spot_imgspot_img

Global Statistics

All countries
355,624,103
Confirmed
Updated on January 25, 2022 10:31 AM
All countries
280,088,047
Recovered
Updated on January 25, 2022 10:31 AM
All countries
5,623,215
Deaths
Updated on January 25, 2022 10:31 AM
spot_img

direction-of-medicine : दवा को रखने की दिशा भी तय करती है उसका असर, दवा को गलत दिशा में रख देते हैं तो हो सकते हैं दुष्परिणाम, जानें-दवा को किस दिशा में रखने से होगा सकारात्मक लाभ

Advertisement
Advertisement

जमशेदपुर : वास्तु शास्त्र के अनुसार बीमारियों से रक्षा करने वाली औषधियों को किस दिशा में रखा जाय। जिससे औषधि अपना कार्य सही तरीके से कर सकें। अज्ञानता वश औषधियों को हमलोग अक्सर गलत दिशा में रख देते हैं, जिसका परिणाम गलत हो जाता है। बीमार व्यक्ति को स्वस्थ्य होने में काफी वक्त लग जाता है। इसलिए इस मामले में कुछ जानकारी देने का प्रयास किया जा रहा है। इसे समझे और अमल करें, परिणाम सकारात्मक मिलेंगे। किसी को संशय हो तो विद्वान जनों से सलाह ले सकते हैं। (नीचे पढ़ें पूरी खबर)

Advertisement

किस दिशा में रखें औषधि
औषधियों का काम आपको बीमारियों से सुरक्षा कवर प्रदान करना है। आप जब भी बीमार पड़ते हैं, ये औषधि ही आपको स्वस्थ करने के काम आती हैं। इस लिहाज से देखा जाए तो औषधि (दवाइयां) हमारे जीवन के लिए बेहद महत्वपूर्ण हैं। जब इन्हें सही वास्तु दिशा में रखा जाता है तो ये तुरंत और सही परिणाम प्रदान करती हैं। चूंकि इनका काम आपको ठीक करना है तो उन्हें सहयोगी दिशा में रखना चाहिए ताकि इनसे लाभ मिल सके। घर के उत्तरी जोन (दिशा) में दवाइयों को रखा जा सकता है इसी तरह स्वास्थ्य और आरोग्य के दिशा क्षेत्र उत्तर, उत्तर पूर्व जोन में दवाइयां रखना सबसे उत्तम है। इन्हें जब इस जोन में रखा जाता है तो ये बेहद प्रभावकारी होती हैं और रोगों से आपको तुरंत मुक्ति दिलाती हैं। इसी तरह, उत्तर-पूर्व जोन और पूर्व, उत्तर पूर्व के साथ पूर्व जोन में भी दवाइयों को रखा जा सकता है। इनका कोई नकारात्मक प्रभाव आपके ऊपर नहीं पड़ता है। लेकिन अपने घर के पूर्व, दक्षिण पूर्व जोन में यदि आपने दवाइयां रखी हैं तो इसका असर ही आप पर नहीं होगा। इसलिए दवाइयों को इस जोन में रखने से परहेज करना चाहिए। इसी तरह दक्षिण पूर्व में यदि आपने दवाइयां रखी हैं तो आपको अपनी बीमारी को ठीक करने के लिए अधिक मात्रा में दवाइयों को लेने की जरूरत पड़ेगी। दक्षिण, दक्षिण पूर्व जोन में भी दवाइयों को आपने रखा है तो निवासियों को फिट और स्वस्थ रहने के लिए इन्हें नियमित तौर पर लेते रहना होगा । दक्षिण जोन में यदि दवाइयां रखी हों तो इस घर में रहने वाले लोग तुरंत ठीक होने के लिए छोटे रोगों में भी दवाइयां लेने को प्राथमिकता देते हैं। अपव्यय और विसर्जन के जोन दक्षिण, दक्षिण पश्चिम में रखी दवाइयां अपना प्रभाव नहीं दिखाती हैं क्योंकि यहां रखी दवाइयां विसर्जित हो जाती हैं। इसलिए इस जोन में दवाइयों को रखने से परहेज करना चाहिए। दक्षिण, पश्चिम जोन में दवाइयों को रखा जा सकता है। पश्चिम जोन में दवाइयों को रखना अच्छा माना जाता है। डिप्रेशन के जोन पश्चिम, उत्तर पश्चिम में दवाइयां यदि रखी जाती हैं तो यहां रहने वाले लोग हमेशा नर्वस रहते हैं और दवाइयों का प्रभाव भी कम हो जाता है। सहयोग के जोन उत्तर-पश्चिम में दवाइयों के होने से निवासी इनके बिना रह ही नहीं पाते हैं। उत्तर-उत्तर-पश्चिम जोन में दवाइयों को रखना सही रहता है । ये उस घर में रहने वाले लोगों को जल्दी ठीक करने में मददगार होते हैं।

Advertisement

प्रस्तुत – ज्योतिषाचार्य पंडित राजेश पाठक
सम्पर्क – +919508341776, +919431339858

Advertisement
Advertisement
WhatsApp Image 2020-06-13 at 7.45.22 PM
IMG-20200108-WA0007-808x566
WhatsApp Image 2020-06-13 at 7.45.22 PM (1)
WhatsApp_Image_2020-03-18_at_12.03.14_PM_1024x512
previous arrow
next arrow

Leave a Reply

spot_img

Must Read

Related Articles

Don`t copy text!