spot_img

चूहों का आतंक, जमीन धंसने से घर की दीवारों में आई दरार, बाल बाल बचा परिवार, अचानक भूकंप जैसा झटका लगा और घर की दीवार के साथ छज्जा भी दब गया

राशिफल

राजनगर : सरायकेला-खरसावां जिले के राजनगर प्रखंड क्षेत्र के बड़ासिजुलता पंचायत के बड़ा सिजुलता गांव का सरदार टोला में शत्रुघ्न सरदार और उसकी पत्नी लैला सरदार गुरुवार दोपहर खेत मे काम करने गये थे. उनका छोटा बेटा घर पर था. अचानक एक भूकंप जैसा झटका लगा और जोर की आवाज के साथ छत का छज्जा एक साइड झुक गया और मिट्टी की दीवार दो भाग में बंट गई. हालाकि पूरी दीवार नही गिरी. लेकिन जैसी अवस्था मे है, उससे यह लगता है कि जल्द ही दीवार गिर जाएगी. घर के अंदर का हिस्सा पूरी तरह से ध्वस्त हो गया और बाहरी हिस्से की मिट्टी भी धस कर गिर गई. वहीं बच्चे ने तुरंत घर से बाहर निकल कर अपनी जान बचाई.

ये सुन कर माता पिता दौड़ कर घर पहुंचे तो उनके होश उड़ गए. एक तो उनकी माली हालत ठीक नही है और ऐसे में जो बसेरा था, वह भी उजड़ गया. घर के मुखिया शत्रुघ्न सरदार विकलांग की श्रेणी में आते है. उनकी दोनों हांथो की उंगलियां मुड़ी हुई है. अपने परिवार का पालन पोषण बड़ी मुश्किल से कर पाते है. पत्नी लैला सरदार मनरेगा मजदूरी कर अपनी जीवन की गाड़ी चलाते है. घर की दीवार कभी भी गिर सकती है. यही डर से घर मे अब अंदर जाना, मौत को दावत देने के जैसा है. जिस कारण रात में अपने परिवार के साथ घर के बाहर बरामदे में सो रहे है जबकि इस सर्द मौसम में घर के बाहर सोना मुश्किल हो रहा है.

मजबूरी का नाम जिंदगी है. इस बढ़ती ठण्ड में भी बाहर सोना पड़ रहा है. बताया जा रहा है कि यह घर कई वर्ष पहले बना है. पहले कभी ऐसी कोई घटना नही हुई. स्थानीय लोगों का यह भी कहना है कि इस गांव में चूहों का प्रभाव काफी बढ़ गया है. शायद जमीन के नीचे की मिट्टी चूहों के द्वारा कुतर दी होगी. जिस कारण जमीन अंदर से धस गया और यह घटना हुई. अब लाचार परिवार क्या करें यह एक बड़ी समस्या है. ऐसे में प्रशासन को जल्द ही इस परिवार के बारे मे कुछ उचित उपाय करने की आवश्यकता है. ऐसे में अब देखना दिलचस्प होगा कि कौन इन बेसहारा का सहारा बनेगा.

WhatsApp Image 2022-04-29 at 12.21.12 PM
WhatsApp-Image-2022-03-29-at-6.49.43-PM-1
Shiv Yog Physiotherapy And Yoga Classes
[adsforwp id="129451"]

Must Read

Related Articles

Don`t copy text!