Jamshedpur : जमशेदपुर वीमेंस कॉलेज में हुई एमबीए की इंडक्शन मीटिंग, प्राचार्या ने कहा-आपदा के इस दौर में ही प्रबंधन कौशल की होती है असली परीक्षा

Advertisement
Advertisement

Jamshedpur Womens College : Jamshedpur : वीमेंस कॉलेज में रविवार को एमबीए की नव नामांकित छात्राओं के साथ प्राचार्या प्रोफेसर (डॉ.) शुक्ला महांती ने ऑनलाइन इंडक्शन बैठक की। उन्होंने छात्राओं को कहा कि यह आपदा का समय है। आपदा के समय में ही प्रबंधन कौशल की असली परीक्षा होती है। यह भी एक तथ्य है कि स्त्रियों को मनोवैज्ञानिक स्तर पर पुरुषों की अपेक्षा अधिक व्यवस्थित एवं प्रबंधकीय क्षमता से युक्त माना जाता है। इसलिए आप छात्राओं का यह दायित्व है कि स्वयं को और अपने परिवेश को प्रबंधकीय हुनर से विकसित करने में सहयोग करें।

Advertisement
Advertisement
Advertisement

उन्होंने छात्राओं से कहा कि आपकी विधिवत कक्षाएं 29 सितम्बर से शुरू होंगी। रूटीन और अन्य जानकारी वेबसाइट पर उपलब्ध रहेगी। छात्राएं पढ़ाई के अलावा व्यक्तित्व विकास और कम्युनिकेशन स्किल बढ़ाने पर काम करें। इन्टर्नशाला और ई-लाइब्रेरी का उपयोग करें। भाषा पर ध्यान दें। यह प्रतिस्पर्धी समय है इसलिए खुद को विशेष रूप से दक्ष बनायें। उन्होंने नव नामांकित छात्राओं को बेहिचक अपनी समस्याएं उनसे साझा करने के लिए कहा। उन्होंने बताया कि एमबीए का पूरा पाठ्यक्रम स्तरीय और उच्च मानक का है और एआईसीटीई द्वारा मान्यता प्राप्त है। उन्होंने विशेष तौर पर उल्लेख किया कि यह गौरव की बात है कि एमबीए का पहला दिन एक अंतरराष्ट्रीय वेबिनार से शुरू हो रहा है। इस अवसर पर एमबीए विभाग की समन्वयक डॉ दीपा शरण, डॉ श्वेता प्रसाद, डॉ केया बनर्जी, सुमन कुमार तिवारी सहित सभी शिक्षक-शिक्षिकाएं ऑनलाइन जुड़ीं। तकनीकी समन्वयन का कार्य ज्योतिप्रकाश महांती ने किया।

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply