spot_img
शुक्रवार, जून 18, 2021
spot_imgspot_img
spot_img

jharkhand-bjp-जमशेदपुर पहुंचे पूर्व सीएम बाबूलाल मरांडी, पत्रकारों से बोले मरांडी, राज्य में अपराधी और उग्रवादी फिरसे हो गए सक्रिय, विधानसभा अध्यक्ष नेता प्रतिपक्ष के बिना चलाना चाहते हैं सदन

Advertisement
Advertisement

जमशेदपुर : झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री एवं विधायक दल के नेता बाबूलाल मरांडी का आगमन रविवार को जमशेदपुर में हुआ. अपने निजी कार्यक्रम में शामिल होने जमशेदपुर आये बाबूलाल मरांडी का भाजपा महानगर अध्यक्ष गुंजन यादव के नेतृत्व में जमशेदपुर परिसदन में जोरदार स्वागत किया गया. पत्रकारों से बात करते हुए बाबूलाल मरांडी ने कहा कि राज्य झामुमो-काँग्रेस की गठबंधन सरकार में पूरे राज्य में अव्यवस्था का माहौल है. राज्य सरकार में किसी निर्णय को लेने की अक्षमता स्पष्ट नजर आ रही है. उन्होंने कहा कि पूर्व की रघुवर दास के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार में उग्रवादी एवं आपराधिक घटना में काफी हद तक अंकुश लगा था परंतु हेमन्त सरकार के सत्ता में आते ही प्रदेश में उग्रवादी फिरसे सक्रिय हो गए हैं, राज्य में बढ़ते आपराधिक घटना, दुष्कर्म, हत्या, उग्रवादी घटना ने साबित कर दिया कि इस राज्य में स्थिति बहुत विषम हो गयी है. पूरे प्रदेश में अव्यवस्था और अराजकता का मौहाल है. चाईबासा में हुए आदिवासी परिवार के नरसंहार की घटना में मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन का उदासीन रवैया दर्शाता है कि मुख्यमंत्री अपराधियों के प्रति कितने गंभीर हैं. उन्होंने हेमन्त सरकार पर भ्रष्टाचार को बढ़ावा देने का आरोप लगाते हुए कहा कि अंचल से लेकर थाना तक बिचौलियों का बोलबाला है. छोटे से छोटे एवं अन्य कोई काम बिना पैसे दिए नही किये जाते हैं. लोगों से जानकारी मिलती है कि थाना से महीना वसूली की जाती है, जिसकी राशि भी निर्धारित है. ऐसी स्थिति में जनता का शोषण नहीं होगा तो और क्या होगा. विकास के नाम पर हेमन्त सरकार ने कोरोना का रोना रोया, कोरोनाकाल में सरकार ने प्रदेश के लोगों को उनके हालात पर छोड़ दिया. एक सवाल के जवाब में बाबूलाल मरांडी ने कहा कि विधानसभा अध्यक्ष द्वारा नेता प्रतिपक्ष का दर्जा ना दिया जाना समझ से परे है. आखिर किस दबाव के तहत विधानसभा अध्यक्ष इसे जबर्दस्ती लटका रहे हैं इस पर वे ही कह सकते हैं. जब चुनाव आयोग ने जेवीएम के विलय को सही बताया है तो फिर विधानसभा अध्यक्ष द्वारा ऐसा व्यवहार अनुचित एवं दुर्भाग्यपूर्ण है. कहा कि राज्यसभा चुनाव में भाजपा विधायक होने के नाते वोट डाला. चुनाव आयोग ने घोषणा कर दी है कि जेवीएम अब समाप्त हो गयी है. इस अवसर पर स्वगात करने वालों में प्रदेश मंत्री रीता मिश्रा, सांसद प्रतिनिधि संजीव कुमार, जिला उपाध्यक्ष संजीव सिन्हा, सुधांशु ओझा, बारी मुर्मू, बबुआ सिंह, जिला महामंत्री अनिल मोदी, राकेश सिंह, मंजीत सिंह, पप्पू सिंह, जितेंद्र राय, राजीव सिंह, प्रेम झा, बिनोद कुमार, नारायण पोद्दार,मणि मोहंती, कौस्तव राय, प्रशांत पोद्दार, बिनोद राय, भाजयुमो जिलाध्यक्ष अमित अग्रवाल, सुमित शर्मा व अन्य कार्यकर्ता उपस्थित थे.

Advertisement
Advertisement

Advertisement

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

spot_imgspot_img

Must Read

Related Articles

Don`t copy text!