srinath university pays tribute to netaji : श्रीनाथ विश्वविद्यालय में जयंती पर याद किए गए नेताजी सुभाष चंद्र बोस, छात्र-छात्राओं ने नेताजी के पदचिह्नों पर चलने का लिया संकल्प

राशिफल

जमशेदपुर : सरायकेला के आदित्यपुर स्थित श्रीनाथ विश्वविद्यालय में नेताजी की जयंती मनायी गयी. समारोह का आरंभ दीप प्रज्वलन तथा नेताजी के तस्वीर पर पुष्प अर्पित कर किया गया. इस अवसर पर छात्र-छात्राओं द्वारा नेताजी के जीवन वृत्त पर प्रकाश डाला गया और छात्राओं के द्वारा कविता वाचन भी हुआ. जिसमें छात्र-छात्राओं को नेताजी के पदचिह्नों पर चलने का संकल्प दिलाया गया. इस अवसर पर श्रीनाथ विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ गोविंद महतो ने कहा कि हमारा देश सोने की चिड़िया रहा है और यही वजह है की बार-बार इसे आक्रमणकारियों के द्वारा लूटा गया है. भारत पर आक्रमण की एक लंबी श्रृंखला रही है. इस दौरान कई सपूत हुए हैं जिन्होंने अपने जीवन को देश के लिए समर्पित कर दिया. उन्हीं देशभक्तों में नेताजी सुभाषचंद्र बोस का नाम अग्रणी है. डॉ गोविंद महतो ने यह भी कहा कि नेताजी में अद्भुत नेतृत्व क्षमता थी जिनके पीछे प्रत्येक भारतीय चल पड़ा था. सहायक प्राध्यापक रचना रश्मि ने अपने संबोधन में कहा कि आज युवाओं का नेताजी के पद चिन्हों पर चलना अत्यंत आवश्यक है क्योंकि आज देश का कुछ युवा कहीं न कहीं अपने अपने लक्ष्य से भटक गया है और वह कुछ गलत आदतों के गिरफ्त में चला गया है. (नीचे भी पढ़ें)

उन्होंने कहा कि भारत में आज अंग्रेजों का गुलाम नहीं है फिर भी हम अपनी आदत के गुलाम है तो इसका अर्थ है कि हम आज भी गुलामी का दंश झेल रहे हैं और हमें उस गुलामी से जितना जल्द हो सके मुक्त होना चाहिए, तभी एक उन्नत भारत का निर्माण होगा. साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि युवाओं के लिए यह जरूरी नहीं है कि वे देश की सेवा के लिए सीमा पर जाकर ही अपनी सेवा दे, युवा जहां हैं वहां से भी देश की प्रगति के लिए कुछ कर सकते हैं. कार्यक्रम का संचालन छात्र पूर्णेंदु पुष्कर ने किया तथा धन्यवाद ज्ञापन छात्रा इशिता ने किया.

Must Read

Related Articles