jharkhand-cm-got-time-झारखंड के मुख्यमंत्री की बढ़ सकती है मुश्किलें, 28 जून तक का अंतिम मौका मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को दिया, भाई बसंत सोरेन को लेकर बुधवार को होगी सुनवाई

राशिफल

रांची : झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही है. पत्थर खनन लीज मामले में भारत निर्वाचन आयोग ने झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को जवाब देने के लिए एक बार फिर से 28 जून तक का समय दिया है. आयोग से मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने समय मांगा था, जिसके बाद आयोग ने अगली सुनवाई की तारीख 28 जून मुकर्रर कर दी है. इस बार उन्होंने अपने वकील की तबीयत खराब होने की जानकारी देते हुए समय मांगा है. उससे पहले 31 मई की तिथि को मुख्यमंत्री ने आगे बढ़वाया था कि उनकी मां की तबीयत खराब है. इसके बाद 14 जून को सुनवाई की तिथि निर्धारित की गयी थी. अब आयोग ने उनको अंतिम मौका दिया है. 28 जून को अब किसी तरह का कोई समय नहीं दिया जायेगा, यह भी आयोग ने साफ कर दिया है. आपको बता दें कि भाजपा नेताओं की शिकायत के बाद राज्यपाल ने इस मसले को चुनाव आयोग के पास भेज दिया था. इस मसले को लेकर आयोग ने कार्रवाई करते हुए यह पूछा था कि क्यों नहीं मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की सदस्यता रद्द कर दी जाये. उनके विधायक भाई बसंत सोरेन पर भी इसी तरह के आरोप में नोटिस दिया गया है, जिसकी सुनवाई 15 जून को होनी है. आरोप यह लगाया गया है कि मुख्यमंत्री और विधायक रहते हुए लाभ के दोहरे पद पर बने रहे और कंपनी संचालित कर खनन लीज ली है. आयोग को भी इसकी जानकारी नहीं दी गयी है. इसके बाद से आयोग से मुख्यमंत्री लगातार समय मांग रहे है.

Must Read

Related Articles