spot_img
मंगलवार, मई 18, 2021
spot_imgspot_img
spot_img

Webinar-on-breastfeeding-in-jamshedpur-womens-college : जमशेदपुर वीमेंस कॉलेज में हुआ विश्व स्तनपान सप्ताह पर वेबिनार, वक्ताओं ने कहा-मां के दूध या उससे शिशु में कोरोना संक्रमण नहीं

Advertisement
Advertisement

जमशेदपुर : बिष्टुपुर स्थित जमशेदपुर वीमेंस कॉलेज में शनिवार कोविश्व स्तनपान सप्ताह का शुभारंभ गूगल मीट ऐप्लीकेशन के मार्फत वेबिनार से हुआ। वेबिनार का उद्घाटन करते हुए प्राचार्या प्रो डॉ शुक्ला महांती ने कहा कि माँ का दूध शिशु के लिए रक्षा कवच के समान है। यह शिशु के प्रतिरक्षा तंत्र को मजबूत बनाता है। यह पौष्टिक, सुपाच्य, स्वास्थ्यवर्धक और सर्वतः उपयोगी होता है। यह सामाजिक दायित्व है कि माताओं और भविष्य की माताओं में स्तनपान को लेकर पूरी जागरूकता हो। वेबिनार में मुख्य वक्ता एमजीएम काॅलेज की एनॉटामी विभाग की प्राध्यापक डॉ विनीता सहाय ने कहा कि स्तनपान कराने से शिशु सहित मां को भी स्वास्थ्यगत लाभ होते हैं। मां का वजन नियंत्रित होता है, गर्भाशय पूर्व अवस्था में लौटता है और स्तन में संक्रमण का खतरा नहीं रहता। माताओं को लेटकर स्तनपान नहीं कराना चाहिए। एक प्रश्न के जवाब में उन्होंने कहा कि स्तनपान छुड़ाने वाली दवा का इस्तेमाल यदि बहुत जरूरी हो तभी करना चाहिए लेकिन शिशु की आयु दो वर्ष से कम न हो। दूसरी वक्ता गुड़गांव के मेदांता अस्पताल में पेडियाट्रिक हिमैटोओंकोलॉजी व बोनमैरो ट्रांसप्लांट विभाग की फेलो डॉ उपासना अय्यर ने पीपीटी के माध्यम से स्तनपान के फायदों पर रोशनी डाली। उन्होंने बताया कि अभी तक कहीं भी मां के दूध में कोविड-19 के संक्रमण या उस दूध से शिशु में संक्रमण नहीं देखा गया है। यह सुरक्षित है। इसलिए कोरोना संक्रमित मां भी शिशु को बिना भय के दूध पिला सकती है। यह शिशु में एंटीबॉडी ट्रांसफर करके उसकी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है। यदि माता को गंभीर स्वास्थ्य समस्या है तो वह कटोरी चम्मच के माध्यम से शिशु को अपना दूध पिला सकती है। साबुन से हाथ धोना, मास्क पहनना और किसी भी सतह को छूने से पहले विसंक्रमित करना- इन तीन उपायों से स्वस्थ स्तनपान कराया जाना चाहिए। गृह विज्ञान विभाग की शिक्षिका डॉ डी पुष्पलता ने कहा कि पूरे सप्ताह क्विज, स्लोगन, भाषण व अन्य गतिविधियां आयोजित होंगी। धन्यवाद ज्ञापन आयोजन सचिव गृह विज्ञान विभाग की अध्यक्ष व सीएनडी विभाग की समन्वयक डॉ रमा सुब्रमण्यम ने दिया। वेबिनार के दौरान शिक्षिका संचिता गुहा सहित 150 प्रतिभागियों ने ऑनलाइन शिरकत की। तकनीकी समन्वयन के. प्रभाकर ने किया।

Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

spot_imgspot_img

Must Read

Related Articles

Don`t copy text!