west-singhbhum-टोंटो के बाईहातु से लापता हुए केरा लागुरी के मामले की जांच करने पहुंची पुलिस, पड़ोसियों ने कहा केरा लागुरी परिवार के साथ काम करने के लिए ओड़िशा गया

Advertisement
Advertisement


चाईबासा: पुलिस अधीक्षक अजय लिण्डा के नेतृत्व में अनुमण्डल पुलिस पदाधिकारी जगन्नाथपुर , प्रदीप उरांव , पुलिस निरीक्षक झींकपानी मनोज गुप्ता , पुअनि राकेश खावास एवं सशस्त्र बलों के साथ टोन्टो के बाईहातु टोला- इचाकुटी केरा लागुरी के घर पहुंची और पुलिस ने पत्नी के बारे में पुछताछ की. पड़ोसियों एवं महिलाओं ने बताया कि केरा लागुरी अपने परिवार के साथ ओड़िशा काम करने के लिए चला गया है. विदित हो कि पुलिस को सूचना मिली थी कि केरा लागुरी,पत्नी एवं बेटी गांव में नहीं है. लापता की सूचना का सत्यापन व आवश्यक कार्रवाई के लिए पुलिस गांव पहुंची. और पुरे परिवार सहित केरा लागुरी का लापता होने के संबंध में टोंटो थाना कांड सं 0 24/20 रविवार को धारा 364/34 भादवि दर्ज कर ली गई है तथा पुलिस हर बिन्दु में गहन छानबीन कर रही है. बाईहातु निवासी कैरा लागुरी व पत्नी समेत उनके तीन मासूम बच्चे पिछले डेढ़ माह से गायब है. उसके रिशतेदारों ने पति-पत्नी समेत तीनों मासूम बच्चों की हत्या कर शव को गायब कर देने की आशंका जताने की बात कह रहे थे. इसी मामलें की जांच करने पहुंची पुलिस अधीक्षक अजय लिण्डा के नेतृत्व में जगन्नाथपुर एसडीपीओ प्रदीप उरांव तो केरा लागुरी तथा पत्नी सहित 2/3 साल के बच्चे का गायब होने का मामला खुलासा करते हुए पड़ोसियों ने बताया की कैरा लागुरी अपने पुरे परिवार दो तीन महिना पहले ओड़िशा काम करने के लिए गया हुआ है और कैरा लागुरी का ससुराल भी बड़बिल में ही है.

Advertisement
Advertisement

वहीं उसके रिशतेदारों ने एसपी से मिलकर पति-पत्नी समेत उनके तीनों बच्चों के बारे में पता लगाने की गुहार लगाई थी. ये सभी लोग पिछले 14-15 जुलाई से गायब होने का बात कहा था. टोंटो थाना क्षेत्र के केंजरा गांव के टोला सेरमसाई निवासी नानकी हेस्सा ने एसपी को लिखित आवेदन देते हुए बताया कि 7 जुलाई को उसके पति मानसिंह हेस्सा की बीमारी के कारण मौत हो गई थी. जिनके क्रियाकर्म में बाईहातु का रहने वाला उसका भतीजा कैरा लागुरी अपनी पत्नी व अपने तीनों बच्चों को लेकर कार्यक्रम में शामिल होने के लिए आया था. क्रियाकर्म के बाद भतीजा कैरा लागुरी अपनी पत्नी समेत तीनों बच्चों को लेकर 9 जुलाई को अपने गांव वापस लौट गए. उनके गांव के लौटने के करीब एक सप्ताह बाद बाईहातु गांव से नानकी के पास एक व्यक्ति का फोन आया कि तुम अपनी मायके बाईहातु मत आना. भतीजा कैरा लागुरी व उसकी पत्नी समेत तीनों बच्चे 14-15 जुलाई की रात से परिवार सहित गायब होने की शिकायत किया था. इसकी सूचना पाकर भतीजा कैरा लागुरी के मोबाइल पर संपर्क करने की कोशिश की लेकिन उनका मोबाइल स्वीच ऑफ बताया. इस मामले को लेकर 16 सितंबर को टोटों थाने में लिखित सूचना दी गयी थी, इसी आलोक में टोंटो पुलिस एसडीपीओ प्रदीप उरांव के साथ मामले की तहकीकात में जुट कर हर बिंदु पर जांच पड़ताल कर रही है.

Advertisement

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply