jamshedpur teacher : जमशेदपुर का यह शिक्षक बच्चों को अंग्रेजी में बना रहे सक्षम, जानें कौन है ये शिक्षक जो युवाओं की जीवनशैली में ला रहे बदलाव

राशिफल

जमशेदपुर : समय के साथ इस आधुनिक युग में जिस तरह से लोग अपने आप को तेजी से बदल रहे हैं, उसी तरह से भाषाओं में भी बदलाव देखा गया है. इस दौरान यदी हम अपनी दिनचर्या की बात करें तो भाषाएं आज हमारे लिए बहुत महत्वपूर्ण हो गई हैं क्योंकि इसी के आधार पर लोग यह तय कर सकते हैं कि आप कितने शिक्षित हैं और इसका मुख्य कारण अंग्रेजी भाषा है, जो वैश्विक भाषा के रूप में पूरे विश्व भर में बोलचाल के रूप में इस्तेमाल होने लगा है. एक तरह से अब यह हमारे जीवनशैली का हिस्सा बन चुका है. जमशेदपुर के अंग्रेजी शिक्षक ‘प्रदीप कुमार’ अपनी शैक्षणिक योग्यता से लोगों के बीच अपनी एक अलग छवि बना रहे हैं. जमशेदपुर के अधिकांश युवा उनकी ओर उम्मीद से देखते हैं और यह प्रदीप कुमार की शिक्षण तकनीकों के कारण ही है. प्रदीप कुमार ने एमए अंग्रेजी की डिग्री प्राप्त की है और अंग्रेजी भाषा के अपने गहरे ज्ञान के कारण जमशेदपुर में “मॉडर्न स्पोकन क्लासेस” लेने के लिए जाने जाते हैं. जिसे उन्होंने 2005 में शुरू किया था और 18 साल से लोगों को अंग्रेजी पढ़ा रहे हैं और आज उन्होंने खुद को एक अंग्रेजी शिक्षक के रूप में स्थापित किया है ताकि इस आधुनिक युग में हर कोई अंग्रेजी सीख सके. (नीचे भी पढ़ें)

शिक्षक प्रदीप कुमार मानते हैं कि अंग्रेजी भाषा आज के युग की सबसे शक्तिशाली भाषा है और आज देश के अधिकांश युवा अंग्रेजी सीखना चाहते हैं, यह एक कड़वा सच है कि हमारे देश भारत में हिंदी संस्कृति को छोड़कर लोग अंग्रेजी भाषा के पीछे भागते हैं, ऐसा इसलिए है क्योंकि अंग्रेजी एक वैश्विक भाषा है. यह सबसे ज्यादा बोली जाने वाली भाषा बन चुकी है और ज्यादातर बिजनेस भी अंग्रेजी भाषा में ही होती है. भारत में बेरोजगारी दर में कमी देखी गई है, इसका एक मुख्य कारण अंग्रेजी भाषा है. डिग्री प्राप्त छात्र नौकरी के लिए इधर-उधर भागते हैं, क्योंकि किसी कंपनी में अच्छे पद पर नौकरी तभी संभव है जब आप अंग्रेजी भाषा जानते हों, ऐसा अब हर क्षेत्र में होता देखा जा रहा है. अंग्रेजी के शिक्षक प्रदीप कुमार अपनी योग्यता और अनुभव के साथ अपने ज्ञान को हर वर्ग के लोगों तक पहुंचाना चाहते हैं, उन्होंने अब तक कई बड़ी हस्तियों जैसे आईपीएस अधिकारी, डॉक्टर, शिक्षक और विभिन्न क्षेत्रों के लोगों को अंग्रेजी सिखाई है.

Must Read

Related Articles