टाटा हिताची के खड़गपुर शिफ्ट होने से टेल्को कॉलोनी में खाली है 400 क्वार्टर

Advertisement
Advertisement

जमशेदपुर : टाटा मोटर्स समेत उसके अनुषंगी इकाइयों के कर्मचारियों लिए टेल्को कॉलोनी में क्वार्टर आवंटित किया जाता है। फिलहाल टेल्को कॉलोनी में विभिन्न प्रकार के 400 क्वार्टर खाली है। इसका मुख्य वजह है टाटा हिताची कंपनी का खड़गपुर में शिफ्ट होना। इसके चलते कॉलोनी में कई क्वार्टर खाली पड़े हुए हैं। साथ ही एक और वजह बताई जा रही है की फिलहाल कॉलोनी के कई फ्लैट व क्वार्टरों का रेनोवेशन का कार्य युद्ध स्तर पर चल रहा है। जिस फ्लैट का रेनोवेशन किया जाता है उस ब्लाक के क्वार्टरों के कर्मचारियों को दूसरे क्वार्टर में शिफ्ट कर दिया जाता है, जिसके चलते क्वार्टर को खाली रखा गया है। हालांकि क्वार्टर में कर्मचारी रहने से क्वार्टर सुरक्षित व मेंटेनेंस होते रहता है। जानकार बताते हैं कि टाटा हिताची खड़गपुर में शिफ्ट हो जाने के बाद खाली क्वार्टरों खासकर जर्जर क्वार्टरों को को प्रबंधन तोड़ना चाहता है। खाली क्वार्टर की सुरक्षा व मेंटेनेंस दोनों पर भारी पड़ रहा खर्च।
कॉलोनी में डोर स्टेप से कचरा उठा शुरूटेल्को कॉलोनी मैं प्रत्येक पाठक से उठाओ का अनूठी पहल शुरू हो चुकी है गीला सूखा एवं ई-कचरा का उठाओ अलग-अलग डस्टबिन में किया जा रहा है इसके लिए कॉलोनी वासियों को जागरूक किया जा रहा है
कचरा से बनाए जा रहे हैं खाद व सीमेंटटेल्को कॉलोनी से उठाए गए कचरे से खाद व सीमेंट बनाए जा रहे हैं गीला कचरा का निष्पादन हुडको के पास बने फैक्ट्री में किया जा रहा है जहां खेत के लिए खाद बनाए जा रहे हैं जबकि कचरा प्लास्टिक को एसीसी सीमेंट कंपनी ले जा रही है जबकि यह कचरा को साक्षी के एक पार्टी को दिया जा रहा है

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement