jharkhand-durga-puja-झारखंड सरकार के खिलाफ जमशेदपुर में दुर्गा पूजा में गुस्सा, जमशेदपुर दुर्गा पूजा केंद्रीय समिति की बैठक में 37 दुर्गा पूजा समितियों ने भोग वितरण पर रोक का किया विरोध, बंगाल क्लब में बैठी पूजा कमेटियां, सरकार के गाइडलाइन का विरोध

राशिफल

गोलमुरी में हो रही पूजा कमेटी की बैठक.

जमशेदपुर : जमशेदपुर दुर्गा पूजा केंद्रीय समिति की सेंट्रल जोन की बैठक गोलमुरी इवनिंग क्लब में संपन्न हुई, जिसमें सेंट्रल जोन एरिया की 37 दुर्गा पूजा समितियों के प्रतिनिधि ने हिस्सा लिया. बैठक की अध्यक्षता सेंट्रल जोन ए के उपाध्यक्ष अशोक सिन्हा द्वारा किया गया. मंच का संचालन ओमियो ओझा ने किया एवं धन्यवाद ज्ञापन परमात्मा मिश्रा ने किया. इस बैठक में लोगों ने अपने समस्याओं को केंद्रीय समिति के पास रखा. कुछ पूजा समितियां गाइडलाइन को पढ़कर असमंजस की स्थिति में थी, जिन्हें केंद्रीय समिति के कार्यकारी अध्यक्ष के द्वारा समझाया गया. मुख्य रूप से समितियों द्वारा मां का प्रसाद भोग का डिमांड केंद्रीय समिति के पास रखी गयी. समितियों ने आग्रह किया कि आप हमारी बातों को सरकार तक पहुंचाएं कि भोग पूजा का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है, उस पर समिति ने आश्वस्त किया कि उनकी भावनाओं को सरकार तक पहुंचा दिया गया है. बहुत जल्द गाइडलाइन में संशोधन होकर एक संशोधित गाइडलाइंस हमारे बीच होगा. इस बैठक में मुख्य रूप से अपनी बातों को रखने वाले समितियां हैं, शिव पार्वती दुर्गा पूजा फूड प्लाजा, राष्ट्रीय एकता दुर्गा पूजा समिति गोलमुरी इवनिंग क्लब दुर्गा पूजा समिति. सारी समितियों ने कोविड के नियमों को देखते हुए ही पूजा करने पर अपनी सहमति जताई. कार्यकारी अध्यक्ष आशुतोष सिंह द्वारा यह भी प्रण कराया गया कि पूजा पूरे भक्ति भावना से हो परंतु विसर्जन में किसी भी प्रकार की कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी. प्रशासन द्वारा दिए गए सारे नियमों को विसर्जन में पालन करना होगा एवं उनके दिए गए समय के अनुरूप ही शहर में विसर्जन संपन्न होगा. इस बैठक में संरक्षक बंदेशंकर सिंह, सलाहकार वाईपी सिंह, कार्यकारी अध्यक्ष आशुतोष सिंह, उपाध्यक्ष अशोक सिन्हा, महासचिव रामबाबू सिंह, परमात्मा मिश्रा, ओमयो ओझा, मनोरंजन गोड़, संजय सिन्हा, संतोष कुमार सूर्य प्रताप सिंह मुख्य रूप से मौजूद थे. (नीचे देखे पूरी खबर.)

बंगाल क्लब की बैठक

बंगाल क्लब में भी हुई बैठक
पिछले दिनों दुर्गा पूजा को लेकर मुख्यमंत्री द्वारा जारी गाइडलाइन को लेकर शहर के विभिन्न दुर्गा पूजा कमिटी द्वारा साकची स्थित बंगाल क्लब में एक विशेष बैठक का आयोजन किया गया. इस बैठक में सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन के तहत दुर्गा पूजा के दौरान भोग वितरण पर लगाए गए रोक और पूजा पंडाल में 18 वर्ष के नीचे आयु वर्ग के श्रद्धालुओं के दर्शन पर रोक लगाने की आलोचना की गई. पूजा कमिटी के पदाधिकारियों ने कहा कि जब रेस्टोरेंट्स संचालकों को छूट प्रदान की गई है तो फिर पूजा कमेटियों द्वारा घर घर पहुंचाने पर क्यों रोक लगाया जा रहा है. साथ ही जब कक्षा 6 से स्कूल खोलने की अनुमति प्रदान की गई है तो फिर 18 वर्ष से नीचे आयु वर्ग पर दर्शन के लिए क्यों रोक लगाया जा रहा है. इस दौरान सारे कमेटी के पदाधिकारियों ने सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन के तहत दुर्गा पूजा के दौरान विद्युत सज्जा पर रोक लगाने की भी आलोचना की. इस दौरान बैठक में यह निर्णय हुआ कि बहुत जल्द दुर्गा पूजा समिति के पदाधिकारी व सदस्य बहुत जल्द राज्य के आपदा एवं स्वास्थ्य मंत्री से मुलाकात कर अपनी मांगों से उन्हें अवगत कराएंगे ताकि भोग, श्रद्धालुओं के दर्शन में एज लिमिट और विद्युत सज्जा पर किसी तरह की रोक ना लगायी जाए, जिससे धार्मिक आस्था पर ठेस पहुंचे. साथ ही कमेटी के पदाधिकारी व सदस्यों ने सरकार को आश्वस्त कराया कि इन तीन मांगों के अलावा सरकार ने जो भी गाइडलाइन जारी किया है, उसका पूरी तरह से पालन किया जाएगा. इस दौरान देवाशीष नाहा, मिथलेश घोष, अपर्णा गुहा,सोइबल रॉय, अमित बोस, विनोद दे, भास्वजीत हाजरा एवं राजू सिंह मुख्य रूप से मौजूद थे.

Must Read

Related Articles