spot_img

jharkhand-proud-कोल्हान का गौरव और बढ़ा, सरायकेला के छऊ गुरु शशधर को 8 नवंबर को राष्ट्रपति के हाथों मिलेगा पद्मश्री अवार्ड, कड़ी मेहनत का मिला प्रतिफल

राशिफल

छऊ गुरु शशधर आचार्य

सरायकेला : सरायकेला-खरसावां जिले के सरायकेला के छऊ गुरु शशधर आचार्य को 8 नवंबर को पद्मश्री का सम्मान मिलेगा. वर्ष 2020 में गणतंत्र दिवस के अवसर पर भारत सरकार द्वारा इन्हें सरायकेला छऊ नृत्य के विकास के क्षेत्र में महत्वपूर्ण योगदान के लिए पद्मश्री सम्मान की घोषणा की गई थी परंतु कोरोना संक्रमण को लेकर भारत सरकार द्वारा पद्मश्री का सम्मान नहीं दिया गया था. शशधर आचार्य सरायकेला छऊ से पद्मश्री पाने वाले सातवें गुरू हैं. वे अपने परिवार की पांचवीं पीढी हैं, जो छऊ नृत्य को आगे बढ़ाने के लिए प्रतिबद्ध है. बता दें कि शशधर आचार्य राजकीय छऊ नृत्य कला केंद्र के निदेशक भी रह चुके हैं. वहीं छऊ नृत्यक शशधर आचार्या को पद्मश्री मिलने से सरायकेला के छऊ प्रेमियों के बीच खुशी की लहर है. शशधर 50 देशों में छऊ नृत्य की कला का प्रदर्शन कर चुके हैं. वे दिल्ली के नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा में छऊ की ट्रेनिंग देते हैं. साथ ही पुणे के नेशनल स्कूल ऑफ फिल्म एंड टेलीविजन इंस्टीट्यूट में भी जाकर क्लास लेते हैं. शशधर आचार्या 1990 से 1994 तक राजकीय छऊ नृत्य कला केंद्र सरायकेला के निदेशक रहे. छऊ गुरु शशधर आचार्य को राष्ट्रपति भवन से इस संबंध में सूचना दी गई है. जानकारी हो जिले के एक और हस्ती छुटनी महतो को भी वर्ष 2021 में पद्मश्री का अवार्ड घोषणा किया गया था जिन्हें 9 ननवंबर को पद्मश्री अवार्ड दिया जाएगा.

WhatsApp Image 2022-04-29 at 12.21.12 PM
WhatsApp-Image-2022-03-29-at-6.49.43-PM-1
Shiv Yog Physiotherapy And Yoga Classes
spot_img

Must Read

Related Articles

Don`t copy text!