अनाज की मांग पर गुड़ाबांदा के भाखर में रोड जाम करने के मामले में सिंहपुरा की मुखिया समेत छह पर नामजद प्राथमिकी दर्ज

Advertisement
Advertisement
  • प्रखंड विकास पदाधिकारी सीमा कुमारी ने दर्ज कराया मामला

गुड़ाबांदा : गुड़ाबांदा के भाखर के पास विगत सोमवार को पांच माह से अनाज नहीं मिलने से आक्रोशित ग्रामीणों द्वारा सड़क जाम करने के मामले में प्रखंड विकास पदाधिकारी सीमा कुमारी के बयान पर सिंहपुरा पंचायत की मुखिया वीणापानी मांडी समेत छह लोगों पर नामजद और एक सौ अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है. कांड संख्या 30/19 भादवि की धारा 149, 283, 323, 341,353, 504 और 506 के तहत मामला दर्ज कर पुलिस छानबीन में जुटी है.
दर्ज प्राथमिकी में प्रखंड बीडीओ ने कहा है कि सुबह 8:30 बजे वे बूथों का निरीक्षण करने और बहरागोड़ा में आयोजित स्वास्थ्य से संबंधित कार्यक्रम में भाग लेने जा रही थी. भाखर के पास देखा कि सिंहपुरा पंचायत के मुखिया वीणापानी मांडी अनाज नहीं मिलने से आक्रोशित भाखर के ग्रामीणों के साथ बिना किसी पूर्व सूचना के पुल जाम करने जा रही थी। उन्हें समझाने का प्रयास किया परंतु वे नहीं मानी। अनर्गल बातें की गई और बांस लगाकर पुल को जाम कर दिया. घाटशिला के अनुमंडल पदाधिकारी के साथ दूरभाष पर बात कर वहां एक दंडाधिकारी भेजा. परंतु दंडाधिकारी के साथ भी धक्का-मुक्की की गई. मैंने राशन के मामले को लेकर मुखिया वीणापानी मांडी से डीएसओ की दूरभाष पर बात कराई. बावजूद, जाम को नहीं हटाया गया. जाम के कारण यात्रियों को भारी परेशानी हुई. एक मरीज को लेकर जा रहे एंबुलेंस को भी नहीं जाने दिया गया. सिंहपुरा पंचायत की मुखिया वीणापाणी मांडी, भाखर के तारा पदो धीवर, बापी नायक और तपन नायक, ज्वालकांटा के पैथोलॉजिस्ट स्वरूप राय तथा चाकशोल के पशुपति माहली समेत 100 अज्ञात लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज हुई है।

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement