Home खबर Saraikela : सरायकेला-खरसावां जिला के तिरूलडीह और इचागढ़ में दिखने लगा मुख्यमंत्री...

Saraikela : सरायकेला-खरसावां जिला के तिरूलडीह और इचागढ़ में दिखने लगा मुख्यमंत्री के फरमान का असर, एक हफ्ता में अवैध बालू के धंधे में संलग्न पांच ट्रैक्टर जब्त

सरायकेला : मुख्यमंत्री के फरमान का असर सरायकेला- खरसावां जिला के तिरूलडीह और इचागढ़ थाना क्षेत्र में दिखने लगा है. जहां बीते एक हफ्ते के भीतर तिरूल्डीह थाना पुलिस ने मंगलवार तक पांच ट्रैक्टरों को अवैध बालू खनन करते दबोचा है, वही इचागढ़ थाना पुलिस ने भी तीन अवैध बालू लदे ट्रैक्टर जब्त किए हैं. इससे साफ हो गया है कि क्षेत्र में बालू खनन का कारोबार धड़ल्ले से संचालित हो रहा था. इधर कोल्हन डीआईजी के सख्त रुख को देखते हुए तिरुलडीह थाना पुलिस भी रेस हो गई है. मंगलवार को तिरूल्डीह थाना पुलिस ने दो और अवैध बालू लदे ट्रैक्टर जप्त किए हैं. मंगलवार की शाम करीब 5:00 बजे के आसपास कुकड़ू प्रखंड के तिरुलडीह थाना क्षेत्र के पैलोंग सापारूम घाट से पुलिस ने उक्त दोनों ट्रैक्टरों को अवैध बालू खनन करते जप्त किया है. बताया जा रहा है कि दोनों अवैध बालू लदे ट्रैक्टर जप्त कर अग्रतर कारवाई हेतु खनन विभाग को सूचित किया गया है. देर रात तक बालू माफियाओं के खिलाफ एफ आई आर दर्ज नहीं किए जाने की सूचना मिली है. बता दें कि प्रशासनिक सख्ती के बाद भी तिरूल्डीह थाना क्षेत्र से लगातार हो रहे बालू खनन और उठाव कहीं ना कहीं पुलिस की कार्यशैली को कटघरे में खड़ा कर रही है. तिरूल्डीह थाना क्षेत्र की सड़कों पर बगैर नंबर प्लेट के ट्रैक्टरों को दौड़ते देखना आम बात है. बताया जा रहा है, कि इन ट्रैक्टरों से अवैध बालू का उठाव किया जाता है. पकड़े जाने पर माफिया बच निकलते हैं. वही दिन हो या रात हर वक्त बालू माफिया क्षेत्र में सक्रिय रहते हैं. यहां से बड़ी आसानी से बालू बंगाल ले जाया जाता है.

NO COMMENTS

Leave a Reply

Don`t copy text!