spot_img
शनिवार, अप्रैल 17, 2021
More
    spot_imgspot_img
    spot_img

    Adityapur-School-Fee : सरायकेला: जमशेदपुर अभिभावक संघ का प्रयास रंग लाया, जिला शिक्षा अधीक्षक ने सभी निजी स्कूलों को जारी किया फरमान, स्कूल फीस के अलावा अन्य किसी प्रकार के शुल्क वसूली पर लगाई रोक

    Advertisement
    Advertisement

    आदित्यपुर : सरायकेला-खरसावां जिला शिक्षा अधीक्षक ने गुरुवार को जिले में संचालित हो रहे सभी निजी स्कूलों को फरमान जारी करते हुए सामान्य तरीके से स्कूल के संचालन होने तक बगैर किसी अन्य शुल्क के केवल स्कूल फीस लेने का फरमान जारी कर दिया है. जिले के सभी स्कूल प्रबंधकों को इस बाबत चिट्ठी जारी करते हुए जिला शिक्षा अधीक्षक ने सत्र 2020- 21 के लिए किसी भी शुल्क में बढ़ोतरी पर रोक लगाने, ऑनलाइन पढ़ाई के लिए सभी बच्चों को आईडी पासवर्ड उपलब्ध कराने, अनावश्यक अभिभावकों पर फीस को लेकर दबाव नहीं बनाने, पुनः सामान्य रूप से शिक्षण कार्य शुरू होने तक बंद रहने की अवधि का अतिरिक्त शुल्क, परिवहन शुल्क मेंटेनेंस शुल्क आदि लेने पर तत्काल प्रभाव से रोक लगा दी है. किसी भी परिस्थिति में अभिभावक से विलंब शुल्क वसूली पर भी जिला शिक्षा अधीक्षक ने रोक लगा दी है. इसके अलावा किसी भी छात्रों को बगैर किसी भेदभाव के ऑनलाइन परीक्षा में शामिल करने का भी निर्देश दिया है. साथ ही सभी निजी स्कूल प्रबंधनो से लिए गए अनावश्यक शुल्क अगले सत्र में समायोजित करने का निर्देश दिया है. (नीचे भी पढ़ें)

    Advertisement
    Advertisement

    गौरतलब है कि जिले के डीएवी एनआईटी स्कूल प्रबंधन के खिलाफ अभिभावकों से दबाव बनाकर पैसे वसूलने का आरोप जमशेदपुर अभिभावक संघ ने लगाया था. उन्होंने गुरुवार को जिले के उपायुक्त से मिलकर विद्यालय द्वारा शुल्क वसूली में अनियमितता से संबंधित साक्ष्य भी उपायुक्त को उपलब्ध कराए. जिसके बाद उपायुक्त ने जिला शिक्षा अधीक्षक को पूरे मामले की जांच कर तत्काल नोटिफिकेशन जारी करने का फरमान सुनाया. वहीं जिला शिक्षा अधीक्षक ने जांच के बाद कोविड-19 के तहत सरकारी गाइडलाइन का पालन करते हुए यह फरमान जारी किया है. जिला शिक्षा अधीक्षक के निर्देश के अनुसार वैश्विक महामारी को देखते हुए अभिभावकों पर अनावश्यक दबाव न पड़े इसका उल्लेख करते हुए जिले में संचालित हो रहे सभी निजी स्कूलों को यह निर्देश जारी किया है. वही जमशेदपुर अभिभावक संघ के अध्यक्ष डॉ उमेश कुमार ने जिले के उपायुक्त के प्रति आभार प्रकट किया और कहा इससे सभी वर्ग के बच्चों के अभिभावकों को लाभ मिलेगा. वैसे निजी स्कूल प्रबंधन पर जिला शिक्षा अधीक्षक के निर्देशों का कितना प्रभाव पड़ेगा यह तो आने वाला वक्त ही बताएगा. फिलहाल जमशेदपुर अभिभावक संघ के लिए इसे एक बड़ी जीत के रूप में देखा जा रहा है.

    Advertisement

    Advertisement
    Advertisement

    Leave a Reply

    This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

    spot_imgspot_img

    Must Read

    Related Articles

    today’s-history-जानें आज का इतिहास

    today’s-history:जानें आज का इतिहास

    today’s-history-जानें आज का इतिहास

    today’s-history:जानें आज का इतिहास

    today’s-history:जानें आज का इतिहास

    Don`t copy text!