spot_imgspot_img

Global Statistics

All countries
194,003,002
Confirmed
Updated on July 24, 2021 6:51 AM
All countries
174,381,487
Recovered
Updated on July 24, 2021 6:51 AM
All countries
4,159,421
Deaths
Updated on July 24, 2021 6:51 AM
spot_img

jharkhand-government-new-decisions-झारखंड में प्रवासी मजदूरों पर दर्ज मुकदमा होगा वापस, जमशेदपुर और चाईबासा में दर्ज 6 केस भी होंगे वापस, जमशेदपुर के घाघीडीह जेल के 3 महिला समेत 5 कैदी समेत झारखंड के 79 कैदी रिहा

Advertisement
Advertisement

रांची : कोरोना महामारी के दृष्टिगत लॉकडाउन के दौरान राज्य में प्रवासी मजदूरों के विरुद्ध लॉकडाउन प्रावधानों के उल्लंघन के विरुद्ध दर्ज प्राथमिकी और केस को वापस लेने संबंधी मंत्री परिषद हेतु संलेख एवं अधिसूचना प्रारूप को मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने अनुमोदित कर दिया है. सर्वोच्च न्यायालय द्वारा इस संबंध में पारित आदेश के आलोक में प्रवासी मजदूरों के विरुद्ध लॉकडाउन उल्लंघन को लेकर दर्ज प्राथमिकी अभियोजन को वापस लेने की प्रक्रिया शुरू की है.

Advertisement
Advertisement

किस जिले में कितनी प्राथमिकी है दर्ज
पूरे राज्य में प्रवासी मजदूरों द्वारा लॉकडाउन उल्लंघन की कुल 30 प्राथमिकी दर्ज की गई है, जिसमें 204 मजदूरों को आरोपी बनाया गया है. इसमें रांची के सिल्ली थाना में 32 मजदूरों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज है. वही, लोहरदगा जिले के विभिन्न थानों में 15 प्राथमिकी, सिमडेगा जिले में दो प्राथमिकी, जमशेदपुर में एक प्राथमिकी, चाईबासा में 5 प्राथमिकी, दुमका में एक प्राथमिकी, साहिबगंज जिले में 4 प्राथमिकी और पाकुड़ जिले में एक प्राथमिकी थाने में दर्ज है.

Advertisement

घाघीडीह जेल समेत तमाम जेलों के कैदी को किया गया रिहा
झारखंड राज्य सजा पुनरीक्षण पर्षद ने झारखंड के पांच केंद्रीय कारा व एक ओपेन जेल में रह रहे आजीवन कारावास की सजा काट रहे 79 कैदियों को असमय कारा मुक्ति का निर्णय लिया है. सभी 79 कैदी हत्या के आरोप में विभिन्न जेलों में 14 वर्ष से अधिक की सजा काट चुके हैं. जेल में रहने के दौरान इनका आचरण बेहतर रहा, जिसके बाद इन्हें मुक्त करने का निर्णय हुआ है. राज्य सरकार की गृह कारा एवं आपदा प्रबंधन विभाग ने इससे संबंधित आदेश जारी कर दिया है. जेलों से छोड़े जाने वाले कैदियों में बिरसा मुंडा केंद्रीय कारा होटवार के 50 बंदी, सेंट्रल जेल हजारीबाग के दस, केंद्रीय कारा पलामू के तीन, केंद्रीय कारा घाघीडीह जमशेदपुर के पांच, केंद्रीय कारा दुमका के दस व ओपेन जेल हजारीबाग का एक कैदी शामिल हैं. जमशेदपुर के घाघीडीह जेल से जिन पांच कैदियों को रिहा किया गया है, उसमें तीन महिला शामिल है, जिनके नाम बिमला देवी, मंजू तियू, डिजली लांगुरी है. इसके अलावा दो पुरुष कैदी सनिका टोपनो और सुनील सिंकू शामिल है, जिनको रिहा किया गया.

Advertisement

राज्य की अन्य जेलों से रिहा किये गये कैदी

Advertisement

बिरसा मुंडा केंद्रीय कारा होटवार से जिन्हें छोड़ने का आदेश हुआ
पांडो मुंडाइन (75 वर्ष, जेहान, बिशुनपुर, गुमला), जगमोहन महतो (74 वर्ष, जोपनो, तमाड़, रांची), रंथू उरांव (71 वर्ष, उमड़ा, पालकोट, गुमला), फागू महतो (69 वर्ष, जोपनो, तमाड़, रांची), सपूत साहू (65 वर्ष, सिरकोट, घाघरा, गुमला), चंद्रमोहन महतो (63 वर्ष, जारा, तमाड़, रांची), बिजय सिंह बोदरा (61 वर्ष, खूंटपानी, मुफ्फसिल, पश्चिमी सिंहभूम), सनिका सांडी पूर्ति उर्फ कोंदा (60 वर्ष, कोनतारी, बंदगांव, पश्चिमी सिंहभूम), लूसा पहाड़िया (60 वर्ष, कांकीबेड़ा, चांडिल, सरायकेला-खरसांवा), डोमन सिंह मुंडा (58 वर्ष, कुचरू, तमाड़, रांची), डाकुआ तिरिया (58 वर्ष, रूगुड़साई, मंझगांव, पश्चिमी सिंहभूम), सुकरा लकड़ा (57 वर्ष, चटकपुर, उरांव टोली, नामकुम, रांची), भावा उरांव (56 वर्ष, सेरका बड़टोली, बिशुनपुर, गुमला), पांडू मुंडा (56 वर्ष, हासा, बगीचाटोली, मुरहू, खूंटी), हरिशंकर देहरी (54 वर्ष, पतरी, बहरागोड़ा, पूर्वी सिंहभूम), धानू उर्फ लुल्हा उरांव (54 वर्ष, गाड़ी होटवार, सदर, रांची), सोमरा उरांव (52 वर्ष, हटिया, लोहरा टोली, जगरनाथपुर, रांची), धरमू उर्फ धर्मनाथ महतो (52 वर्ष, कदमा, कांके, रांची), राम सिरका (51 वर्ष, तारेया, हांसदा, गुवा, पश्चिमी सिंहभूम), बिरसा दोराईबुरू (50 वर्ष, बड़ा कुचिया, टोंटो, पश्चिमी सिंहभूम), विजय सुंडी (49 वर्ष, बिरसा नगर, गुवा, पश्चिमी सिंहभूम), सुना गुड़िया (47 वर्ष, रोन्हे, मुनगाटोली, तोरपा, खूंटी), तिजा तुरी (45 वर्ष, कीता, गुमला), जगन मुंडारी (44 वर्ष, लुंबाई, बंदगांव, पश्चिमी सिंहभूम), रायमन लकड़ा (45 वर्ष, टांगर टोली, कासीर, रायडीह, गुमला), चिरगू भुईया (42 वर्ष, उचरी, रंका, गढ़वा), विशेश्वर खंडैत उर्फ जोमो (40 वर्ष, हरिरा, टोंटो, पश्चिमी सिंहभूम), बोगन सरदार (36 वर्ष, जनबनी, राजनगर, सरायकेला-खरसांवा), बोलो उर्फ बलराम नगेसिया (58 वर्ष, लौकी, गोजरा कोना, रायडीह, गुमला), विश्वनाथ मुंडा (40 वर्ष, बंदुआ, महुवाटांड़, लातेहार), अमर सुरीन (37 वर्ष, बांदुडोहा, जलडेगा, सिमडेगा), बालेश्वर टुडू उर्फ लखना टुडू (60 वर्ष, चडरी, घाटशिला, पूर्वी सिंहभूम), छोटू महतो (59 वर्ष, जारा, तमाड़, रांची), डोबरो सिंकू उर्फ सुपाय सिंकू (55 वर्ष, डुमरजोड़, रेबेलोया, गुवा, पश्चिमी सिंहभूम), रतन होरो (53 वर्ष, डुमरगाड़ी, टंगराटोली, कर्रा, खूंटी), मधु उरांव (45 वर्ष, कटहल टोली, बुंडू, रांची), परया उरांव उर्फ पारितोष उरांव (41 वर्ष, कटहलटोली, बुंडू, रांची), सिरमुना उरांव (35 वर्ष, भक्सो, कोयला टोली, लोहरदगा), माघे उर्फ माघे उरांव (मारा सिल्ली, भरनो, गुमला), मंगरू उरांव (83 वर्ष, बोंगालोया, बसिया, गुमला), मंगल खलखो (79 वर्ष, चितरकोटा, रातू, रांची), बिंध्यांचल पांडेय (69 वर्ष, बहूदुरा, घाघरा, गुमला), बुधू उरांव (56 वर्ष, चचगुरा, करमटोली, इटकी, रांची), सुंदर सिंह मुंडा (55 वर्ष, हेठ बलालौंग, अड़की, खूंटी), गौरंग मुंडा (54 वर्ष, बबई कुंडी, तमाड़, रांची), टोपा झोरा (53 वर्ष, बर्गीडाड़, रायडीह, गुमला), ईश्वर सिंह (लोटवा, पालकोट, गुमला), मंगल बोदरा (46 वर्ष, डेरूवा, गोइलकेरा, पश्चिमी सिंहभूम), रामसिंह बिरूआ (45 वर्ष, बिचाबुरू, स्कूल साई, हाटगम्हरिया, पश्चिमी सिंहभूम) व शैलेंद्र सिंह मुंडा (43 वर्ष, हेठ बलालौंग, अड़की, खूंटी)।

Advertisement

लोकनायक जयप्रकाश नारायण हजारीबाग से जो बंदी छूटेंगे
चमरू महतो (89 वर्ष, तलसवार, बड़कागांव, हजारीबाग), गल्लू महतो (84 वर्ष, तलसवार, बड़कागांव, हजारीबाग), परमेश्वर विश्वकर्मा (65 वर्ष, कुरूमडीहा, गिरिडीह), खेमलाल साव (51 वर्ष, चोकाद, गोला, हजारीबाग), परमेश्वर महतो (49 वर्ष, गया पहाड़ी, बरकट्ठा, हजारीबाग), दुलार पंडित (46 वर्ष, बाघनाला, बगोदर, गिरिडीह), शिवलाल महतो (46 वर्ष, गया पहाड़ी, बरकट्ठा, हजारीबाग), सुभाष बोस उर्फ खेपा बाबा (80 वर्ष, खेपा आश्रम, उपर घौड़ा, भुरकुंडा, हजारीबाग), रामप्रसाद राय (52 वर्ष, बंडही, धनवार, गिरिडीह), मुंशी टुडू (44 वर्ष, कुर्मीकुंड, कोडरमा)।

Advertisement

ओपेन जेल से जो बंदी छूटेंगे
पवन पासवान (38 वर्ष, महादेव वरण, बोरियो, साहिबगंज)।

Advertisement

केंद्रीय कारा मेदिनीनगर, पलामू से छूटने वाले बंदी
बोहन यादव (76 वर्ष, पुंदाग, रंका, गढ़वा), रामनाथ चौधरी (71 वर्ष, करीवाडीह, मझिआंव, गढ़वा) व सुधीर महतो (54 वर्ष, कुरमीडीह, बाराबाद, मधुपुर, देवघर)।

Advertisement

केंद्रीय कारा घाघीडीह जमशेदपुर से छूटने वाले बंदी
पानी कुई उर्फ मेजाे कुई (71 वर्ष, लिसिमती टोला, नाकाहासा, टोंटो, पश्चिमी सिंहभूम), विमला देवी (44 वर्ष, खडौली, गुठनी, सिवान), विगती कुई उर्फ डिगली लागुरी (41 वर्ष, निसीमोती टोला, नाकाहासा, टोंटो, पश्चिमी सिंहभूम), सनिका टोपनो (51 वर्ष, लोविंदपुर, मनोहरपुर, आनंदपुर, पश्चिमी सिंहभूम), सुनील सिंकू (38 वर्ष, मोंगरा, जगरनाथपुर, पश्चिमी सिंहभूम)।

Advertisement

केंद्रीय कारा दुमका से जो बंदी छूटेंगे
सीताराम मरांडी (65 वर्ष, विशुनपुर, जरमुंडी, दुमका), बारिक मियां (65 वर्ष, धरमपुर, नारायणपुर, जामताड़ा), कामदेव मरिक (78 वर्ष, बंदरबासा, जसीडीह, देवघर), समशेर अली (58 वर्ष, श्रीकुंड, कोटलपोखर, बरहरवा, साहिबगंज), प्रह्लाद महतो (कुरुमडीह, टोला, बाराबाद, मधुपुर, देवघर), कैलाश पासवान (51 वर्ष, घुटी, महागामा, गोड्डा), मोतीलाल साहा (50 वर्ष, सकड़भंगा, तालझारी, साहिबगंज), सुकल सोरेन (49 वर्ष, पाथरदाहा, रानेश्वर, दुमका), मनोज साहा (41 वर्ष, सकड़भंगा, तालझारी, साहिबगंज) व छोटू लहेरी (34 वर्ष, द्वारीचक, पथरगामा, गोड्डा)।

Advertisement
[metaslider id=15963 cssclass=””]

Advertisement
Advertisement
WhatsApp Image 2020-06-13 at 7.45.22 PM
IMG-20200108-WA0007-808x566
WhatsApp Image 2020-06-13 at 7.45.22 PM (1)
WhatsApp_Image_2020-03-18_at_12.03.14_PM_1024x512
previous arrow
next arrow

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

spot_img

Must Read

Related Articles

Don`t copy text!