sushant-singh-rajput-murder-case-jamshedpur-connection-सुशांत सिंह राजपूत हत्या का जमशेदपुर कनेक्शन-जमशेदपुर में ही दी जा रही थी सुशांत को ”धीमा जहर”, दिल बेचारा की जमशेदपुर में चल रही ”शूटिंग” में ही चालू हो गया था रिया का ”काला जादू”, आखिर क्यों सुशांत को अपना इलाज कराने शूटिंग के दौरान जाना पड़ा था ”टीएमएच”, रांची के ड्राइवर ने बिहार पुलिस को दी कुछ जानकारी, जमशेदपुर में शूटिंग के दौरान का एक मार्मिक वीडियो निर्देशक ने जारी की, सुशांत कर रहे है साकची की सड़कों पर मस्ती, देखिये-video

Advertisement
Advertisement

दिल बेचारा की जमशेदपुर में चल रही शूटिंग का दृष्य.

जमशेदपुर : सिने स्टार सुशांत सिंह राजपूत की हत्या की गुत्थी उलझती जा रही है. इस मामले की जांच जहां महाराष्ट्र की पुलिस कर रही है तो बिहार की पुलिस भी इस मामले की जांच कर रही है. सिने स्टार सुशांत सिंह राजपूत की हत्या के मामले में हर दिन नया मोड़ आ रहा है. इस मामले में अब जमशेदपुर कनेक्शन भी जुड़ गया है. जमशेदपुर में ही सिने स्टार सुशांत सिंह राजपूत को धीमा जहर देने की शुरुआत कर दी गयी थी. बताया जाता है कि वह जमशेदपुर में दिल बेचारा की शूटिंग के दौरान करीब 20 दिनों तक जमशेदपुर में ही रहे थे. 2018 मई का वक्त था. तब तक रिया चक्रवर्ती सुशांत सिंह राजपूत की जिंदगी में आ गयी थी. जमशेदपुर में जब सुशांत सिंह राजपूत शूटिंग कर रहे थे, तब भी रिया का काला जादू चल रहा था. बताया जाता है कि उनको हाथ में एक ताबिज की तरह का कुछ चीज दिया गया था, जिसको विशेष तौर पर लाकर जमशेदपुर के बिष्टुपुर स्थित होटल सोनेट में उनके ड्राइवर द्वारा दिया गया था, जिसको विशेष तौर पर साथ में लेकर खुद सुशांत सिंह राजपूत लेकर चलते थे. अक्सर उसको अपने साथ रखा करते थे. रांची की एक गाड़ी को सुशांत सिंह राजपूत को दिया गया था, जिसका इस्तेमाल वे करते थे और रांची का ही एक ड्राइवर उनकी गाड़ी को चलाया करता था.

Advertisement
Advertisement
टीएमएच में जब आये थे सुशांत तब की लगी भीड़ की तस्वीर.

रांची के एक ड्राइवर ने बिहार पुलिस को जानकारी दी है कि एक बार वह उक्त ताबिज की तरह की चीज जरूर बिष्टुपुर स्थित होटल सोनेट से लेकर कदमा सोनारी लिंक रोड, जहां शूटिंग हो रही थी वहां पहुंचाने के लिए गये थे, जिसको अक्सर साहब यानी सुशांत सिंह राजपूत अपना साथ रखते थे. वैसे यह भी बिहार पुलिस को जानकारी मिली है कि जमशेदपुर में जब शूटिंग चल रही थी, तब भी सुशांत सिंह राजपूत के पिता और बहन समेत परिवार के लोग मिलने के लिए जमशेदपुर आना चाहते थे, लेकिन उस वक्त तक रिया ने सुशांत को परिवार से दूर कर दिया था और खुद सुशांत ने ही आने से अपने पिता और बहनों को रोक दिया था. सुशांत की मौत का रहस्य खोज रही बिहार पुलिस को यह भी जानकारी मिली है कि सुशांत सिंह राजपूत जमशेदपुर में शूटिंग के दौरान एक बार इलाज कराने के लिए टाटा मुख्य अस्पताल (टीएमएच) गये थे. बिष्टुपुर स्थित होटल सोनेट से शाम को करीब 6 बजे के बाद अचानक से टीएमएच गये थे. टीएमएच प्राइम में वे अपना इलाक कराने के लिए गये थे. उन्होंने टीएमएच के ओपीडी में चलने वाले प्राइम में कमरा नंबर 227 में दंत चिकित्सक डॉ रामाशंकर से मुलाकात की थी जबकि एक और डॉक्टर से भी मिले थे. करीब आधे घंटे तक वे टीएमएच के ओपीडी में रहे. इस दरौन सुरक्षाकर्मियों को वहां भी काफी मशक्कत करनी पड़ी थी जबकि लोग भी दंग रह गये थे. हालांकि, अब तक की जांच में कुछ भी सामने नहीं आया है, लेकिन यह बातें तय हो चुकी है कि कहीं न कहीं रिया चक्रवर्ती और उनके गैंग के लोगों ने ही सुशांत को मौत के मुंह तक पहुंचाया है और उनकी करोड़ों की संपत्ति हड़प ली है.

Advertisement
Advertisement
Advertisement
साभार. वीडियो जो फिल्म निर्देशक ने शेयर की है.

दिल बेचारा के निर्देशक ने भावुक पोस्ट किया, शूटिंग के दौरान सुशांत की साकची में दिखी मस्ती
दिल बेचारा के निर्देशक ने अपने इंस्टाग्राम पर भावुक पोस्ट किया है. इसमें उन्होंने दिल बेचारी की शूटिंग के दौरान साकची में किस तरह की मस्ती की गयी है, यह दिखाया गया है. उन्होंने अपने भावुक पोस्ट में कहा है कि सुशांत को था कहना काफी कष्टकारी काम है.

Advertisement

सुशांत सिंह मामले की जांच को मुंबई पहुंचे एसपी को किया क्वारंटाइन
सुशांत सिंह आत्महत्या मामले में जब से बिहार पुलिस मुंबई पहुंची है तब से हर रोज कुछ ना कुछ नया ड्रामा देखने को मिल रहा है. मामले में दोनों राज्यों की पुलिस अब आमने सामने दिख रही हैं. इस जांच टीम की नेतृत्व करने मुंबई पहुंचे पटना के एसपी विनय तिवारी को मुंबई में जबरन क्वारंटानइ कर दिया गया है. उनके हाथ पर क्वारंटाइन का मुहर लगाते हुए अगले आदेश तक घर में ही को कहा गया है. इस घटना के बाद आरोप-प्रत्यारोप का दौर भी शुरू हो गया है. लोगों का कहना है कि एसपी को सिर्फ इस लिए क्वारंटाइन किया गया है कि जांच के लिए वह किसी मिले नहीं, जिससे इस मामले को और उलझाया जा सके. एसपी के क्वारंटाइन करने के बाद बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय भी कडे तेवर में दिख रहे हैं. बिहार डीजीपी ने ट्वीट कर पूरे मामले की जांनकारी दिए और कहा कि इस मामले को लेकर मैं जल्द महाराष्ट्र डीजीपी से बात करूंगा. उन्होंने कहा कि एसपी विनय तिवारी स्पेशल ड्यूटी पर मुंबई गए हैं, इसलिए उन्हें क्वारंटाइन नहीं किया जाना चाहिए. वहीं मुंबई बीएमसी ने इस मामले पर अपना अलग ही सफाई दे रही है. अधिकारियों का कहना है कि सरकारी आदेशों को पालन करते हुए एसपी को क्वारंटाइन किया गया है.

Advertisement

Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement