spot_img

jamshedpur-weather-effect-जमशेदपुर में आंधी तूफान से जनजीवन अस्त-व्यस्त, बिष्टुपुर में 100 साल पुराना पेड़ जमीन से उखड़ा, जुगसलाई में दिव्यांग के घर का एस्बेस्ट्स टूटा, स्टेशन का सिंह होटल भी क्षतिग्रस्त, दर्जनों मकानों पर पड़ा असर, रास्तों में गिरे पेड़

राशिफल

जमशेदपुर : पिछले दो दिनों से जमशेदपुर में हो रही तेज आंधी तूफान की वजह से जनजीवन पूरी तरह से अस्त-व्यस्त हो गया है. जहां जुगसलाई, बागबेड़ा, सुंदरनगर, परसुडीह क्षेत्र में इस आंधी तूफान की वजह से दर्जनों झोपड़ी नुमा घर के छज्जे उड़ गए कुछ लोग चोटिल भी हुए हैं. एक ओर जहां बिष्टुपुर बाजार में 100 साल पुराना पेड़ जमीन से उखड़ गया. गरिमत है कि आंधी तूफान में गिरे पेड़ से कोई भी दुकान या राजगीर हताहत नहीं हुआ है. वहीं दूसरी ओर रेलवे रिटायरिंग रूम का बाउंड्री वाल गिरा. इस दौरान रेलवे रिटायरिंग रूम के लगभग 15 छोटे बड़े पौधे क्षतिग्रस्त हुए है. वहीं स्टेशन का सिंह होटल भी क्षतिग्रस्त हो गया है. अलग-अलग इलाकों में तेज आंधी तूफान की वजह से कई घरों के दीवार गिर गए तो कई घरों के छज्जे टूट गए. (नीचे भी पढ़ें)

इस दौरान घर पर मौजूद लोग चोटिल भी हुए पर भगवान का शुक्र है कि किसी तरह का कोई जान माल का नुकसान नहीं हुआ. इधर जुगसलाई निवासी दिव्यांग अवध नारायण सिंह पूरे परिवार के साथ घर पर सोए हुए थे कि अचानक तेज आंधी तूफान की वजह से उनके घर का अल्बेस्टर पूरी तरह से टूट गया, जिसकी वजह से उनके पुत्र और उनकी पत्नी को हल्की फुल्की चोट भी आई. वही इस घटना के बाद उनके समक्ष आर्थिक संकट उत्पन्न हो गया है. उन्होंने बताया कि पेंशन की राशि से किसी तरह से उनका घर चलता है और अब इस घटना की वजह से एक आर्थिक संकट उनके समक्ष मंडराने लगा है.उन्होंने जिला प्रशासन से मुआवजे की मांग की.

WhatsApp Image 2022-04-29 at 12.21.12 PM
WhatsApp-Image-2022-03-29-at-6.49.43-PM-1
Shiv Yog Physiotherapy And Yoga Classes
spot_img

Must Read

Related Articles

Don`t copy text!