west-singhbhum-जगन्नाथपुर के कपड़ा व जूता व्यवसायियों ने सांसद गीता कोड़ा व पूर्व मुख्यमंत्री मधु कोड़ा से मिलकर अपनी व्यथा सुनायी, दुकान खुलवाने की उठायी मांग

Advertisement
Advertisement

चाईबासा : कोरोना काल में लगे लॉक डाउन के दौरान से जगन्नाथपुर अनुमंडल मुख्यालय में बंद पड़े कपड़ा, जूता दुकानें को खोलवाने की मांग को लेकर मंगलवार को जगन्नाथपुर के कपड़ा व जूता व्यवसायियों नें सिंहभूम सांसद गीता कोड़ा व पूर्व मुख्यमंत्री मधु कोड़ा के आवास पर जाकर एक मांग पत्र व्यवसायियों नें सौंपा. वहीं सांसद गीता कोड़ा ने मुख्यमंत्री व उपायुक्त से मिलकर इस समस्या का निदान निकालने का आश्वासन दी. ज्ञात हो की अनलॉक-2 में भी कपड़ा व जूता-चप्पल व्यवसायों को प्रशासन से निराशा ही हाथ लगी. आशा थी कि अनलॉक-2 में उन्हे दुकान खोलने का आदेश दिया जाएगा।लेकिन अनलॉक-2 का गाईडलाईन आने के बाद ग्रामीण क्षेत्रों में कपड़ा व जूता व्यवसायियों को दुकान खोलने की अनुमती नहीं दी गई जबकि अनलॉक-2 में रोजगार करने(दुकान खोलने) का आदेश मिलने की आशा थी. लेकिन प्रशासन द्वारा दुकान खोलने का आदेश नहीं दिये जाने से कपड़ा व जूता व्यवसायी हतप्रभ व रोष में हैं. अपनी इस समस्या को लेकर जगन्नाथपुर के कपड़ा-जूता व्यवसायों की एक प्रतिनिधिमंडल ने मंगलवार को सांसद गीता कोड़ा व पूर्व मुख्यमंत्री मधु कोड़ा से मुलाकात कर दुकान खुलवाने गुहार लगायी. समस्या को रखते हुए प्रतिनिधि मंडल ने एक ज्ञापन सौंपा. मांग पत्र में कहा गया है कि विगत 23 मार्च से व्यवसाय बंद पड़ा है. व्यवसाय के बंद होने से दुकानदारों के सामने आर्थिक तंगी के साथ-साथ भूखमरी की समस्या उत्पन्न हो गयी है. कोड़ा दंपति ने कहा कि इस सम्बन्ध में मुख्यमत्री हेमन्त सोरेन व उपायुक्त अरवा राज कमल से बात करगें. समस्यों को यथासंभव हल करने का प्रयास करेंगे.

Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement

Leave a Reply