spot_img
गुरूवार, जून 17, 2021
spot_imgspot_img
spot_img

tmh-alerts-जमशेदपुर में कोरोना अपने सर्वाधिक स्तर पर, हालात काफी खराब, अब फेफड़े के जकड़न के बढ़े केस, टीएमएच में वेंटिलेटर बढ़ायी गयी, कई और नयी दवाइयों का इस्तेमाल शुरू, गैर कोरोना के इमरजेंसी मरीजों का-tmh-टीएमएच में हो रहा इलाज, जनता से अपील-appeal-जो मरीज कोरोना को मात दे चुके है, वे डोनेट करें प्लाज्मा, पुण्य के भागी बनेंगे, जिंदगी बचा सकते है आप-जानें कौन और कैसे कर सकता है-plazma-प्लाज्मा डोनेट-फोन नंबर जानें

Advertisement
Advertisement
टीएमएच के जीएम डॉ राजन चौधरी.

जमशेदपुर : जमशेदपुर में कोरोना को लेकर हालात काफी बेकाबू हो रहा है. सर्वाधिक स्तर यानी पीक पर कोरोना का स्तर पर पहुंच रहा है. हालात यह है कि अधिकांश मरीजों का फेफड़े में जकड़न की शिकायतें बढ़ रही है. फेफड़े (लंग्स) के दोनों हिस्से ही प्रभावित हो रहे है, जिस कारण मौतें बढ़ रही है. बिना किसी बीमारियों वाले लोगों की भी मौत हो रही है जबकि कम उम्र के लोगों की भी मौत हो रही है. स्थिति डरावना है, लेकिन हकीकत यहीं है और अब लोगों को सचेत और ज्यादा रहना होगा. भीड़ में नहीं जाना चाहिए, बिना मास्क के नहीं निकलना चाहिए, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें, हाथ धोते रहे. यह कहना है टाटा स्टील के मेडिकल सर्विसेज (टीएमएच) के जीएम डॉ राजन चौधरी का. डॉ राजन चौधरी शनिवार को ऑनलाइन संवाददाता सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे. उनके साथ टाटा स्टील के चीफ कारपोरेट कम्यूनिकेशन कुलविन सुरी और हेड रुना राजीव कुमार भी मौजूद थे. जीएम ने कहा कि जरा सी लापरवाही से ही लोग कोरोना पोजिटिव हो जा रहे है. कई लोग शादी, सगाई, बर्थडे मनाने जा रहे है, जहां से कोरोना लेकर आ जा रहे है. यह खतरनाक संकेत है. जरा सी लापरवाही आपकी जान ले सकता है, यह भूलना नहीं चाहिए.

Advertisement
Advertisement
जानें कौन कर सकता है कोरोना मरीजों के लिए प्लाज्मा का डोनेशन.

टीएमएच में रिकवरी रेट भी पहले से बेहतर, लेकिन केस बढ़ने से हालात बेकाबू, पोजिटिविटी रेट भी बेहतर
जीएम मेडिकल सर्विसेज ने बताया कि अब तक टीएमएच में 1455 कोरोना पोजिटिव केस अब तक आये है, जिसमें से 920 ठीक होकर घर गये है. इस तरह टीएमएच में रिकवरी रेट 63 फीसदी है. अगर जमशेदपुर की बात की जाये तो जमशेदपुर में कुल 1311 मरीज आये थे, जिसमें से 816 डिस्चार्ज होकर गये है यानी रिकवरी रेट 62.2 फीसदी हो चुकी है. वैसे जमशेदपुर में अब तक 670 मौतें हो चुकी है जबकि टीएमएच में कुल 68 मौतें हो चुकी है. जीएम डॉ राजन चौधरी ने बताया कि टीएमएच की ओर से अब तक कुल 17,155 आरटीपीसीआर टेस्ट कराया जा चुका है, जिसमें से 2466 केस पोजिटिव आये है. जहां तक पोजिटिविटी रेट की बात है तो 7.89 फीसदी पोजिटिविटी रेट है.

Advertisement

अभी हालात और खराब हो सकते है, नयी दवाओं का शुरू होगा इस्तेमाल
टाटा स्टील के मेडिकल सर्विसेज के जीएम डॉ राजन चौधरी ने बताया कि अभी हालात और खराब हो सकते है. पहले ए सिप्टोमैटिक केस आते थे. लेकिन अब मरीज ऐसे आ रहे है, जिनका लंग्स (फेफड़ा) के दोनों हिस्से में जकड़न हो जाती है, जिससे सांस लेने में दिक्कतें हो जाती है, जिससे लोग सांस नहीं ले पाते है. इसको देखते हुए नयी दवाइयों का इस्तेमाल की भी शुरुआत की जा रही है. अभी काफी पीक पर कोरोना चल रहा है. हाल ही में आइसीएमआर की मंजूरी के बाद रेमडेसिविर ( Remdesivir ) और फैविपिरावीर (Favipiravir) नामक दो दवाओं का इस्तेमाल क्रिटिकल केस के लिए शुरू किया गया था, लेकिन अब एक और दवा का इस्तेमाल शुरू किया जा रहा है, जो टोसिलिजुमाब (Tocilizumab) नाम की दवा है. इसको उपलब्ध कराने की डिमांड की गयी है. इसके अलावा जो माइल्ड केस है यानी जिनमें कोरोना के कम लक्षण दिखायी दे रहे है, ऐसे लोगों के लिए दो दवाओं आइवीरमेसटिन (Ivermectin) और डोक्सीसाइक्लिन (Doxycycline) का इस्तेमाल शुरू करने जा रही है.

Advertisement
कौन कर सकता है कोरोना के मरीजों केे लिए प्लाज्मा का डोनेशन.

जमशेदपुर में प्लाज्मा थेरेपी की शुरुआत से होगा लाभ, कोरोना पोजिटिव लोग डोनेट करें
जमशेदपुर के टीएमएच में प्लाज्मा थेरेपी से भी कोरोना पोजिटिव मरीजों का इलाज शुरू किया गया है. इसके तहत जो लोग कोरोना को मात देकर ठीक हो चुके है या उनमें एंटी बॉडी विकसित है, वे लोग प्लाज्मा डोनेट कर सकते है. जमशेदपुर ब्लड बैंक में कोरोना को मात दे चुके लोग अपना प्लाज्मा डोनेट कर सकते है, जिसके लिए 24 घंटे के लिए फोन नंबर जारी किया गया है. 0657-6641125 और 0657-6641099 पर लोग संपर्क कर अपना प्लाज्मा डोनेट कर सकते है. जीएम डॉ राजन चौधरी ने बताया कि यह डोनेट ही किया जा सकता है, जिससे कोरोना के पीड़ित मरीज ठीक हो सकते है. जो लोग ठीक हो चुके है, वे लोग प्लाज्मा का डोनेशन कर एक व्यक्ति की जिंदगी बचा सकते है.

Advertisement

गैर कोरोना पीड़ितों का भी हो रहा है इलाज, टिनप्लेट समेत कई नयी व्यवस्था शुरू
टाटा स्टील के मेडिकल सर्विसेज के जीएम डॉ राजन चौधरी ने बताया कि गैर कोरोना पीड़ितों का भी इलाज टीएमएच में हो रहा है. अभी सिर्फ इमरजेंसी सेवाओं को ही लिया जा रहा है क्योंकि कोरोना के कारण बेड की कमी जरूर है. वैसे कोरोना को लेकर टिनप्लेट अस्पताल में 60 बेड और जमशेदपुर आइ अस्पताल में 35 बेड का इलाज शुरू किया गया है. इसके अलावा बिष्टुपुर स्थित होटल सोनेट में भी इलाज किया जा रहा है. जहां तक डॉक्टर्स व हेल्थ वर्कर की बात है तो उनकी संख्या को लेकर ही सारी प्लानिंग की जा रही है. जीएम डॉ राजन चौधरी ने बताया कि टीएमएच में क्रिटिकल केयर की स्थिति पर नजर रखते हुए नये वेंटिलेटर भी जोड़े जा रहे है. इसमें 25 वेंटिलेटर नन कोरोना यानी बिना कोरोना वाले मरीजों के लिए रखा गया है जबकि करीब 65 वेंटिलेटर अभी कोरोना के मरीजों के लिए रखा गया है, जिसकी संख्या में इजाफा किया जा रहा है, जिसको 80 तक किया जा सकता है, जिसके लिए काम चल रहा है. जीएम ने बताया कि अभी टीएमएच द्वारा कुल 890 बेड कोरोना को लेकर रखा गया है जबकि 500 बेड बिना कोरोना वाले मरीजों के लिए रखा गया है, जिसमें टीएमएच के अलावा जीटी हॉस्टल 1, 3 और 4 के साथ टिनप्लेट, जमशेदपुर आइ अस्पताल और होटल सोनेट शामिल है.

Advertisement

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

spot_imgspot_img

Must Read

Related Articles

Don`t copy text!