spot_img
शुक्रवार, मई 14, 2021
spot_imgspot_img
spot_img

jharkhand-by-election-madhupur-मधुपुर उपचुनाव में झामुमो प्रत्याशी और मंत्री हफीजुल हसन ने 5247 मतों से जीत दर्ज की, जाने क्या है हुआ फाइनल रिजल्ट, मुख्यमंत्री ने बोला प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर ऐसा हमला, जाने

Advertisement
Advertisement

मधुपुर : मधुपुर के उपचुनाव में झामुमो प्रत्याशी और मंत्री हफीजुल हसन ने 5247 मतों से जीत दर्ज की. झामुमो के हफीजुल हसन को 110812 मत हासिल हुआ जबकि आजसू से भाजपा में लाये गए प्रत्याशी गंगानारायण सिंह को कुल 105564 मत हासिल हुआ. मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने मधुपुर विधानसभा उपचुनाव में  यूपीए  के साझा प्रत्याशी के रूप में झारखंड मुक्ति मोर्चा के उम्मीदवार हफीजुल हसन की जीत पर मधुपुरवासियों और सहयोगी दलों को बधाई दी है. उन्होंने  मुख्यमंत्री आवासीय कार्यालय परिसर में आयोजित संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि राज्य में हमारी सरकार के गठन के बाद यह तीसरा उपचुनाव था और इन तीनो ही उपचुनाव में यूपीए  के उम्मीदवारों ने शानदार जीत दर्ज की है. यूपीए की यह हैट्रिक जीत  यह दर्शाता है कि राज्य की जनता का यूपीए सरकार पर पूरा भरोसा है, जबकि बीजेपी को उन्होंने नकार दिया है. मुख्यमंत्री ने पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में तृणमूल कांग्रेस की शानदार जीत पर ममता दीदी को बधाई दी है. (नीचे भी पढ़ें)

Advertisement
Advertisement

उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि पश्चिम बंगाल में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनाने के लिए प्रधानमंत्री और केंद्रीय गृह मंत्री समेत पार्टी के सभी बड़े नेताओं  ने पूरी ताकत झोंक दी थी. सत्ता में आने के लिए भारतीय जनता पार्टी ने सारे  तिकड़म अपनाए थे, लेकिन  इस बात से हम सभी वाकिफ हैं कि लोकतंत्र में जनता सर्वोपरि होती है और पश्चिम बंगाल की जनता ने ममता दीदी की पार्टी को पूर्ण बहुमत देकर बीजेपी को पूरी तरह नकार दिया. कोरोना  महामारी के इस दौर में भी भारतीय जनता पार्टी  सत्ता में आने के लिए कितनी लालायित थी,  इसे हम सभी ने देखा.  जहां कोरोना  महामारी से चल रही जंग के लिए व्यवस्था को दुरुस्त करने की जरूरत थी, उस फेज में भारतीय जनता पार्टी पश्चिम बंगाल समेत पांच राज्यों में  हो रहे चुनाव को लेकर बड़ी बड़ी रैलियां कर रही थी. प्रधामंत्री और  गृह मंत्री से लेकर पार्टी के तमाम बड़े नेता रैलियों में भारी भीड़ को  संबोधित कर रहे थे. यह कहीं ना कहीं हमारे लोकतंत्र के लिए एक बड़ा खतरा साबित हो रहा था. इस वजह  से ना सिर्फ आम लोगों की जान जा रही है बल्कि कई प्रत्याशियों में भी अपनी जान गवां दी. लेकिन,  भारतीय जनता पार्टी सत्ता  की खातिर कोरोना से हो रहे खतरे को भी हाशिये  में रख दिया. मुख्यमंत्री ने संवाददाता सम्मेलन में कहा कि निर्वाचन आयोग जैसे संवैधानिक संस्था को भी अपने फायदे की खातिर इस्तेमाल करने से भारतीय जनता पार्टी बाज नहीं आई. (नीचे भी पढ़ें)

Advertisement

मुख्यमंत्री ने कहा कि इतना कुछ होने के बावजूद जनता ने अपना निर्णय  देकर भारतीय जनता पार्टी  के मंसूबे को  सफल नहीं होने दिया. यही हमारे लोकतंत्र की सबसे  बड़ी खूबसूरती है. मुख्यमंत्री ने ममता दीदी की हार पर कहा कि  चुनाव में हार जीत लगी रहती है और यह कोई नई बात नहीं है.
रिजल्ट
1. गंगा नारायण सिंह:- 694 (बीजेपी)
कुल प्राप्त मत:- 105491
2. हफीजुल हसन:- 1302 (जेएमएम)
कुल प्राप्त मत:- 110783
3.अशोक कुमार ठाकुर:- 32 (निर्दलीय)
कुल प्राप्त मत:-  3921
4.उत्तम कुमार यादव:- 07 (निर्दलीय)
कुल प्राप्त मत:-  1999
5.किशन कुमार बथवाल:- 07 (निर्दलीय)
कुल प्राप्त मत:- 1032
6.राजेन्द्र कुमार:- 24 (निर्दलीय)
कुल प्राप्त मत:-  2409
7. कुल नोटा:-  5121
बैलट पेपर वोट
1. गंगा नारायण सिंह:- 694 (बीजेपी)
कुल प्राप्त मत:- 105491
2. हफीजुल हसन:- 1302 (जेएमएम)
कुल प्राप्त मत:- 110783
3.अशोक कुमार ठाकुर:- 32 (निर्दलीय)
कुल प्राप्त मत:-  3921
4.उत्तम कुमार यादव:- 07 (निर्दलीय)
कुल प्राप्त मत:-  1999
5.किशन कुमार बथवाल:- 07 (निर्दलीय)
कुल प्राप्त मत:- 1032
6.राजेन्द्र कुमार:- 24 (निर्दलीय)
कुल प्राप्त मत:-  2409
7. कुल नोटा:-  5121

Advertisement

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

spot_imgspot_img

Must Read

Related Articles

Don`t copy text!