stair-importance-सीढ़ियों की दिशा देती है क्या संकेत, जानें सीढ़ियों के नीचे क्या रखे व क्या नहीं

राशिफल

शार्प भारत डेस्क : वास्तु शास्त्र के नियमों का पालन करके लोग अपने घरों का निर्माण करवाने लगे है. मान्यता है कि सही दिशा और सही कोण के माध्यम से घर को बनवाने से घर में सुख-शांति बनी रहती है. सुख-शांति के साथ घर में धन और वैभव भी आती है. कहा जाता है कि सीढ़ियां सफलता का रास्ता है. वास्तु के अनुसार सीढ़ियां बनवाने से घर से ना सिर्फ नेगेटिव एनर्जी बाहर चली जाती है बल्कि कामयाबी का रास्ता भी खुल जाता है. आज हम आपको बताते है कि सीढ़ियों के नीचे क्या रखना चाहिए और क्या नहीं. किस दिशा में होनी चाहिए सीढ़ियां. (नीचे भी पढ़ें)

सीढ़ियों की दिशा करती है धन में परिवर्तन
वास्तु के अनुसार पारिस्थितिकी तंत्र में दिशाएं विशेष रूप से महत्वपूर्ण है. वास्तु के अनुसार घर की दक्षिण-पश्चिम दिशा में सीढ़ी बनाना शुभ होता है. इससे घर में धन की वृद्धि होती है. वहीं घर के मध्य भाग में कभी भी सीढ़ियां नहीं बनानी चाहिए क्योंकि यहां ब्रह्मा रहते हैं. साथ ही उत्तर-पूर्व दिशा में सीढ़ियां नहीं बनानी चाहिए. सीढ़ियों के संबंध में ध्यान रखें कि सीढ़ियों की संख्या हमेशा विषम होनी चाहिए. वहीं ईशान कोण पर भी सीढ़ियां नहीं बनाना चाहिए. ईशान कोण में सीढ़ियां बनाने से आपको जीवन में परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है. (नीचे भी पढ़ें)

सीढ़ियों के नीचे ना रखें ये चीजें
सीढ़ियां हमे जीवन में आगे बढ़ने का संदेश देती है. सीढ़ियों के नीचे कभी भी आग से जुड़ा कोई भी सामान नहीं रखनी चाहिए. इससे वास्तु दोष माना जाता है. सीढ़ियों के नीचे किचन, पूजा घर नहीं होनी चाहिए. इन सभी चीजों के होने से नकारात्मकता आती है. वहीं सीढ़ियों के नीचे गमले में पेड़ लगा सकते है. (नीचे भी पढ़ें)

ऐसी सीढ़ियां बढ़ा सकती है परेशानी-
सीढ़ियां हमेशा चौड़ी और उचित रोशनी वाली होनी चाहिए और सीढ़ियों के आरंभ और अंत में द्वार होने चाहिए. साथ ही सीढ़ियों के नीचे जूते-चप्पल या फिर बेकार का सामान नहीं रखना चाहिए. ऐसा होने से बच्चे के स्वास्थ्य में उतार-चढ़ाव आता रहता है और मकान मालिक की परेशानी बढ़ती रहती है. (नीचे भी पढ़ें)

इतनी संख्या की होनी चाहिए सीढ़ियां-
सीढ़ियां हमेशा विषम संख्या  में होनी चाहिए. जैसे 7,11,15,19 या फिर 21 आदि. आम तौर पर घर में 17 सीढ़ियां शुभ मानी जाती है. घर में विषम संख्या में सीढ़ियां खुशियां बनाए रखती है और मकान मालिक के विकास में लोकप्रियता में वृद्धि होती है. 

Must Read

Related Articles