tatanagar-station-hungama-टाटानगर स्टेशन में हंगामा, महिला यात्री के साथ छेड़खानी करने वालो को परिजनों ने ट्रेन से उतारकर पीटा, पुलिस ने पकड़ा, देखिये-video

राशिफल

जमशेदपुर : टाटानगर रेलवे स्टेशन में उस समय अफरा-तफरी का माहौल उत्पन्न हो गया जब दुरंतो एक्सप्रेस से छेड़खानी के आरोपी युवकों की पीड़ित युवती के परिजनों ने जमकर धुनाई कर दी. किसी तरह आरपीएफ और जीआरपी ने आरोपियों को हिरासत में लेकर आरपीएफ पोस्ट तक पहुंचाया और जांच पड़ताल शुरू कर दी. जानकारी के अनुसार जमशेदपुर निवासी एक युवती पुणे से पढ़ाई कर दुरंतो एक्सप्रेस के बी8 कोच से जमशेदपुर लौट रही थी. दुरंतो एक्सप्रेस में सफर के दौरान उसी कोच में सफर कर रहे लगभग 8 युवकों ने युवती के साथ छेड़खानी शुरू कर दी. बताया जाता है कि वे अपने आप को आर्मी का जवान बता रहे थे. छेड़खानी से परेशान होकर युवती किसी तरह से युवकों के चंगुल से अपने आप को छुड़ाकर बी5 पहुंची और सारी घटना की जानकारी अपने परिजनों को दी. (नीचे भी पढ़ें और वीडियो देखें)

घटना की जानकारी मिलते ही परिजन टाटानगर रेलवे एसपी के पास पहुंचे और सारी घटना बतायी. घटना की जानकारी मिलते ही आरपीएफ और जीआरपी दोनों सक्रिय हो गए. इधर दुरंतो एक्सप्रेस के टाटानगर पहुंचते ही परिजन, आरपीएफ और जीआरपी के साथ प्लेटफार्म नंबर 4 पहुंचे और छेड़खानी कर रहे युवकों की पहचान कर 3 युवकों को धर दबोचा और जमकर धुनाई कर दी. किसी तरह से आरपीएफ और जीआरपी ने तीनों युवकों को परिजनों के चुंगल से छुड़ाकर अपने हिरासत में लिया और जांच पड़ताल शुरू की. पांच युवक फरार होने में सफल रहे. (नीचे भी पढ़ें और वीडियो देखें)

घटना के संबंध में जानकारी देते हुए युवती के परिजनों ने बताया कि पुणे से दुरंतो एक्सप्रेस से उनकी भतीजी पढ़कर लौट रही थी, जहां चलती ट्रेन में अपने आप को आर्मी का जवान बता रहे युवकों ने छेड़खानी की और काफी हद तक परेशान किया. किसी तरह से उनकी घर की बच्ची टाटानगर पहुंची है. उन्होंने बताया कि 3 युवकों को रेल पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है और जांच की तलाश कर रही है. (नीचे भी पढ़ें और वीडियो देखें)

हिरासत में लिए गए युवकों की पहचान आर्मी के जवान के रूप में हुई है. पुलिस उन्हें हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है. वहीं जीआरपी के पुलिस पदाधिकारी ने बताया कि चलती ट्रेन में युवती के साथ छेड़खानी का मामला प्रकाश में आया है. जानकारी मिलते ही छेड़खानी करने वाले लोगों को हिरासत में लेकर जांच-पड़ताल की जा रही है. हालांकि कितने की संख्या में युवक हिरासत में लिए गए हैं और वे आर्मी के जवान हैं या नहीं इस मामले में कुछ भी बताने से उन्होंने साफ इनकार कर दिया.

Must Read

Related Articles