spot_img

jharkhand-rajyasabha-election-झारखंड में राज्यसभा की दो सीटों के लिए नामांकन की प्रक्रिया शुरू, चुनाव में ‘खेला’ होने के संकेत, सत्ता व विपक्ष के प्रत्याशियों के नाम पर संशय, सीएम हेमंत व कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी की मुलाकात बुधवार को संभव, नामों पर लग सकती है मुहर

राशिफल

रांची: झारखंड में राज्यसभा की दो सीटों के लिए 24 मई को अधिसूचना जारी होने के साथ ही नामांकन की प्रक्रिया शुरु हो गयी है. 31 मई तक नामांकन दाखिल कर सकते है. निर्वाचन आयोग द्वारा तय कार्यक्रम के अनुसार एक जून को नामांकन पत्रों की जांच होगी और तीन जून तक प्रत्याशी नाम वापस ले सकेंगे. 10 जून को राज्यसभा चुनाव का मतदान होगा. झारखंड में दो सीटों पर चुनाव होना है. यदि दो से ज्यादा प्रत्याशी होने पर ही चुनाव होगा. दो ही प्रत्याशी होने पर निर्विरोध होंगे. 10 जून को मतदान सुबह 9 बजे से शाम चार बजे तक होगा.(नीचे भी पढ़े)

उसी दिन मतगणना भी होगी. केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी व महेश पोद्दार का कार्यकाल जुलाई में समाप्त हो रहा है. इन दोनों सीटों पर भाजपा का कब्जा है. लेकिन इस बार दो सीटों के लिए सत्ता व विपक्ष की दावेदारी मजबूत दिख रही है. सत्ता व विपक्ष के नेताओं की ओर से आ रहे बयान से लग रहा है कि राज्यसभा चुनाव में खेला होबो. राज्यसभा चुनाव आते ही राज्य में धनकुबैरों की इंट्री हो जाती है. एक ऐसी भी खबर आ रही है कि धनकुबैर को भाजपा कार्यालय के पास गश्ती लगाते देखा गया.जिस समय राज्य में झारखंड लोकतांत्रिक मोर्चा बना था उसी समय से कयास लगाए जा रहे है कि यह मोर्चा राज्यसभा चुनाव में कोई बड़ा खेला करेगा. मोर्चा में आजसू के दो,एनसीपी के एक व दो निर्दलीय विधायक शामिल है. अंकगणित आंकड़े को देखने से पता चलता है कि सत्ताधारी या विपक्ष किसी के पास दोनों सीट निकालने के लिए संख्या बल नहीं है..(नीचे भी पढ़े)

विधानसभा के दलगत स्थिति को देखें तो सामान्य तौर पर एक सीट सत्ताधारी गठबंधन को और एक सीट विपक्ष के पास जा सकता है. दो से ज्यादा प्रत्याशी होने की स्थिति में दूसरी वरीयता के वोटों की गिनती होती है.राज्यसभा चुनाव में गिनती के दिन शेष बचे हैं, लेकिन अभी तक झारखंड में किसी भी दल ने अपने प्रत्याशी को लेकर पत्ता नहीं खोला है. हालांकि, कई नामों को लेकर अटकलों का बाजार गर्म है. भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास का नाम आगे चल रहा है. इसके आलावा प्रदेश महामंत्री प्रदीप वर्मा,आदित्य साहू, प्रतुल नाथ शाहदेव, का भी नाम शामिल है. वहीं कांग्रेस व झामुमो में अभी सहमति नहीं बनी है..(नीचे भी पढ़े)

कांग्रेस राज्यसभा की एक सीट पर अपनी दावेदारी कर रही है.वहीं झामुमो दोनों सीटों पर उम्मीदवार उतारने की तैयारी में है. हालांकि अब तक झामुमो की तरफ से किसी का नाम आगे नहीं आया है. कांग्रेस ने कहा कि पिछली बार पार्टी ने आत्मसंयम रखते हुए बढ़-चढ़कर झामुमो सुप्रीमो शिबू सोरेन का समर्थन किया था. इसलिए झामुमो को गठबंधन की मजबूती के लिए इस बार कांग्रेस को मौका देना चाहिए. कांग्रेस की ओर से प्रदेश अध्यक्ष राजेश ठाकुर का नाम उम्मीदवारों में सबसे आगे बताया जा रहा है..(नीचे भी पढ़े)

इसके आलावा पूर्व केंद्रीय मंत्री सुबोधकांत सहाय, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष डॉ अजय कुमार, पूर्व सांसद फुरकान अंसारी के नाम की भी चर्चा है. सत्ताधारी गठबंधन की तरफ से साझा उम्मीदवार पर भी बातें हो रही है जिसमें कपिल सिब्बल का नाम सामने आ रहा है. दूसरी ओर खबर है कि झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन दिल्ली रवाना हो रहे है.जहां पर कांग्रेस के अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात करेंगे. इस दौरान दोनों के बीच राज्यसभा चुनाव में साझा उम्मीदवार या फिर कांग्रेस के उम्मीदवार के नामों पर विचार विमर्श किया जाएगा.

WhatsApp Image 2022-04-29 at 12.21.12 PM
WhatsApp-Image-2022-03-29-at-6.49.43-PM-1
Shiv Yog Physiotherapy And Yoga Classes
spot_img

Must Read

Related Articles

Don`t copy text!