jharkhand-lockdown-झारखंड में लग सकता है पूर्ण लॉकडाउन, आपदा व स्वास्थ्य विभाग ने मुख्यमंत्री को कराया हालात से अवगत, झारखंड सरकार ने पान-गुटखा के उत्पादन, बिक्री व वितरण पर 2021 तक के लिए लगायी पूर्णत: रोक

Advertisement
Advertisement

रांची : झारखंड में अब पूर्ण लॉकडाउन लगाया जा सकता है. इसको लेकर झारखंड सरकार के स्तर पर विचार किया जा रहा है. झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के समक्ष राज्य के आपदा विभाग और स्वास्थ्य विभाग की टीम ने अपनी रिपोर्ट पेश कर दी है और बताया है कि हालात बेकाबू होते नजर आ रहे है. हालात कम्यूनिटी स्प्रेड यानी सामुदायिक तौर पर बढ़ता हुआ नजर आ रहा है. ऐसे में जरूरी है कि इस तरह के लॉकडाउन को लागू कर दिया जाये. इसको लेकर अब मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के स्तर पर विचार होगा. दूसरी ओर, झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने 22 जुलाई को कैबिनेट की बैठक बुलायी है. बताया जाता है कि कैबिनेट की बैठक के दौरान भी इस रिपोर्ट पर चर्चा होगी. खास तौर पर शहरी इलाके में जिस तरह से केस बढ़ रहे है जबकि ग्रामीण इलाको में भी हालात बेकाबू हो रहे है, इस कारण अब सरकार पूर्ण लॉकडाउन यानी पहली बार जिस सख्ती से लॉकडाउन लगाया गया था, उसी तरह का लॉकडाउन राज्य में 15 दिनों के लिए लगाया जायेगा ताकि कोरोना का चेन को तोड़ा जा सके. इसके लिए पहल शुरू कर दी गयी है. दूसरी ओर, झारखंड सरकार के स्वास्थ्य विभाग ने गुटखा, पान और पान मसाला के उत्पादन, बिक्री और वितरण पर वर्ष 2021 तक के लिए पूर्ण रोक लगा दी है. इससे पहले भी स्वास्थ्य विभाग की टीम ने इस पर रोक लगायी थी, लेकिन इसको सिर्फ 2020 तक के लिए रोक लगाया गया था. झारखंड सरकार के स्वास्थ्य सचिव के स्तर पर इसका फैसला लिया गया कि अब वर्ष 2021 तक पूर्ण रुप से पान, गुटखा और पान मसाला की बिक्री, उत्पादन और वितरण पर रोक रहेगी. झारखंड सरकार ने इसके लिए अधिसूचना निकाल दी है.

Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement

Leave a Reply