के उद्देश्य से सिलाई मशीन भी मुहैया कराई जाएगी.
पूर्व के चार वर्षों के व्याहित जोड़ें एक संग मनायेंगे वैवाहिक वर्षगाँठ

17 नवंबर को जब सामूहिक विवाह में पंद्रह जोड़ें एक दूजे का साथ निभाने का वचन देते हुए फ़ेरे ले रहे होंगे, तभी बीते चार वर्षों में समाधान के माध्यम से संपादित सामूहिक शुभ विवाह आयोजन में व्याहित 56 जोड़ें एक संग अपने विवाह का वार्षिक वर्षगाँठ मनाएंगे. इसके लिए समाधान संस्था की ओर से भव्य बीस पाउंड की केक तैयार कराई जा रही है. वहीं वैवाहिक आयोजन को देखने और सम्मिलित होने के लिए समाधान संस्था द्वारा गोद लिए गए गाँव खड़ियाकोचा निवासी सभी सबर परिवार के लोग भी मौजूद रहेंगे.

WhatsApp Image 2022-04-29 at 12.21.12 PM
WhatsApp-Image-2022-03-29-at-6.49.43-PM-1
Shiv Yog Physiotherapy And Yoga Classes
[adsforwp id="129451"]

Must Read

Related Articles

Don`t copy text!