टीआरएफ के कर्मचारियों ने की बैठक, राकेश्वर का विरोध, मांगा वाजिब हक और बोनस, सीएम दरबार पहुंचा मामला

Advertisement
Advertisement
जुबिली पार्क में बैठक करते टीआरएफ के कर्मचारी.

जमशेदपुर : बंदी के कगार पर पहुंच चुका मुख्यमंत्री रघुवर दास के विधानसभा क्षेत्र की एक और कंपनी टीआरएफ के कर्मचारी बोनस समेत अन्य सुविधा की मांग को लेकर आंदोलित है. यहां के कर्मचारियों का वेज रिवीजन पिछले कई वर्षों से नहीं हो पाया है. इसके अलावा उनको बोनस तक नहीं दिया जा रहा है. पिछले कई साल से 8.33 फीसदी बोनस ही मिल रहा है. इसको देखते हुए मजदूरों ने बगावती तेवर अपना लिया है. इन मजदूरों ने बुधवार को जुबिली पार्क में बैठक की. इस बैठक में मुख्य तौर पर टीआरएफ यूनियन के अध्यक्ष राकेश्वर पांडेय का विरोध किया और मजदूरों का अहित करने का आरोप लगाया. इन लोगों ने बाद में मुख्यमंत्री रघुवर दास के जमशेदपुर स्थित आवास गये और वहां जाकर उनसे वाजिब हक और बोनस दिलाने की मांग की. मुख्यमंत्री के आप्त सचिव मनिंद्र चौधरी ने इसका पूरा लिखित तौर पर आवेदन देने को कहकर उनको तत्काल लौटा दिया. बोनस समेत वेज रिवीजन जैसे मुद्दे को लेकर टीआरएफ के कर्मचारी आंदोलित है. पिछले कई दिनों से सारे कर्मचारी कैंटीन का बहिष्कार कर रहे है जबकि काला बिल्ला लगाकर भी विरोध किया जा रहा है.

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement