spot_img

Jamshedpur-Seraikela-Chaibasa-Dhanteras : जमशेदपुर, सरायकेला-खरसावां व पश्चिम सिंहभूम में जम कर हुई खरीदे, बाजार में उमड़े लोग

राशिफल

जमशेदपुर / सरायकेला / चाईबासा : धनतेरस पर दिनभर जिले के सभी प्रमुख बाजारों में जमकर खरीदारी हुई. वहीं शाम ढलते ही घर- प्रतिष्ठान दीपक की रोशनी से जगमगा उठे. खुशी उल्लास के पर्व दीपोत्सव को लेकर लोगों में जबरदस्त उत्साह नजर आया. यूं कहें तो दिनभर बाजारों में धन की बारिश होती रही. धातु की खरीदारी पर सभी का जोर रहा. अधिक नहीं तो सोने- चांदी के सिक्के ही सही, लेकिन धातु की खरीदारी पर सभी की तवज्जोह रही. (नीचे भी पढ़ें)

व्यवसायियों के खिले चेहरे बाजार की रंगत बयान कर रहे थे. इलेक्ट्रानिक बाजार में वॉशिंग मशीन, एयर कंडीशन, एलईडी टीवी, हीटर, गीजर, फ्रिज आदि की खरीदारी पर ग्राहकों का जोर रहा. व्यवसायी परिवार के सभी सदस्य ग्राहकों की आवभगत में लगे रहे. सबसे अधिक भीड़ सर्राफा दुकानों पर रही. कहीं पैर रखने की जगह नहीं दिखी. लक्ष्मी- गणेश की मूर्ति, दीया, बाती, मोमबत्ती सहित पूजा सामग्री भी लोगों की प्राथमिकता रही. धनतेरस के दिन चांदी खरीदने की भी प्रथा है, इसके पीछे यह कारण माना जाता है, कि यह चन्द्रमा का प्रतीक है जो शीतलता प्रदान करता है और मन में संतोष रूपी धन का वास होता है. (नीचे भी पढ़ें)

धनतेरस पर धातु की खरीदारी को सुख- समृद्धि का प्रतीक माना जाता है. शास्त्रों में इसका काफी महत्व है. यही कारण है कि इस शुभ मुहूर्त में गरीब-अमीर सभी धातु की खरीदारी को तरजीह देते हैं. जमशेदपुर, सरायकेला, खरसावां, राजनगर, आदित्यपुर और गम्हरिया, पश्चिम सिंहभूम के चाईबासा, चक्रधरपुर व आसपास के क्षेत्रों में धनतेरस मनाया गया और लोगों ने अपनी- अपनी पंसद एंव बजट के अनुसार करीब 20 करोड़ रुपये की खरीदारी की. विदित हो कि धनतेरस के मौके पर सोना-चांदी एंव अन्य धातु की खरीददारी काफी शुभ माना जाता है. इस मौके पर लोग सोना- चांदी के अलावे वाहन आदि धातु निर्मित उपकरण एवं बर्तन की खरीददारी करते है. (नीचे भी पढ़ें)

पहले के दिनों में लोग केवल धातु से निर्मित बर्तन आदि की खरीदते थे, मगर अब धातु से निर्मित छोटे- बड़े वाहन तथा टीवी, फ्रीज, कंप्यूटर आदि इलेक्ट्रोनिक वस्तुओं की भी जमकर खरीददारी करने लगे है. धनतेरस के मौके पर विभिन्न कंपनियों द्वारा ग्राहकों को लुभाने के लिए आकर्षक उपहार योजना चालाते है और लोग भी उपहार के लिए वस्तुओं की खरीददारी हेतु धनतेरस का इंतजार करते है.  दुकानदार ग्राहकों को आकर्षित करने के लिए विभिन्न उपहार योजना के साथ धातु निर्मित बर्तन एंव अन्य वस्तुओं का स्टॉक सजाते है. धनतेरस के मौके पर को जमशेदपुर सरायकेला में जमकर खरीदारी हुई और बर्तनों की दुकानें, सोना चांदी के दुकानें, टीवी, फ्रीज, मोबाइल की दुकानें एंव दो पहिया वाहनों के शो रूम में देर शाम तक ग्राहकों की काफी भीड़ देखी गई. जहां लोग अपनी पसंद की चीजें खरीदते देखे गए. (नीचे भी पढ़ें)

सरायकेला में सबसे अधिक दो पहिया वाहनों की खरीदारी हुई. श्रीराम होंडा के मालिक आशीष अग्रवाल ने बताया कि धनतेरस पर उनके शोरुम में 187 मोटर साईकिल व स्कूटी की बिक्री हुई, जबकि मित्तल मोटर के मालिक जितेंद्र अग्रवाल ने बताया कि धनतेरस में उनके शोरुम में 120 वाहनो की बिक्री हुई. इधर मां तारिणी टीवीएस के शो रुम में 35, रौनक मोटर्स में 42 याम्हा बाइक, 08 महिंद्रा के  ट्रैक्टर, 6 सोनालिका ट्रैक्टर, समेत कुल साढ़े 10 करोड़ रुपये के वाहनों की बिक्री हुई. बजरंग हेलो प्वाइंट में 114 मोबाईल की बिक्री हुई. सोना- चांदी, बर्तन, मोबाईल एवं इलेक्ट्रोनिक उपकरण की लगभग ढाई करोड़ रुपये की बिक्री हुई.

WhatsApp Image 2022-04-29 at 12.21.12 PM
WhatsApp-Image-2022-03-29-at-6.49.43-PM-1
Shiv Yog Physiotherapy And Yoga Classes
spot_img

Must Read

Related Articles

Don`t copy text!