jharkhand-bjp-झारखंड भाजपा ने केंद्र सरकार के कृषि नीति को बताया-क्रांतिकारी विधेयक पारित कराकर किसान का जीवन बेहतर करने का लक्ष्य, ओछी राजनीति कर रही विपक्ष-video

Advertisement
Advertisement

जमशेदपुर : विगत दिनों राज्यसभा में केंद्र सरकार कृषि और किसानों को बढ़ावा देने के लिए दो विधेयक पेश किये गए जिसपर विपक्ष ने जमकर हंगामा किया था और लोकतंत्र के मंदिर में जमकर उत्पात मचाया था. इस पर भाजपा ने टिपण्णी करते हुए कहा की विपक्ष कि ओछी मानसिकता और राजनीति का परिचय उन्होंने खुद देशवासियों को दिया है. इस मामले पर भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता सह पूर्व विधायक कुणाल षाडंगी ने जमशेदपुर में आयोजित एक पत्रकार वार्ता के दौरान कहा कि जिस प्रकार से विपक्ष के सांसदों ने राज्यसभा जैसे लोकतंत्र के मंदिर में लोकतंत्र को तार-तार किया है वो शर्मनाक है.

Advertisement
Advertisement
Advertisement

ये उनकी ओछी मानसिकता को दर्शंता है और पूरा देश अब उनके इस ओछी मानसिकता से वाकिफ हो गया है. उन्होंने कहा कि जो दो विधेयक राज्यसभा में पेश हुए थे वो किसानो के जीवन शैली को आगे लेकर जाने के लिए लाये गए हैं, उन्होंने कहा की दोनों विधेयक के माध्यम से किसानो को बिचोलियों से मुक्ति दिलवाने की कोशिश की गई है, किसान को उनके फसल का उचित दाम मिलेगा, साथ ही अब कोई भी किसान देश भर के किसी भी मंडी में अपने फसल को उचित दामों पर बेच सकता है.

Advertisement

उन्होंने कहा की विपक्ष जबरन किसानो के बीच भ्रम फ़ैलाने की जुगत में जुटा हुआ है, जबकि इन दोनों विधेयकों के माध्यम से किसानो को वास्तविक रूप में उनका हक दिलवाने का प्रयास किया जा रहा है. इस संवाददाता सम्मेलन में भाजपा के जिला महामंत्री अनिल मोदी और जिला प्रवक्ता प्रेम झा समेत अन्य लोग मौजूद थे.

Advertisement

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply