टाटा मोटर्स कर्मी आलोक रंजन की विधवा ने रतन टाटा, हेमंत सोरेन व पुलिस महानिरीक्षक की तस्वीर पर राखी बांध कर मांगा न्याय

Advertisement
Advertisement

जमशेदपुर : टाटा मोटर्स कर्मी स्व आलोक रंजन की पत्नी एक बार फिर से अपने पति की मौत को लेकर इंसाफ मांगती नजर आयी. मृतक की विधवा नीतू सिंह अपने बच्चों के साथ गोलमुरी पोस्ट ऑफिस पहुंची और टाटा संस के चेयरमैन रतन टाटा, सीएम हेमंत सोरेन और राज्य पुलिस महानीरिक्षक के चित्र को राखी बांध अपने लिए इंसाफ मांगा. वहीं नीतू सिंह ने रतन टाटा को बजावते राखा स्पीड पोस्ट की किया और अपने लिए इंसाफ मांगा. नीतू सिंह ने रतन टाटा को एक चिट्ठी भी लिखा है, जिसमें उन्होेने पूरे घटनाक्रम का जिक्र करते हुए अपने धर्मभाई से विधवा बहन को इंसाफ दिलाने की मांग की है.

Advertisement
Advertisement

आपको बता दें कि पिछले दिनों टाटा मोटर्स सुरक्षा विभाग में तैनात आलोक रंजन ने आत्महत्या कर ली थी. वहीं पत्नी नीतू सिंह ने कंपनी के वरीय अधिकारियों को पती की मौत के लिए जिम्मेवार बताते हुए सभी के खिलाफ टेल्को थाना में मामला दर्ज कराया है. वैसे पिछले दिनों पति के हत्यारोपी अधिकारियों की गिरफ्तारी और अपने तथा अपने बूढ़े श्र्वसुर और बच्चों के लिए इंसाफ की मांग को लेकर नीतू सिंह टाटा मोटर्स गेट पर धरना देने पहुंची थी. जहां प्रशासनिक हस्तक्षेप औऱ कंपनी प्रबंधन के आश्र्वासन के बाद नीतू सिंह ने अपना आंदोलन वापस ले लिया था. बावजूद इसके अबतक न तो आरोपियों की गिरफ्तारी हुई है, न ही मृतक की विधवा को कंपनी में नौकरी ही मिली है. वहीं मृत की विधवा अपने लिए इंसाफ का हर मुमकिन दरवाजा खटखटा रही है.

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement

Leave a Reply