spot_img
शनिवार, अप्रैल 17, 2021
More
    spot_imgspot_img
    spot_img

    west- singhbhum-crime- प्रेमिका गड्डे में गिरी तो उसके दुपट्‌टे से गर्दन में बांध कर प्रेमी ने कर दी हत्या,सात दिन में पार्वती लागुरी हत्याकांड का पुलिस ने किया खुलासा

    Advertisement
    Advertisement


    चाईबासा. सात दिन पूर्व जगन्नाथपुर थाना के अंतर्गत बुड़ाकमान जाने वाले रास्ते के डाकुवा जंगल में अज्ञात अपराधियों द्वारा अज्ञात 21 वर्षीय युवती की हत्या कर फेंक दिया गया था. जिसे जगन्नाथपुर पुलिस ने शव बरामद कर मामले की जांच में जुटी हुई थी. इसी मामले सात दिन बाद ही जगन्नाथपुर अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी प्रदीप उरांव ने मामले का खुलासा करते हुए तकनीकि सेल का सहायता लेकर हत्यारे को गिरफ्तार करने में सफल रहे. गिरफ्तार अभियुक्त को शनिवार को जेल भेज दिया गया.

    Advertisement
    Advertisement

    इस संबंध में जगन्नाथपुर एसडीपीओ प्रदीप उरांव नें बताया कि डाकुवा जंगल के मुण्डा संग्राम सिंह के द्बारा बताया गया था कि बुढ़ाकमान में एक अज्ञात लड़की के शव पड़ा हुआ है. इसी सूचना के आलोक में जगन्नाथपुर थाना में अज्ञात अपराधियों के विरूद्व मामला दर्ज किया गया था. वादी द्वारा लिखित सूचना के आलोक में अनुमंडल पदा जगन्नाथपुर, थाना प्रभारी जगन्नाथपुर एवं थाना के सशस्त्र बल सा बुढ़ाकमान स्थित घटनास्थल पहुंचे तो पाये की डाकुवा जंगल में खोदे गये गड्ढे में एक अज्ञात लड़की का शव पड़ा हुआ है. शव को देखने से प्रथम दृष्टया से ऐसा प्रतीत हुआ कि किसी अज्ञात अभियुक्तों के द्वारा 08-09 दिन पहले हत्या कर शव को गडढ़े में फेंक दिया गया है. जिसे पुलिस टीम द्वारा शव को अपने कब्जे में लेते हुए पोस्टमाटर्म के लिए सदर अस्पताल चाईबासा भेजा गया. 17 फरवरी को शव की पहचान हेतु फोटोग्राफ समाचार पत्र में प्रकाशित की गई.

    Advertisement

    खबर प्रकाशित होने के पश्चात उक्त शव के परिजन माता मानी लागुरी जेटेया थाना क्षेत्र के उदाजो गांव में रहती है. मृतका के मामा उदाजो सुरेश बोंबोंगा कलईया के टोला मानकीसा जगन्नाथपुर थाना क्षेत्र में रहते है. वे दोनो थाना पहुंचे एवं बताया कि खबर में प्रकाशित मृतिका मेरी बेटी है, जिसकी नाम पार्वती लागुरी है. जिसे जगन्नाथपुर थाना द्वारा सदर अस्पताल चाईबासा ले जाकर पहचान कराने के बाद शव को दाह संस्कार हेतु उन्हें सुपूर्द किया गया. पुलिस द्वारा पेशेवर तरीके से अनुसंधान के क्रम में मृतिका का मोबाईल नंबर प्राप्त कर तकनीकी सहायता से संदेह के आधार पर एक संदेही व्यक्ति शम्भु बोबोंगा को उसके घर से 19 फरवरी को अपने कब्जे में लेकर पूछताछ करने के लिए बुलाया. काफी पूछताछ करने के बाद उन्होंने हत्या करने की बात स्वीकार कर लिया. इसके बाद उसे गिरफ्तार किया गया. उन्होंने बताया कि वह वर्ष 2016 से पार्वती लागुरी से प्रेम करता था. अभियुक्त जब किसी दूसरी लड़की से बातचीत करता था तो मृतिका उसे गाली गलौज करने लगती थी और बोलती थी कि तुम दूसरी लड़की से क्यों बात करते हो. मृतिका अभियुक्त से शादी करना चाहती थी पर अभियुक्त उससे शादी नहीं करना चाहता था.

    Advertisement

    मृतिका बराबर शादी करने का दबाव बनाती थी और बोलती थी कि तुम मुझसे शादी नहीं करोगे तो तुम्हें केश में फंसा दूंगी या जहर खाकर आत्महत्या कर लुंगी. अभियुक्त ने आवेश मे आकर सोचा कि मृतिका को हमेशा के लिए अपने रास्ते से हटा देना चाहिए और सुनियोजित तरीके से पांच फरवरी के संध्या में मोबाईल के माध्यम से मृतिका को फोन कर तोड़ांगहातु रेलवे क्रॉसिंग के पास बुलाया और वहां से अपने मोटरसाईकिल में बैठाकर शाम में बुढ़ाकमान जाने वाली रास्ता में जंगल के किनारे ले जाकर मृतिका को उसके दुपट्टे से गर्दन में कसकर हत्या करने का प्रयास किया तो वह अपने आप को छुड़ाकर भागने लगी और पास के ही गड्ढ़े में गिर गई तो अभियुक्त के द्वारा पुनः मृतिका को पकड़कर तथा लात – घुसा से मारकर अपने दोनो हाथों से गला दबाकर हत्या कर दिया और शव को उसी गड्ढे में ही छोड़कर भाग गया.

    Advertisement

    Advertisement
    Advertisement

    Leave a Reply

    This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

    spot_imgspot_img

    Must Read

    Related Articles

    Don`t copy text!