कोरोना का असर : न्यू बाराद्वारी गांधी आश्रम से नहीं निकलेगी रथयात्रा, मंदिर में ही श्रद्धालु कर सकेंगे महाप्रभु के दर्शन

Advertisement
Advertisement

जमशेदपुर : न्यू बाराद्वारी स्थिति गांधी आश्रम जगन्नाथ मंडप परिषद में रविवार को श्रीश्री जगन्नाथ महाप्रभु रथ यात्रा समिति की ओर से गांधी आश्रम के संरक्षक शम्भु मुखी डुंगरी ने कहा कि वैश्विक महामारी कोरोना बीमारी के मद्देनजर सन 1918 से आरंभ रथयात्रा जो कि शहर की 102 वर्ष पुरानी है, यह पहली बार हो रहा है कि भगवान जगन्नाथ भाई बल्भद्र बहन सुभद्रा गुन्डीचा रथ पर सवार होकर मौसीबड़ी एवं भक्त दर्शन के लिए नगर भ्रमण के लिए बहर नहीं निकलेगे. ओडिशा के पुरी धाम के आनुसर ही राज्य सरकार एवं जिला प्रशासन के दिशा-निर्देश का पालन करते हुए समाजिक दूरियों का पालन करते हुए आश्रम के मन्दिर प्रांगण में ही 22 जून (सोमवार) को सन्ध्या बेला नेत्रोत्सव किया जाएगा एवम् 23 जून (मंगलवार) को दोपहर बेला से भगवान जगन्नाथ महाप्रभु की विधिवत पूजा-अर्चना की जाएगी। यह जानकारी उन्होंने संवाददाता सम्मलेन में दी. इसमें संस्था के सलाहकार जय सगार बाग्दल, घनश्याम महानंद, सन्तोष कुमार, मुखियागण घासीराम बरिहा, टिकेश्वर मेहर, कालीचरण मंडल, चंदन कुम्भकार, सन्तोष सेठ, मितरु प्रधान, पंडित उज्ज्वल चक्रवर्ती, रमेश भौई, सुरेश प्रधान, विजय कुजूर, गोविंदो दांग, नरेश प्रधान, सनोंदो बघार, गौरी शंकर भौई, सहदेव आदवर, नीलमणि सेठ, प्रकाश महतो, अतिसर घत्वाल, प्रह्लाद नाग, तलुराम बगर्ती, सुरेन्द्र पंडा, राजेश मेहर तथा आश्रमवासी उपस्थित थे.

Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement

Leave a Reply