kolhan-tipper-hywa-association-हाइवा मालिकों के समर्थन में पहुंचे सांसद, एक सप्ताह से हड़ताल पर, कारोबारी चिंतित

Advertisement
Advertisement

जमशेदपुर : सरकार के फरमान के बाद पूरे राज्य में हाईवा से बालू उठाव पर पूरी तरह से रोक लगा दी गई है. इधर सरकार के फरमान के बाद राज्य भर के हाईवा मालिकों का बुरा हाल है. वही जमशेदपुर में पिछले एक सप्ताह से हाईवा चालक हड़ताल पर हैं. आपको बता दें, कि सरकार के रुख के बाद से हाईवा चालक लगातार सरकारी फरमान का विरोध कर रहे हैं. इधर हड़ताल पर बैठे हाईवा मालिकों से मिलने जमशेदपुर के सांसद विद्युत वरण महतो देर शाम सोनारी स्थित दोमुहानी नदी के किनारे पहुंचे. जहां कोल्हान टिपर हाइवा एसोसिएशन की मांग को सांसद ने सही ठहराते हुए सरकार से आदेश पर पुनर्विचार किए जाने की मांग की है. जमशेदपुर सांसद ने बताया कि झारखंड सरकार को इन हाईवा मालिकों के साथ इस रोजगार से जुड़े चालकों और खलासियों और उनके आश्रितों के बारे में सोचना चाहिए. उन्होंने बताया कि सरकार बालू खनन को लेकर सख्त कानून बना दे, लेकिन उठाव पर पूरी तरह से रोक लगाना सही नहीं है. सांसद ने कहा कि ट्रेक्टर से बालू उठाव और गंतव्य तक पहुंचाने में जो खर्च आता है उससे आम लोगों को भी असर पड़ेगा. वही जमशेदपुर सांसद ने हड़ताल पर बैठे हाइवा मालिकों और चालकों को हर संभव सहयोग का भरोसा दिलाया है.

Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement

Leave a Reply