spot_imgspot_img
spot_img

jamshedpur-mother-teresa-trust-case-टेल्को के मदर टेरेसा वेलफेयर ट्रस्ट की जांच में नया खुलासा, होस्टल की बच्चियों का इस्तेमाल कर झूठा केस दर्ज करवाकर लोगो को फंसाने की भी बात आई सामने-video-संचालक हरपाल, पुष्पा रानी, वार्डन और आदित्य सिंह को भेजा जेल, टोनी की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी जारी


जमशेदपुर:जमशेदपुर के टेल्को स्थित मदर टेरेसा वेलफेयर ट्रस्ट के संचालक हरपाल सिंह थापर और सीडब्ल्यूसी की अध्यक्ष पुष्पा रानी तिर्की के अलावा ट्रस्ट की वार्डन गीता देवी और उसके बेटे आदित्य सिंह को पुलिस बुधवार सुबह छह बजे शहर लेकर पहुंची. इनके साथ वार्डन गीता देवी की बेटी भी शामिल थी. सभी को बिरसानगर थाने में रखा गया था. सभी से पूछताछ करने के बाद पुलिस ने सभी को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया. इस मामले में जानकारी देते हुए सिटी एसपी सुभाष चंद्र जाट ने बताया कि सभी के खिलाफ मामला दर्ज होने के दूसरे दिन ही सभी मध्यप्रदेश के सिंगरौली चले गए थे. यहां हरपाल सिंह के परिजन रहते है. सभी अपना लोकेशन बदल रहे थे. एएसपी कुमार गौरव के नेतृत्व में एक टीम का गठन कर छापेमारी की गई. सभी को मध्यप्रदेश के सिंगरौली से गिरफ्तार किया गया था. उन्होंने बताया कि प्रारंभिक जांच में यह बात भी सामने आई है कि इनके द्वारा ट्रस्ट के फंड का गलत इस्तेमाल किया जाता था. ट्रस्ट के बैंक खाते को फ्रीज कर आगे की जांच की जा रही है. बच्चियों का इस्तेमाल कर भोले भाले लोगों को फसाने का इस्तेमाल करने के मामले में उन्होंने बताया कि मानगो में एक मामले में नाबालिग पीड़िता द्वारा मामला दर्ज कराया गया था, बाद में डीएसपी हेडक्वार्टर 1 द्वारा बच्ची से पूछताछ करने पर बच्ची ने बताया था कि सीडब्ल्यूसी द्वारा उसे बयान देने के लिए कहा गया था.

WhatsApp Image 2022-05-24 at 7.01.03 PM
WhatsApp Image 2022-05-24 at 7.01.03 PM (1)
previous arrow
next arrow

इस मामले के बाद ट्रस्ट द्वारा बच्चियों का इस्तेमाल कर लोगों को फंसाने के मामले में अनुसंधान किया जा रहा है. वहीं बीते दिनों ही पश्चिमी घोड़ाबांधा पंचायत के वार्ड सदस्य पर बच्ची द्वारा दुष्कर्म का आरोप लगाया गया था. इस मामले में भी परिजनों ने सीडब्ल्यूसी द्वारा फंसाने का आरोप लगाया गया था. पुलिस इस मामले में भी जांच कर रही है. बता दे कि बीते दिनों ट्रस्ट से दो नाबालिग फरार हो गई थी. पुलिस ने दोनों को बिरसानगर जोन नंबर दो से बरामद किया था. दोनो ने पुलिस को बताया था कि ट्रस्ट के संचालक हरपाल सिंह थापर उसके साथ यौन शोषण करते थे. पहनने को कपड़े नही देते थे. वार्डन गीता देवी से शिकायत करने पर कोई कार्रवाई नहीं होती थी जिस कारण वे दोनो भाग गई. इस मामले में हरपाल सिंह, सोनी केविड, गीता देवी, सीडब्ल्यूसी की अध्यक्ष पुष्पा तिर्की और आदित्य सिंह पर छेड़खानी और अश्लील हरकत करने का आरोप लगाया था. इधर एनसीपीसीआर ने मामले को संज्ञान में लिया और जिले के उपायुक्त को सात दिनों में जांच रिपोर्ट सौंपने को कहा था. इस मामले में यह भी बात सामने आई थी कि ट्रस्ट के लिए जो सरकारी सहयोग आता था उसे हरपाल सिंह अपने खाते में ट्रांसफर कर लेता था.

[metaslider id=15963 cssclass=””]

WhatsApp Image 2022-04-29 at 12.21.12 PM
WhatsApp-Image-2022-03-29-at-6.49.43-PM-1
Shiv Yog Physiotherapy And Yoga Classes

Leave a Reply

spot_img

Must Read

Related Articles

Don`t copy text!