Jamshedpur : बिष्टुपुर के चिन्मया विद्यालय में मनी गीता जयंती, सामूहिक गीता पाठ व प्रतियोगिता में दिखा बच्चों का उत्साह, विजेताओं को किया गया पुरस्कृत

राशिफल

जमशेदपुर : आज गीता जंयती है, हिंदू पंचांग के अनुसार प्रत्येक वर्ष मार्गशीर्ष माह की शुक्ल पक्ष की एकादशी को गीता जयंती मनाई जाती है। बताया जाता है कि इसी दिन भगवान श्री कृष्ण के मुख से गीता के उपदेश निकले थे। भारती संस्कृति और परम्परा से जुड़कर बच्चों को आधुनिक शिक्षा प्रदान करने वाले चिन्मया विद्यालय बिष्टुपुर साउथ पार्क में शनिवार को बच्चों के बीच गीता जयंती के अवसर पर सामूहिक गीता पाठ तथा गीता पाठ प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। गीता पाठ प्रतियोगिता में विद्यालय के एलकेजी से कक्षा 11वीं तक के लगभग 200 बच्चों ने भाग लिया। इस बार गीता पाठ प्रतियोगिता का विषय कर्मयोग अर्थात श्रीमद् भागवतगीता का अध्याय तीसरा रहा। कार्यक्रम का आरंभ विद्यालय की प्राचार्या मिक्की सिंह, को-ऑर्डिनेटर विनीता मिश्रा, निर्णायक मंडल के सदस्य रूमा गुप्ता और राजेश्वरी के द्वारा दीप प्रज्वलित कर किया गया। प्राचार्या द्वारा बच्चों को संबोधित करने के क्रम में कर्मयोग अर्थात कर्म के महत्व के बारे में बताया गया साथ ही शुभकामनाएं भी दी गई। (नीचे भी पढ़ें)

गीता पाठ प्रतियोगिता के लिए छात्रों को चार समूहों अर्थात ग्रुप ए एलकेजी से प्रथम, ग्रुप बी कक्षा दूसरी से चौथी, ग्रुप सी कक्षा पांचवी से सातवीं और ग्रुप डी कक्षा आठवीं से 11वीं तक के के विद्यार्थी थे। प्रतियोगिता के दौरान विद्यालय समिति के चेयरमैन सुरेंद्र नाथ जी ने बच्चों की प्रशंसा कर उनके मनोबल को बढ़ाया। विजेताओं के नाम इस प्रकार है।
समूह अ : प्रथम-आदर्श मंडल, द्वितीय-मयंक आर्यन, तृतीय – तेजस्विनी
समूह ब : प्रथम-जिज्ञासा कुमारी, द्वितीय-समीक्षा शाह, तृतीय-पंकजा यादव।
समूह स :प्रथम-आकर्षण, द्वितीय-माहिम मुकद्दस, तृतीय-अनन्या मिश्रा।
समूह द :प्रथम-कल्याणी पांडे, रौनक राज, द्वितीय-के जतिन रेड्डी, तृतीय-अर्पिता मंडल तथा आकांक्षा पांडे एवं सिद्धि कुमारी को सांत्वना पुरस्कार दिया गया।

Must Read

Related Articles