spot_img

Kashi-Sahu-College-Saraikela : कोल्हान विश्वविद्यालय के लिखित आश्वासन के बाद काशी साहू कॉलेज के छात्रों का अनशन समाप्त, कॉलेज में अगले सत्र से शुरू होगी साइंस और भूगोल में पीजी की पढ़ाई

राशिफल

सरायकेला : सरायकेला के काशी साहू कॉलेज में एमए की पढ़ाई की मांग को लेकर आमरण अनशन पर बैठे छात्रों की मांग गुरुवार देर शाम तीसरे दिन विश्वविद्यालय प्रशासन ने मानते हुए अगले सत्र से विज्ञान एवं भूगोल विषय की पढ़ाई शुरू करने का लिखित आश्वासन दिया है. इस आशय की चिट्ठी कोल्हान विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. गंगाधर पंडा ने छात्रों के नाम प्रेषित किया है. जिसके बाद छात्रों ने आमरण अनशन समाप्त करने की घोषणा की. वहीं आंदोलनरत छात्रों को सरायकेला एसडीओ, बीडीओ, सीओ कॉलेज के प्राचार्य, भाजपा जिलाध्यक्ष, सरायकेला नगर पंचायत के उपाध्यक्ष आदि ने जूस पिलाकर अनशन समाप्त कराया. (नीचे भी पढ़ें)

बता दें कि गुरुवार का दिन आंदोलन कर रहे छात्रों के लिए बेहद ही अहम दिन रहा. लगातार दो दिनों से आमरण अनशन पर बैठे छात्रों की हौसला अफजाई करने गुरुवार सुबह भारतीय जनता पार्टी के नेता पहुंचे और उन्हें अपना नैतिक समर्थन देते हुए उनके आंदोलन को हर संभव सहयोग देने का भरोसा दिलाया. इधर देर शाम छात्र रविंद्र महतो की अचानक तबीयत बिगड़ गई. जिसे समय पर एंबुलेंस नहीं मिलने से छात्र आक्रोशित हो उठे और बीमार छात्र को कंधे पर टांग कर सदर अस्पताल पहुंचाया. (नीचे भी पढ़ें)

उसके बाद छात्रों ने सिविल सर्जन पर दुर्व्यवहार का आरोप लगाते हुए सरायकेला- टाटा मार्ग को जाम कर दिया. जिससे करीब एक घंटे तक उक्त मार्ग पर आवागमन बाधित रहा. बता दें कि सड़क जाम में जिला जज और उपायुक्त भी घंटों फंसे रहे. गनीमत रही कि बीमार छात्र की तबीयत में समय रहते सुधार हो गया. उसकी स्थिति नियंत्रण में देख एसडीओ रामकृष्ण कुमार ने मोर्चा संभाला और आंदोलनरत छात्रों को समझा- बुझाकर जाम हटवाया. इधर देर शाम विश्वविद्यालय के कुलपति ने छात्रों की मांग मानते हुए अगले सत्र से एमए में भूगोल एवं विज्ञान विषय की पढ़ाई शुरू करने का लिखित आश्वासन दिया. जिसके बाद छात्रों ने अपना आंदोलन समाप्त कर लिया. वहीं एसडीओ रामकृष्ण कुमार ने छात्रों को शुभकामनाएं देते हुए उन्हें अनशन समाप्त करने के लिए धन्यवाद दिया. उधर अनशन समाप्ति के बाद छात्र नेता प्रकाश महतो ने कहा अब सरायकेला के छात्रों को उच्च शिक्षा के लिए दूसरे जिलों का रुख नहीं करना पड़ेगा, यदि विश्वविद्यालय प्रशासन छात्रों के साथ वादाखिलाफी करती है तो यह इतिहास फिर से दोहराया जाएगा.

WhatsApp Image 2022-04-29 at 12.21.12 PM
WhatsApp-Image-2022-03-29-at-6.49.43-PM-1
Shiv Yog Physiotherapy And Yoga Classes
[adsforwp id="129451"]

Must Read

Related Articles

Don`t copy text!