spot_img

south-eastern-railway-success-दक्षिण-पूर्व रेलवे ने 35 दिनों के पहले ही 100 मिलियन टन का माल ढुलाई का बनाया रिकॉर्ड, सबसे ज्यादा हुई आयरन ओर, कोयला और स्टील की ढुलाई

राशिफल

जमशेदपुर : दक्षिण पूर्व रेलवे को माल ढुलाई के लिए भारतीय रेल में अलग पहचान है. इसको बरकरार रखते हुए दक्षिण पूर्व रेलवे ने पिछले साल की अपेक्षा 35 दिनों के पहले ही 100 मिलियन टन माल की ढुलाई कर ली. इस दौरन रेलवे ने साइक्लोन यास और भारी बारिश को झेला था. इसके बावजूद माल की ढुलाई को निरंतर जारी रखा गया. औद्योगिक क्षेत्र होने के कारण यहां लगातार माल की ढुलाई होती रही. 1 अप्रैल से लेकर 11 अक्तूबर तक कोयले की लोडिंग 21.13 मिलियन टन हुआ, जो अब तक का सबसे ज्यादा ढुलाई का रिकॉर्ड है जबकि आयरन ओर का 55.95 मिलियन टन रहा, वहीं स्टील लोडिंग 10.14 मिलियन टन, सीमेंट 6.55 मिलियन टन की लोडिंग रही. हाल ही में भारतीय रेल ने बिजनेस डेवलपमेंट यूनिट की स्थापना जोनल और डिवीजनल स्तर पर किया है, जिसका लाभ भी हुआ है. इसके अलावा लगातार यहां माल ढुलाई को सुनिश्चित कराने के लिए लगातार वरीय अधिकारियों का दौरा भी होता रहा है. लंबा ट्रेन संचालित कर एक बार में ज्यादा माल की ढुलाई के लिए भी रेलवे ने काफी मेहनत की है और लगातार इसका प्रतिफल भी सामने आया है. वर्तमान में चालू वित्तीय वर्ष 2021-2022 में 11 अक्तूबर तक दक्षिण पूर्व रेलवे ने 284 लांग हाउल ट्रेन का संचालन किया है जबकि पिछले साल 95 लांग हाउल ट्रेन का संचालन माल ढुलाई के लिए किया गया था.

WhatsApp Image 2022-04-29 at 12.21.12 PM
WhatsApp-Image-2022-03-29-at-6.49.43-PM-1
Shiv Yog Physiotherapy And Yoga Classes
spot_img

Must Read

Related Articles

Don`t copy text!