spot_img
शुक्रवार, मई 14, 2021
spot_imgspot_img
spot_img

Palamu : पत्रकार सुरक्षा कानून की मांग को लेकर पत्रकारों ने दिया महाधरना, उपायुक्त को सौंपा मांग पत्र

Advertisement
Advertisement

पलामू : झारखंड में पत्रकार सुरक्षा कानून लागू कराने के लिए गुरुवार को पूरे झारखंड प्रदेश के जिला मुख्यालय में झारखण्ड जर्नलिस्ट एसोसिएशन द्वारा एक दिवसीय महाधरना दिया गया। पलामू जिला मुख्यालय के कचहरी परिसर में जिला जन सूचना संपर्क कार्यालय के समीप झारखण्ड जर्नलिस्ट एसोसिएशन की पलामू इकाई की ओर से महाधरना दिया गया। महाधरना की अध्यक्षता वरिष्ठ पत्रकार संजय सिंह ‘उमेश’ ने की। उन्होंने कहा कि पत्रकारों को लोकतंत्र का चौथा स्तंभ का प्रतीक माना जाता है। वहीं उन्हें कई तरह से प्रताड़ित किया जाता है। पत्रकारों पर हो रहे दमनकारी घटनाओं, हमले और हत्यायों से पत्रकारों की स्वतंत्रता खतरे में है। पूरे देश की तरह झारखंड में भी पत्रकारों पर माफियाओं, आपराधिक तत्वों द्वारा हमले जारी हैं। झारखंड के कई पत्रकार साथी इन हमलों के शिकार होकर अपनी जान गवां चुके हैं। दर्जनों पत्रकारों पर झूठा केस दर्ज कर जेल भेजने और प्रताड़ित करने का कार्य बदस्तूर जारी है। कई बार शासन-प्रशासन द्वारा भी प्रकाशित समाचारों से नाखुश होकर झूठा मुकदमा दर्ज किया जाता है। ऐसी स्थिति में पत्रकार सुरक्षा कानून का लागू होना नितांत आवश्यक है। (नीचे भी पढ़ें)

Advertisement
Advertisement

संजय सिंह ‘उमेश’ ने कहा कि पत्रकारों को कानूनी सुरक्षा देना शासन-प्रशासन का दायित्व है। जब तक पत्रकार बेख़ौफ़ होकर समाचार संकलन नहीं करेंगे, तब तक लोकतंत्र सुरक्षित नहीं रह पाएगा। जिस देश में पत्रकार महफूज नहीं हैं, वहां लोकतंत्र की बात करना बेमानी है। झारखंड जर्नलिस्ट एसोसिएशन वर्षों से पत्रकार सुरक्षा कानून लागू करने के लिए समय-समय पर सरकार से मांग करता रहा है। आंदोलन के जरिये भी अपनी मांग मनवाने के प्रयास किया है। देश के राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री से लेकर राज्य के मुख्यमंत्री तक को ज्ञापन देकर भी पत्रकार सुरक्षा कानून लागू करने की मांग की है। पत्रकारों की मांग के बाद भी केंद्र या राज्य सरकार पत्रकार सुरक्षा कानून लागू नहीं कर रही है। इसी मांग को लेकर पत्रकारों ने महाधरना दिया। उन्होंने कहा कि हम सब पत्रकार महाधरना के माध्यम से सरकार का ध्यान पत्रकार सुरक्षा कानून की ओर दिलाना चाहते हैं। राज्य सरकार से हमारी मांग है कि पत्रकारों के मामले को गंभीरता से लेते हुए छत्तीसगढ़ और ओड़ीसा की तर्ज पर झारखंड में भी पत्रकार सुरक्षा कानून जल्द से जल्द लागू करें। ताकि हम सब पत्रकार सत्य, निर्भीक और जन हितैषी पत्रकारिता कर देश के लोकतंत्र की रक्षा में अपनी महती भूमिका अदा कर सकें। महाधरना में झारखंड जर्नलिस्ट एसोसिएशन के पलामू जिला के कई प्रखंडो के दर्जनों पत्रकार उपस्थित थे। महाधरना के उपरांत मुख्यमंत्री के नाम पलामू उपायुक्त को पत्रकार सुरक्षा कानून को लागू करने के लिए एक मांग पत्र सौपा गया।

Advertisement

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

spot_imgspot_img

Must Read

Related Articles

Don`t copy text!