spot_img

jharkhand-ex-cm-raghubar-das-झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री रघुबर दास राज्यपाल से मिले, सिदगोड़ा में बने जमशेदपुर वीमेंस यूनिवर्सिटी और प्रोफेशनल कॉलेज तत्काल शुरू करने के लिए लगायी यह गुहार, जानें क्या हुई राज्यपाल और रघुबर दास की मुलाकात में

राशिफल

राज्यपाल रमेश बैस के साथ पूर्व मुख्यमंत्री रघुबर दास.

रांची : झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रघुवर दास ने राज्यपाल रमेश बैस से मुलाकात की. इस दौरान उन्होंने जमशेदपुर में वीमेंस कॉलेज और प्रोफेशनल कॉलेज को जल्द शुरू करवाने का आग्रह करते हुए एक ज्ञापन सौंपा. इस ज्ञापन में कहा गया है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा 3 फरवरी 2019 को जमशेदपुर वीमेन्स कॉलेज को रूसा के अन्तर्गत जमशेदपुर वीमेन्स विश्वविद्यालय में प्रोन्नत कर ऑनलाईन उद्घाटन किया गया था. जमशेदपुर वीमेन्स विश्वविद्यालय का भवन जो जमशेदपुर के सिदगोड़ा स्थित कैम्पस में है, भी बनकर तैयार हो गया और 29 दिसंबर 2021 को भवन का उद्घाटन भी कर दिया गया. उपरोक्त कारवाई के उपरांत भी जमशेदपुर वीमेन्स विश्वविद्यालय के रूप में स्थापित होकर कार्य नहीं हो पा रहा है. उल्लेखनीय है कि वर्ष 2021-2022 के सारे नामांकन चांसलर पोर्टल, रांची में जमशेदपुर वीमेन्स विश्वविद्यालय के रूप में छात्राओं का नामांकन किया गया परन्तु छात्राएं जमशेदपुर वीमेन्स कॉलेज की छात्रा के रूप में परीक्षा दे रही हैं. वर्ष 2022-2023 का नया सत्र जुलाई से प्रारम्भ होगा. ऐसी स्थिति में छात्राओं के हित तथा एकेडेमिक कैरियर पर प्रभाव पड़ेगा. श्री दास ने राज्यपाल सह विश्वविद्यालयों के कुलाधपति रमेश बैस से अनुरोध किया कि शीघ्र जमशेदपुर वीमेन्स में कुलपति, कुलसचिव, वित्त पदाधिकारी, वित्त परामर्शी तथा सभी विभागों के लिए पर्याप्त शिक्षक एवं शिक्षकेत्तर कर्मचारियों की नियुक्ति करें ताकि जमशेदपुर वीमेन्स विश्वविद्यालय अस्तित्व में आकर झारखण्ड के प्रथम महिला विश्वविद्यालय के रूप में प्रारम्भ कर सके और यहां को छात्राओं में जो असंतोष पनप रही है, वह हर्ष में परिवर्तित हो सके. इसके साथ ही कोल्हान एक औद्योगिक क्षेत्र है. इस क्षेत्र मे स्किल डेवलपमेंट को बढ़ावा देकर युवाओं को रोजगार से जोड़ने के उद्देश्य से हमारी भाजपा सरकार ने एक प्रोफेशनल कॉलेज का निर्माण कराया था. कॉलेज का भवन बनकर तैयार है, लेकिन राज्य सरकार द्वारा पिछले ढाई वर्षों से यह निर्णय नहीं ले पायी है कि इसे राज्य सरकार चलायेगी या पीपीपी मोड पर इसका संचालन किया जायेगा. इस कारण यहां अभी तक पाठ्यक्रम शुरू नहीं हो सका है. रघुवर दास ने राज्यपाल से आग्रह किया है कि इसका संज्ञान लेकर इसके संचालन का भी आदेश निर्गत करें.

WhatsApp Image 2022-04-29 at 12.21.12 PM
WhatsApp-Image-2022-03-29-at-6.49.43-PM-1
Shiv Yog Physiotherapy And Yoga Classes
spot_img

Must Read

Related Articles

Don`t copy text!