spot_img

ganesh-chaturthi- गणेश चतुर्थी 10 को, इस वर्ष लग रहा भद्रा नक्षत्र, शुभ या अशुभ, पढ़ें

राशिफल

जमशेदपुर : इस वर्ष गणेश चतुर्थी 10 सितंबर को है. हिंदू पंचाग के मुताबिक भाद्रपद माह की चतुर्थी तिथि को गणेश चतुर्थी (गणेशोत्सव) मनाते है. सभी देवी-देवताओं में सर्वप्रथम गणेश जी को माना जाता है. इसके साथ ही गणेश जी को अनेक नामों से भी जानते है, जिसमें से अष्ट विनायक, सिद्धि विनायक, विघ्नहरण समेत आठ अवतार ज्यादा प्रसिद्ध है. कहा जाता है कि इनका प्राकट्य होने के कारण इनको सिद्धि विनायक के नाम से जाना जाता है. गणेश पूजन के समय काला और नीला रंग का वस्त्र धारण नहीं करना चाहिए. पूजन के समय केवल लाल और पीले रंग का वस्त्र धारण करना शुभ माना जाता है. कुल मिलाकर यह पूजा 10 दिन की होती है, जिसे महाराष्ट्र में बेहद धूमधाम से मनाया जाता है. मान्यता है कि इस दिन पूजा के समय चंद्रमा का दर्शन नही करना चाहिए. अगर गलती से कोई चंद्रमा को देख लेता है तो उसे पत्थर पीछे की ओर फेंक देना चाहिए. (नीचे भी पढ़ें)

गणेश चर्तुर्थी में लग रहा भद्रा नक्षत्र
इस वर्ष गणेश चतुर्थी के दिन भद्रा नक्षत्र लग रहा है. दस सितंबर के दिन 11 बजकर 09 मिनट से रात 10 बजकर 59 मिनट तक पाताल निवासिनी भद्रा रहेगी. मान्यता है कि पाताल निवासिनी भद्रा का होना शुभ फलदायी होता है. भद्रा नक्षत्र का अशुभ प्रभाव नहीं पड़ रहा है.
पूजा व स्थापना का शुभ मुहूर्त
गणपति पूजन का शुभ मूहूर्त शुक्रवार के दिन 12 बजकर 17 मिनट से शुरू होगा, वहीं रात के 10 बजे तक पूजन किया जा सकता है. इसके साथ ही विसर्जन का शुभ मुहूर्त प्रातः 4 बजकर 40 मिनट से लेकर 6 बजकर 8 मिनट तक रहेगा. वहीं दूसरा मूहुर्त रात के 1 बजकर 43 मिनट से 3 बजकर 11 मिनट तक रहेगा.

WhatsApp Image 2022-04-29 at 12.21.12 PM
WhatsApp-Image-2022-03-29-at-6.49.43-PM-1
Shiv Yog Physiotherapy And Yoga Classes
spot_img

Must Read

Related Articles

Don`t copy text!