spot_img

jharkhand election 2019-bjp-manifesto-गरीबी दूर करने, आदिवासी कल्याण, किसान की सेवा के साथ रोजगार का भाजपा ने झारखंड में किया जनता से वादा, जारी हुआ घोषणा पत्र, संकल्प पत्र के नाम पर केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने किया जारी

राशिफल

रांची : भाजपा ने अपना घोषणा पत्र बुधवार को रांची स्थित भाजपा के प्रदेश कार्यालय में आयोजित कार्यक्रम के दौरान जारी कर दी. केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद के हाथों यह घोषणा पत्र जारी किया गया. भाजपा ने इस चुनाव में भी घोषणा पत्र को संकल्प पत्र का नाम दिया है और इसका नारा है संकल्प से सिद्धि तक. इस मौके पर केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद के साथ केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा, मुख्यमंत्री रघुवर दास, भाजपा के विधानसभा प्रभारी ओममाथुर, राम विचार नेताम, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुवा समेत अन्य लोग मौजूद थे.

इस संकल्प पत्र में भाजपा ने पांच साल में सरकाकर की उपलब्धियों की जानकारी देने के साथ ही इसमें अपने आने वाले पांच साल का एजेंडा को भी घोषित किया है. इसमें सुलभ और सस्ता जीवन देने का वादा जनता से किया गया है जबकि महिला सशक्तिकरण पर भी जोर दिया गया है. इस दौरान यह वादा किया गया है कि वे लोग आने वाले पांच साल में गरीबी को मिटाने के संकल्प के साथ काम करेंगे जबकि आदिवासी समुदाय को और समृद्धशाली बनाने के साथ ही किसानों के कल्याण के साथ जनजातीय संस्थानों की स्थापना के साथ ही 70 नये मॉडल स्कूल की स्थापना करने का वादा किया गया है. ट्रांस्फर-पोस्टिंग के उद्योग को बंद करने के साथ ही भ्रष्टाचार को जड़ से खत्म करने के अलावा मुख्यमंत्रत्री सुकन्या योजना को एक बार फिर से शुरू करने का भी वायदा किया गया है.

सबका साथ, सबका विकास के नारे के साथ भाजपा किस तरह आगे बढ़ र ही है और आने वाले पांच साल में किस तरह बढ़ना है, इसका रोड मैप भी इसमें बताया गया है और वादा किया गया है कि रेडी टू इट भोजन, मध्याह्न भोजन योजना को और बेहतर करने का भी वादा किया. डबल इंजन की सरकार के तहत केंद्रीय योजनाओं को लोगों तक पहुंचाने और आदिवासियों के बच्चों को मुफ्त कोचिंग की सुविधा देने का भी वादा किया गया है.

डबल इंजन डबल विकास
केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार की ओर से एचआरडी मंत्रालय द्वारा तैयार मसौदा जिसमे हर राज्य की जनता से सुझाव लिया गया था जो लोकसभा में आना है —-

1.दोपहर के भोजन के अतिरिक्त बच्चो को अब
ब्रेकफास्ट भी मिलेगा ।
2.शिक्षा के अधिकार का विस्तार करके इसे 1-12वीं तक किया जाएगा.
3.देश भर में लगभग दस लाख शिक्षकों के खाली पड़े पदों को भरा जायगा
4.समेस्टर सिस्टम लागू होगा

  1. 12वीं के बाद बीएड चार साल, बी ए के बाद दो साल एम ए के बाद एक वर्ष का होगा
    6.बोर्ड परीक्षा का भय कम किया जाएगा
    7.ऑनलाइन मूल्यांकन ,
    8.टीचर नियुक्तियों में साक्षात्कार अवश्य लिया जायेगा
    9.प्रमोशन में भी विभागीय परीक्षा
    10.गांव में तैनात शिक्षकों के लिए विशेष भते
    11.शिक्षकों के तबादले बहुत जरूरी होने पर ही होंगे
    12.शिक्षकों के लिए विद्यालय के नजदीक आवास
    13.पूरे देश मे समान पाठ्यक्रम
    14.अध्यापकों के परिशिक्षण में जोर
    15.व्यवसायिक शिक्षा पर बल
    16.शिक्षक छात्र अनुपात 25-1;30-1
    17.स्कूली स्तर पर आठवी के बाद विदेशी भाषा के कोर्स
    18.निजी स्कूलों पर पहले से ज्यादा नियंत्रण
    19.निजी स्कूल के नाम में (पब्लिक) शब्द का इस्तेमाल नही कर सकेंगे
    20.अध्यापक पात्रता परीक्षा के बिना निजी स्कूलों में भी नियुक्त नही होंगे शिक्षक.
  2. शिक्षा मित्र,पैरा टीचर,गेस्ट टीचरों की नियुक्ति नही होगी.
    22.गैर शैक्षणिक कार्यों से मुक्ति
    23.स्कूल प्रबन्धन समिति अब निजी स्कूलों में भी गठित की जाएगी
    24.राष्ट्रीय शिक्षा आयोग की स्थापना
WhatsApp Image 2022-04-29 at 12.21.12 PM
WhatsApp-Image-2022-03-29-at-6.49.43-PM-1
Shiv Yog Physiotherapy And Yoga Classes
[adsforwp id="129451"]

Must Read

Related Articles

Don`t copy text!