spot_img

jharkhand-big-scam- झारखंड मे सरकारी राशन का बड़ा खेला, गढ़वा के पोल्ट्री फार्म से पीडीएस का 80 बोरा गेहूं बरामद, प्रशासन को सौंपा, मध्य प्रदेश पीडीएस के मुहर लगे मिले बोरे, देखें video,

राशिफल


गढ़वा : गढ़वा जिले के नगरउंटारी प्रखंड के भोजपुर पंचायत स्थित टिकुलडीहा ग्राम में प्रभु साह के मुर्गी फार्म में पीडीएस का 80 बोरा गेहूं ग्रामीणों ने पकड़ा. इसके बाद ग्रामीणों ने प्रशासन को बुलाकर उसे उसे सौंप दिया. ग्रामीणों ने बताया कि शुक्रवार की सुबह पांच बजे पीडीएस का गेहूं लदा हुआ एक ट्रैक्टर भोजपुर के पश्चिम टोला स्थित स्वीटी जागृति समूह में आया था. फिर वहां से वह वापस आकर प्रभु साह के मुर्गी फार्म में उक्त गेहूं को उतारा गया.(नीचे भी पढ़े)

ग्रामीणों को शक होने पर वे प्रभु साह के मुर्गी फॉर्म में देखने गये, तो वहां पर भारी मात्रा में गेहूं पाया गया. ग्रामीणों ने तत्काल इसकी जानकारी एसडीओ आलोक कुमार एवं थाना प्रभारी को दूरभाष के माध्यम से दिया. एसडीओ आलोक कुमार के निर्देश पर मजिस्ट्रेट अजय तिर्की एवं पुलिस अवर निरीक्षक सुनील दास प्रभु साह के मुर्गी फार्म में पहुंचे और उक्त गेहूं को जब्त कर थाना ले आये.ग्रामीणों ने बताया कि पीडीएस का गेहूं उतारकर ट्रैक्टर फरार हो चुका था. पता चला कि पीडीएस का यह गेहूं प्रभु साह के मुर्गी फार्म में बोरा बदलने के लिये रखा गया था. (नीचे भी पढ़े)

पीडीएस का बोरा को बदला भी जा चुका था और सभी पीडीएस के बोरा को बगल के स्कूल के नजदीक झाड़ी में छुपा दिया गया था. ग्रामीणों के द्वारा खोजबीन के बाद बोरा भी मिल गया.ग्रामीणों ने झाड़ी में छुपाये गये बोरा को भी प्रशासन को सौंप दिया. इस दौरान ग्रामीणों ने मांग किया कि यह गेहूं किसका है, प्रशासन इसकी जांच कर पीडीएस की गेहूं कालाबाजारी करने वाले पर कड़ी कार्रवाई करें. ग्रामीणों ने बताया कि पीडीएस के बोरा में जो मुहर लगा हुआ है, वह मध्य प्रदेश का है. इससे साबित होता है कि पीडीएस के गेहूं की कालाबाजारी मध्य प्रदेश से झारखंड तक किया जा रहा है.

WhatsApp Image 2022-04-29 at 12.21.12 PM
WhatsApp-Image-2022-03-29-at-6.49.43-PM-1
Shiv Yog Physiotherapy And Yoga Classes
[adsforwp id="129451"]

Must Read

Related Articles

Don`t copy text!