jamshedpur-bjp-जमशेदपुर भाजपा में कुणाल और दिनेशानंद की जोड़ी को पटखनी देने के लिए सांसद विद्युत वरण महतो ने लगाया जोर, ”बहरागोड़ा” बना भाजपा की अंदरुनी ”राजनीति का अड्डा”, सांसद विद्युत महतो ने अपने बेटे कुणाल महतो को बहरागोड़ा के मैदान में उतारा, चिंता में विधायक समीर महंती भी, राजनीतिक उठापटक तेज

राशिफल

सांसद विद्युत वरण महतो हाथ जोड़े हुए और कुणाल षाड़ंगी.

जमशेदपुर : जमशेदपुर भाजपा में आपसी राजनीति तेज हो चुकी है. लगातार भाजपा में राजनीतिक गतिविधियां तेज हो चुकी है. ऐसे में बड़ा कदम भाजपा के जमशेदपुर के सांसद विद्युत वरण महतो ने उठाया है. बहरागोड़ा जमशेदपुर भाजपा ग्रामीण हो या महानगर, सबका अड्डा बन चुका है क्योंकि पूरी राजनीति का केंद्रबिंदू वहीं बनकर उभरा है क्योंकि बहरागोड़ा के पूर्व विधायक कुणाल षाड़ंगी और बहरागोड़ा से भाजपा के टिकट पर चुनाव लड़ चुके डॉ दिनेशानंद गोस्वामी के बीच आपसी समझौता हो गया है और मिलकर काम करने लगे तो पूर्व विधायक कुणाल षाड़ंगी ने संसदीय चुनाव में अपना कदम आगे बढ़ा चुके है. ऐसे में सांसद विद्युत वरण महतो खुद आपे से बाहर है और कुणाल षाड़ंगी के बढ़ते हस्तक्षेप के बाद बहरागोड़ा में भी ध्यान केंद्रित कर चुके है और सांसद ने बहरागोड़ा में अपने बेटे कुणाल महतो को भी उतार दिया है. आपको बता दें कि विद्युत वरण महतो बहरागोड़ा से झामुमो में रहते हुए विधायक भी रह चुके है. उनके हटने के बाद कुणाल षाड़ंगी चुनाव जीते थे, जो इस बार के चुनाव में हार गये थे और फिर डॉ दिनेशानंद गोस्वामी के साथ टाइअप कर जमशेदपुर लोकसभा की राजनीति में सक्रिय हो चुके है.

सांसद विद्युत वरण महतो के पुत्र कुणाल महतो हाथ जोड़े हुए.

सांसद विद्युत वरण महतो के जनहित के कार्य मे बहरागोड़ा विस क्षेत्र से सहयोग को उतरे उनके पुत्र कुणाल
सांसद विद्युत वरण महतो कोरोना काल मे जहां प्रथम लॉकडाउन से ही जरूरतमंदों की सेवा में लगे है. जमशेदपुर लोकसभा का क्षेत्र वृहत होने के कारण सांसद हर समय हर स्थान पर लोगों की सेवा करने में ससमय पहुंच नही पा रहे थे, जिससे उनकी समय बाधता को देखते हुए और अपने पिता की सेवा भाव से प्रभावित होकर कुणाल महतो अपने पिता के कर्म भूमि और राजनीति कि शुरूआत बहरागोड़ा में आकर तूफानी दौरा कर लोगों की समस्याओं से अवगत हुए और कई जरूरतमंद लोगों को आर्थिक सहयोग किया. मौके पर कुणाल महतो ने कहा कि वे अपने पिता की सेवा भाव से प्रभावित होकर और बहरागोड़ा के जनता के प्यार और भरोसा से आकर्षित होकर वे पिता के पद चिन्हों पर चलते हुए लोगों की सेवा भाव करने का काम शुरू किया है ताकि उनके पिता सांसद को सेवा कार्य में हाथ बंटा सके.

सांसद विद्युत वरण महतो के पुत्र की निकली बाइक रैली.

कहा कि पिता के इच्छा रहने पर भी हर जगह उपस्थित होने में असमर्थ है. अपने पिता को दिन -रात जनता की सेवा में तत्पर रहते देख इस कोरोना काल मे वे भी अपने पिता की तरह जन सेवा करने की बात कही है. कहा कि वे आगे भी बहरागोड़ा समेत अन्य लोक सभा क्षेत्र में जाकर जन सेवा करने का काम करेंगे. शुक्रवार को सांसद विद्युत बरण महतो के पुत्र कुणाल महतो ने सबसे पहले बहरागोड़ा शाखा मैदान में 150 ट्रॉली चालको के बीच सूखा राशन, लुंगी, मास्क आदि का वितरण किया. इसके पश्चात चंदनाशोल में पहराज मुंडा को ट्राई साईकल खरीदने हेतु 4000 रुपये और पूर्वांचल में एक निर्धन परिवार को श्राद्ध कर्म में सहयोग हेतु 2000 रुपये देकर आर्थिक सहयोग किया. सांसद के पुत्र कुणाल महतो को बहरागोड़ा पहली बार आने पर युवा कार्यकर्ताओं ने गर्मजोशी के साथ बाइक जुलूस निकालकर भव्य स्वागत किया. कुणाल महतो भी बाइक पर बैठकर कार्यकर्ताओं के साथ क्षेत्र का दौरा किया. मौके पर गौरव पुस्टि, गौतम महतो, मुन्ना पॉल, विश्वजीत राणा, पिकलु घोष, नारायण राणा, चंदन शीट, अरुण पात्रा, श्याम दे, कुना पात्र समेत अन्य उपस्थित थे.

[metaslider id=15963 cssclass=””]

Must Read

Related Articles