spot_img

jamshedpur onion price hike-प्रशासन चुनाव में व्यस्त, चुनावी चकल्लस में नेता मस्ती, कालाबाजारी हो रही सब्जियां, जमशेदपुर में कुपोषण बढ़ने का खतरा, आसमान छू रहा प्याज, नखरे दिखा रहा लहसून, सब्जियों से लोगों ने बनायी दूरियां, हालात पर सब कोई चुप

राशिफल

जमशेदपुर : झारखंड में चुनाव होने जा रहा है. इसके लिए सत्ताधारी भाजपा और कांग्रेस दमखम के साथ चुनाव प्रचार में लगे हुए है. लेकिन इस बीच आम जनता एक बार फिर से मारी जा रही है. हालात यह है कि प्याज और लहसुन से लेकर सब्जियों की कीमत में आग लग चुकी है. मनमाना रेट सब्जीवाले ले रहे है. नतीजा यह है कि आज सब्जियों की कीमत ज्यादा हो चुकी है और गरीबों की थाली से सब्जियां गायब हो चुकी है. प्याज सौ रुपये किलो तक बिक रहा है तो दो सौ रुपये किलो लहसुन बिकने लगा है. हालात बदतर हो चुके है और अगर यहीं हाल कीमत का रहा तो लोगों की जान निकल जायेगी. बच्चे कुपोषण के शिकार हो जायेंगे, लोगों में बीमारियां घर करने लगेंगी क्योंकि अंडा और बेसन के भरोसे लोगों की थालियां सज रही है और लोग आधा पेट ही सब्जी खाकर रहना पसंद कर रहे है. गरीब और मध्यमवर्गीय परिवार तो बाप-बाप कर रहा है. मतदाता की सुध लेने वाला कोई नहीं है. प्रशासन चुनाव में व्यस्त है और नेता चुनावी अंकगणित में मस्त है. आम जनता त्राहिमाम कर रहे है. झारखंड सरकार द्वारा खोले गये सारे सुविधा केंद्र बंद हो चुके है और 80 रुपये किलो के हिसाब से सुविधा केंद्रों में प्याज मिल रहा है. हालात यह है कि अब 80 रुपये किलो तो थोक व्यापारी प्याज बेच रहे है. बताया जाता है कि अब नासिक से प्याज नहीं आ रहा है बल्कि अलवर से प्याज मंगाया जा रहा है, जिस कारण ट्रांस्पोर्टिंग पर ज्यादा खर्च हो रहा है, इस कारण इसकी कीमत बढ़ रही है, यह बहाना व्यापारी बना रहे है. हालात यह है कि लगभग सभी बाजारों में 90 से सौ रुपये किलो प्याज बिक रहा है और अन्य सारी हरी सब्जियों की कीमत 40 रुपये किलो तक पहुंच चुका है.

WhatsApp Image 2022-04-29 at 12.21.12 PM
WhatsApp-Image-2022-03-29-at-6.49.43-PM-1
Shiv Yog Physiotherapy And Yoga Classes
[adsforwp id="129451"]

Must Read

Related Articles

Don`t copy text!